प्रेमी के साथ अय्याशी करने के लिए महिला ने पति को खिलाई नींद की गोलियां, पति की मौत, दो गिरफतार

देहरादून। राजधानी में प्रेमी के प्यार में अंधी पत्नी ने अपने पति को नींद की गोली की ओवरडोज खिलाकर हत्या कर दी। इस वारदात में प्रेमी ने भी पूरी भूमिका निभाई। रायपुर पुलिस ने सर्विलांस की मदद से 24 घण्टे में वारदात का खुलासा कर प्रेमी समेत पत्नी को गिरफ्तार किया है।

रायपुर थानाध्यक्ष दिलवर सिंह नेगी ने बताया कि 28 मई को अस्पताल के माध्यम से एक ब्रॉड डेथ मेमो मृतक पंकज भट्ट पुत्र दिनेश भट्ट निवासी राज राजेश्वरी एनक्लेव नथुवाला उम्र 43 वर्ष का प्राप्त हुआ। उक्त डेथ मेमो की जांच में चौकी प्रभारी बालावाला जगमोहन सिंह राणा अस्पताल पहुंचे एवं अस्पताल में जाकर पंचायत नामा पोस्टमार्टम की कार्रवाई की गई।

उक्त प्रकरण के सम्बंध में 29 मई को मृतक की मां पुष्पा भटट पत्नी स्वर्गीय दिनेश चंद्र भट्ट निवासी राजराजेश्वरी एनक्लेव थाना रायपुर जनपद देहरादून की तहरीर पर धारा 302/120ड्ढ के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। उक्त घटना के संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून द्वारा पुलिस अधीक्षक नगर के निर्देशन में एवं क्षेत्राधिकारी के पर्यवेक्षण में थाना स्तर पर टीम गठित कर मुकदमें के सफल अनावरण हेतु निर्देशित किया।

मुकदमे की विवेचना थानाध्यक्ष दिलबर सिंह नेगी द्वारा प्रारम्भ की गई। सर्वप्रथम घटनास्थल का निरीक्षण किया गया एवं घटनास्थल पर जाकर मुकदमे की वादिनी पुष्पा भट्ट से पूछताछ की गई। वादिनी पुष्पा भट्ट द्वारा बताया गया कि उसका बड़ा बेटा पंकज अपनी पत्नी विजयलक्ष्मी एवं 4 वर्ष की बेटी आज्ञा के साथ इसी घर के निचले फ्लोर पर रहता था। छोटा बेटा पारस अपनी पत्नी एवं मां (मेरे साथ) ऊपर वाले फ्लोर पर रहता है। पंकज भट्ट की शादी वर्ष 2006 में हुई थी लेकिन शादी के बाद से ही विजयलक्ष्मी एवं पंकज में आपसी झगड़े होते रहते थे।

सास ने बताया कि विजयलक्ष्मी उर्फ विजया का किसी दीपक नाम के लडक़े के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। पंकज भट्ट ने अपनी पत्नी के पास दो मोबाइल भी पकड़े थे जिनमें उस लडक़े के साथ इसकी कई फोटो थी। मृतक की मां पुष्पा ने बताया कि उसके बेटे पंकज की पत्नी विजयलक्ष्मी ने ही अपने प्रेमी दीपक के साथ मिलकर इसको कुछ खिलाया है। मृतक की पत्नी विजयलक्ष्मी से उनके घर पर जाकर पूछताछ की गई प्रथम दृष्टया पूछताछ में उसने आरोपों से इनकार किया।

घर पर बताया कि घटना के दिन रात को अचानक 1:00 बजे पति को देखा तो वह बेहोश पड़े हुए थे, जिसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मृत्यु हो गई। मृतक की पत्नी के बयानों में विरोधाभास नजर आया। पुलिस टीम द्वारा विवेचना करते हुए तुरंत मृतक की पत्नी एवं उसके प्रेमी की कॉल डिटेल रिकॉर्ड मंगवाई गई। कॉल डिटेल रिकॉर्ड का अवलोकन किया।

पुलिस टीम द्वारा 29 मई रात्रि में ही तुरंत पूछताछ के लिए दीपक पुत्र राम चंद्र निवासी आम वाला तरला थाना रायपुर को पूछताछ हेतु थाने पर लाया गया। थाने पर दीपक से पूछताछ की गई। दीपक पुत्र रामचंद्र निवासी आमवाला तरला नियर शांति विहार चौक थाना रायपुर उम्र करीब 25 वर्ष से थाना रायपुर पर गहनता से पूछताछ की गई जिस ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल किया।

दीपक ने पूछताछ में बताया कि उसका एवं विजयलक्ष्मी का वर्ष 2018 से मिलना जुलना है एवं वह जिम ट्रेनर है जहां 2018 में ही उसकी मुलाकात विजय लक्ष्मी से बॉडी टेंपल जिम में हुई थी तभी से दोनों की दोस्ती हो गई थी एवं कुछ दिनों पहले ही विजयलक्ष्मी ने दीपक को बताया कि उसके पति को उनके अफेयर के बारे में पता चल गया है विजयलक्ष्मी दीपक से बार बार मिलना चाहती थी विजयलक्ष्मी ने दीपक को कहा कि मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूं एवं इस पर विजयलक्ष्मी ने कहा कि तुम मेरे घर आ आया करो।

पुलिस के अनुसार 26 मई को दीपक का जन्मदिन था। विजयलक्ष्मी ने दीपक से नींद की गोली मंगवाई। दीपक ने अपने दोस्त के माध्यम से नींद की गोली लेकर विजयलक्ष्मी को दी। दीपक अपने दोस्तों के साथ अपने जन्म दिन में बिजी होने के कारण 26 तारीख को विजयलक्ष्मी के घर नहीं जा पाया।

27 मई को रात्रि में विजयलक्ष्मी ने योजनानुसार दीपक से बात कर अपने पति को अत्यधिक नींद की गोली खिला दी। उसके बाद दीपक उसके घर आया 1 घंटे साथ रहे एवं उसके बाद दीपक वापस अपने घर आ गया। रात्रि में विजय लक्ष्मी के पति पंकज भट्ट की अत्यधिक नींद की गोली खिलाने के कारण मृत्यु हो गई। जिस बात को विजया ने अपने घर वालो से छुपाई थी।

हत्या के बाद प्रेमी के साथ 26 बार हुई बात

विजयलक्ष्मी एवं दीपक की कॉल डिटेल रिकॉर्ड खगाली गई तो घटना की रात में 26 कॉल एक दूसरे को की हुई है। काल डिटेल के अनुसार भी दीपक रात्रि 11:00 बजे से 12:30 बजे तक बजे तक विजयलक्ष्मी के घर पर मौजूद रहा। मुकदमा उपरोक्त की गहनता से विवेचना करने एवं सीडीआर अवलोकन करने पूछताछ करने एवं पुख्ता सबूत मिलने पर पुलिस ने दीपक को गिरफ्तार कर लिया।

विजयलक्ष्मी को आज 30 मई को पूछताछ हेतु थाने पर लाया गया। विजयलक्ष्मी उर्फ विजया पत्नी स्वर्गीय पंकज भट्ट निवासी राजराजेश्वरी एनक्लेव नथुआवाला थाना रायपुर उम्र करीब 35 वर्ष से थाना रायपुर पर गहनता से पूछताछ की गई जिस ने पूछताछ में बताया कि साहब मुझसे गलती हो गई है।

मेने अपने पति को अधिक नींद की गोलियां दी थी जिससे उसकी मृत्यु हो गई। जिस दिन मैंने नींद की गोली दी थी उस दिन दीपक मेरा प्रेमी मेरे घर पर आया था। रात्रि करीब 1 बजे तक मेरे घर पर रहा था। दीपक के घर से चले जाने के बाद ही मेने अपनी सास को उठाया कि पंकज बेहोश पड़ा है।

मैं अपने पति पंकज भट्ट से ही छुटकारा चाहती थी इसीलिए मैंने उसको अधिक नींद की गोली दे दी। मैं दीपक से प्यार करती हूं एवं वर्ष 2018 से दीपक के साथ मेरे संबंध हैं। मृतक पंकज भट्ट की पत्नी विजयलक्ष्मी उर्फ विजया को धारा 302 /120 बी द्बश्चष् के तहत आज दिनांक 30 मई को थाने पर ही गिरफ्तार किया गया।

इस पूरे मामले में गिरफ्तार अभियुक्त गणों के नाम दीपक पुत्र रामचन्द्रनिवासी आमवाला तरला थाना रायपुर उम्र 25 ब्यवसाय जिम ट्रेनर व विजय लक्ष्मी उर्फ विजया पत्नी पंकज भटट निवासी नत्थुवावाला थाना रायपुर उम्र 35 है।

24 घण्टे में मामले के खुलासे पर अफसरों ने दी शाबाश

मृतक पंकज भट्ट की मृत्यु होने के बाद ही थाना रायपुर द्वारा उक्त प्रकरण को गंभीरता से लेकर स्वयं मामले की जांच की गई एवं गोपनीय जानकारियां एकत्र की गई जिससे मामला प्रकाश में आया एवं मृतक के परिजनों की तहरीर पर अभियोग पंजीकृत होकर अविलंब विवेचना में साक्ष्य संकलित कर 24 घंटे के अंदर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया एवं मुकदमे का सफल अनावरण किया गया है। थाना रायपुर द्वारा किए गए उक्त उत्कृष्ट अनावरण के लिए वरिष्ठ अधिकारी गणों द्वारा थाना रायपुर की भूरी भूरी प्रशंसा की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.