केदारनाथ मंदिर में फोन ले जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है

केदारनाथ मंदिर में फोन ले जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है

चमोली ( प्रदीप लखेड़ा ) : उत्तराखंड के केदारनाथ मंदिर में कई तरह की रील बनाकर सोशल मीडिया पर उसे डाला जा रहा था, जिस पर अब पूरी तरह से प्रशासन ने बैन लगा दिया है। मंदिर परिसर में अब कोई भी श्रद्धालु फोटो या वीडियो नहीं बनाई जा सकती है। केदारनाथ मंदिर में फोन ले जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है।

दरअसल हाल ही में मंदिर परिसर में एक महिला व्लॉगर ने मंदिर परिसर में विवादास्पद वीडियो बनाया था। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इस वीडियो के वायरल होने के बाद ही केदारनाथ मंदिर समिति को ये फैसला लेना पड़ा है। इस फैसले के बाद अब मंदिर परिसर में फोन लेकर प्रवेश करना, फोटो लेना और वीडियो बनाने पर बैन लगाया है।

इस संबंध में समिति ने मंदिर परिसर में कई जगहों पर बोर्ड भी लगाए है। इन बोर्ड पर नोटिस लिखा गया है कि मंदिर परिसर मे मोबाइल फोन के साथ प्रवेश करने पर प्रतिबंध होगा। मंदिर मे किसी तरह की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की अनुमति नहीं है। नोटिस में ये भी लिखा है कि श्रद्धालु सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में है। मंदिर समिति केदारनाथ मंदिर परिसर में जगह-जगह चेतावनी बोर्ड लगाती है कि अगर कोई फोटो लेता या वीडियो बनाता पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि हाल ही में मंदिर के गर्भ गृह में जाने से पहले यात्रियों को मोबाइल ऑफ करने के आदेश दिए गए थे। समिति ने कैमरा ले जाने पर भी प्रतिबंध लगाया था। इसके बाद पूरे मंदिर परिसर में मोबाइल फोन की एंट्री पर प्रतिबंध लगाया था।
बता दें कि केदारनाथ मंदिर में हाल ही में एक कपल का वीडियो वायरल हुआ था जिसमें एक कपल पूजा करता है और तभी लड़की लड़के को शादी के लिए प्रपोज कर देती है। वीडियो में लड़का और लड़की दोनों काफी खुश दिखते है। वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में इस लेकर काफी बहस छिड़ी है। लोगों का कहना था कि केदारनाथ धाम श्रद्धा और आस्था का स्थान है मगर इसे टूरिस्ट स्पॉट की तरह से ट्रीट किया जा रहा है। कई श्रद्धालुओं ने मंदिर समिति से इस दिशा में सख्ती दिखाने की मांग की थी।

Share this story