प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट एवं शिक्षा स्वास्थ्य एवं जनपद के प्रभारी मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने आज जोशीमठ में की प्रेस वार्ता

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट एवं शिक्षा स्वास्थ्य एवं जनपद के प्रभारी मंत्री डॉक्टर धन सिंह रावत ने आज जोशीमठ में की प्रेस वार्ता 

गौचर/चमोली (ललिता प्रसाद लखेड़ा) : प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जोशीमठ नगर क्षेत्र में भूधंसाव से प्रभावित लोगों के जानमाल की रक्षा करना सरकार की पहली प्राथमिकता थी। सरकार ने पहले चरण के तहत प्रभावित परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर रखा है। उनके लिए राहत कैंप बनाए गए हैं। यहां पर उनके रहने की समुचित व्यवस्था भी की गई है।
उन्होंने बताया कि जोशीमठ में कुछ समय से भूधंसाव की स्थिति में ठहराव आया है जो की राहत की बात है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सरकार की  दूसरी प्राथमिकता लोगों के मन से भय का वातावरण को समाप्त करना है। जिसके लिए जन सहयोग की आवश्यकता है। सरकार और प्रशासन जनता के बीच लगातार बना हुआ है और जनता को आश्वस्त कर रहे हैं कि सरकार पूरी तरह से उनके साथ हर समय खडी है। उन्होंने कहा कि जोशीमठ धार्मिक क्षेत्र हैं।

साथ ही औली विश्व प्रसिद्ध हिम क्रीड़ा स्थल है। यहां की शीतकालीन यात्रा प्रभावित ना हो, यहां के लोगों की आर्थिकी प्रभावित न हो इसके लिए भी जनजागरण का काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि विगत कुछ सालों से जोशीमठ के अंदर शीतकालीन पर्यटन बढ़ा था लेकिन पिछले दिनों जोशीमठ को लेकर जो संदेश समाज के बीच गया है उससे यात्रा प्रभावित होने की संभावना पैदा हुई है। उन्होंने कहा कि जोशीमठ में दो क्षेत्र ही ऐसे हैं, जो प्रभावित हुए हैं लेकिन पूरे जोशीमठ को लेकर इस तरह का वातावरण बनाना जनहित में नहीं है। 

उन्होंने कहा कि भूधंसाव से प्रभावित परिवारों का विस्थापन उनकी इच्छा के अनुसार कराया जाएगा। इसके लिए 5 स्थानों का चयन भी किया गया है। जो व्यक्ति जिस स्थान पर रहना चाहता है उसका विकल्प उनसे ही लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुझे बताते हुए खुशी है कि हमारी भू-वैज्ञानिकों की टीम द्वारा सर्वे रिपोर्ट और समिति के सुझाव के आधार पर सरकार द्वारा प्रभावित परिवारों यथासंभव राहत राशि और विस्थापन कराया जाएगा।

शिक्षा, स्वास्थ्य एवं जनपद के प्रभारी मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार इस विपदा की घड़ी में पूरी तरह से जोशीमठ की जनता के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने कैबिनेट बैठक में प्रभावितों के हित में महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं। जिनका प्रभावितों को सीधा लाभ होगा।

उन्होंने कहा कि सरकार पूरे राज्य में सर्वे कराने जा रही है। जहां भी ऐसी स्थिति उत्पन्न हो रही है उनके लिए पहले से ही पूरी प्लानिंग से विकास कार्य किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सर्वेक्षण रिपोर्ट जल्द ही सबके सामने आएगी किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है सरकार जोशीमठ की जनता के साथ खड़ी है।

उन्होंने कहा कि जोशीमठ चार धाम यात्रा का मुख्य पड़ाव है और आने वाले दो-तीन महीनों में चार धाम यात्रा शुरू होने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि यहां कि सरकार जनता पूरा ध्यान रख रही है और लोगों के मन में जो भय बैठ गया है उसको दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने मीडिया से भी इसमे सहयोग करने की बात कही है।

Share this story