मानकों के विपरीत बन रही मोटर रोड़, अपनी मनमानी पर आतुर निर्माणदायी संस्था ब्रिडकुल

मानकों के विपरीत बन रही मोटर रोड़, अपनी मनमानी पर आतुर निर्माणदायी संस्था ब्रिडकुल

बड़कोट (ब्यूरो)। यमुनोत्री धाम में प्रसादम योजना के तहत चल रहे निर्माण कार्यो में माँ यमुना के शीत कालीन मन्दिर व खरशालीगाँव के लिए बन रही मोटर रोड़ मानकों के विपरीत बन रही है। कंक्रीट से बन रही रोड़ संकरी बनने से आवाजाही करने वाले वाहनों को दिक्कतें आनी शुरू हो गयी है, ग्रामीणों ने इस मामले की शिकायत जिलाधिकारी से भी की उसके बाबजूद निर्माणदायी संस्था ब्रिडकुल अपनी मनमानी करने में लगी है। मालूम हो कि यमुनोत्री धाम के सौन्दर्यकरण व विस्तारीकरण की जिम्मेदारी निर्माणदायी संस्था ब्रिडकुल को मिली हुई है।

दो वर्षों से कछुए की चाल से कार्य करने वाले विभाग की कार्यप्रणाली देखिये की जानकीचट्टी से खरशाली गाँव को जोड़ने वाली मोटर मार्ग जो लोक निर्माण विभाग से स्थानांतरित होकर ब्रिडकुल विभाग को मिल तो गयी पर ब्रिडकुल उक्त मोटर मार्ग को महज कंक्रीट ( सी सी रोड़) सिंगल वाहन के आवाजाही के लायक निर्माण कर रहे है। ग्रामीणों ने मानकों के विपरीत रोड़ को बनाये जाने के साथ गुणवत्ता पर भी सवाल खड़े किए है।

ग्रामीणों ने यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुँचे जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला से उक्त मोटर मार्ग के संकरा बनाये जाने की शिकायत की थी उसके बाबजूद भी विभाग के कान में जु नही रेंगी। ग्रामीणों का कहना है कि ब्रिडकुल विभाग जब जिलाधिकारी की नही सुन रहा है तो किसके पास जाये। उन्होंने उक्त मामले की मुख्यमंत्री से शिकायत किये जाने की बात कही है । तीर्थ पुरोहित बागेश्वर उनियाल ने कहा कि मोटर रोड़ मानकों के विपरीत बन रही है। इसमें स्थानीय प्रशासन को जांच करवानी चाहिए।

ब्रिडकुल के सहायक अभियंता आशीष चौधरी का कहना है कि उक्त योजना का काम मुख्यालय से देखा जा रहा है। जो आगड़न डिजाईन के अनुसार रोड़ निर्माणाधीन है। इसमें अगर कुछ कमी होगी तो उच्चधिकारियों से वार्ता कर सही किये जाने का प्रयास किया जायेगा।

Share this story