DEHRADUN : रोमांचक मुकाबले में इंडिया लीजेंड्स ने इंग्लैंड लीजेंड्स को 40 रन से दी शिकस्त, सचिन..सचिन..से गूंजा स्टेडियम
DEHRADUN : रोमांचक मुकाबले में इंडिया लीजेंड्स ने इंग्लैंड लीजेंड्स को 40 रन से दी शिकस्त, सचिन..सचिन..से गूंजा स्टेडियम

देहरादून : रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का 14वां अंतरराष्ट्रीय मैच देहरादून में बृहस्पतिवार को इंडिया लीजेंड्स और इंग्लैंड लीजेंड्स की टीमों के बीच खेला गया। इंडिया की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 15 ओवरों में पांच विकेट खोकर 170 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड लीजेंड्स की टीम 130 रन ही बना सकी। इंडियन लीजेंड्स के कप्तान सचिन तेंदुलकर को मैन ऑफ द मैच दिया गया।

इंग्लैंड की टीम ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। इंडिया के कप्तान सचिन तेंदुलकर और नमन ओझा की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 65 रन जोड़े। छठे ओवर में नमन स्टीफन पैरी की गेंद पर कैच थमा बैठे। नमन ने 17 गेंदों में 20 रन बनाए। नमन के आउट होने के बाद सचिन का साथ देने सुरेश रैना आए।

कुछ ही देर में सचिन भी 20 गेंदों में 40 रन बना पवेलियन लौट गए। सचिन ने अपनी पारी के दौरान तीन छक्के और तीन चौके लगाए। सचिन के आउट होने के बाद सुरेश रैना और यूसुफ पठान ने पारी को संभालते हुए 9.1 ओवर में स्कोर 103 पहुंचा दिया। रैना आठ गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 12 रन बनाए, जबकि यूसुफ पठान ने एक चौका और तीन छक्के जड़ते हुए 11 बॉल में 27 रन बना डाले।

इसके बाद युवराज सिंह और स्टुअर्ट बिन्नी की जोड़ी ने 28 रनों की साझेदारी कर स्कोर को 136 पहुंचा दिया। बिन्नी के आउट होने के बाद मैदान में उतरे इरफान पठान ने युवराज के साथ नाबाद 34 रनों की साझेदारी कर टीम को स्कोर 170 पहुंचा। इंग्लैंड की तरफ से स्टीफन पैरी ने तीन विकेट लिए, जबकि क्रिस शॉफिल्ड एक विकेट लेने में कामयाब हुए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड को चौथे ओवर में पहला झटका डिमित्री मस्कारेनहास (12) को राजेश पवार ने बोल्ड कर दिया। छठे ओवर में प्रज्ञान ओझा की गेंद को आगे बढ़कर खेलने के प्रयास में इयान बैल (12) स्टंप आउट हुए। सातवें ओवर में रिक्की क्लार्क (9) को स्टुअर्ट बिन्नी ने क्लीन बोल्ड किया। 10वें ओवर में राजेश पवार ने एम्ब्रोस (16) बोल्ड कर दिया। इसी ओवर में राजेश पवार ने फिल मस्टर्ड (29) को सचिन तेंदुलकर के हाथों कैच आउट कराया। निर्धारित 15 ओवरों में इंग्लैंड की टीम छह विकेट गवांकर 130 रन ही बना सकी। 

क्रिकेट प्रेमियों को सताई धोनी की याद

मैच के दौरान क्रिकेट प्रेमियों को महेंद्र सिंह धोनी की याद सताई। स्टेडियम में दर्शकों ने मिस यू धोनी के पोस्टर दिखाए, जबकि इंडियन खिलाड़ी के हर एक शॉट पर दर्शकों ने जमकर तालियां बजाईं।  

मोबाइल की टॉर्च जलाकर किया गया स्वागत

मैच के 12वें ओवर में युवराज और बिन्नी की जोरदार साझेदारी का स्वागत क्रिकेट प्रेमियों ने एक साथ अपने-अपने मोबाइल की टार्च जलाकर किया। एक साथ हजारों की संख्या में मोबाइल की टार्च जलने से स्टेडियम का दृश्य देखने लायक था। हर क्रिकेट प्रेमी इस क्षण को अपने कैमरे में कैद करने में जुट गया। ऐसा ही नजारा इंग्लैंड के विकेट गिरने पर भी देखा गया।

इंडिया लीजेंड्स में यह रहे खिलाड़ी

इंडिया लीजेंड्स- सचिन तेंदुलकर (कप्तान), नमन ओझा, सुरेश रैना, युवराज सिंह, इरफान पठान, यूसुफ पठान, स्टुअर्ट बिन्नी, प्रज्ञान ओझा, राजेश पंवार, राहुल शर्मा और मनप्रीत गोनी टीम में हैं। 

इंग्लैंड लीजेंड्स में यह रहे खिलाड़ी

इयान बेल (कप्तान), जेम्स टिंडल, टिम एम्ब्रोस, फिल मस्टर्ड, रिक्की क्लार्क, दिमित्री मस्कारेनहास, क्रिस ट्रेमलेट,  स्टीफन पैरी, जेड डर्नबैक, क्रिस शॉफिल्ड और स्टुअर्ट मीकर रहे।

देहरादून में सचिन..सचिन..से गूंजा स्टेडियम

मौसम के साफ होने के बाद बृहस्पतिवार को रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का दून में दूसरा मुकाबला खेला गया। इस मैच में इंडिया लीजेंड्स और इंग्लैंड लीजेंड्स के खिलाड़ी आमने-सामने थे। मैच शुरू होने से पहले सचिन की झलक देखते ही क्रिकेट प्रेमी सचिन... सचिन... के नारे लगाने लगे। साथ ही हर चौके-छक्के पर स्टेडियम में क्रिकेट प्रेमियों ने इंडिया के नारे लगाए।

अंतरराष्ट्रीय मैच का बेसब्री से इंतजार कर रहे क्रिकेट प्रेमियों में खासा उत्साह देखने को मिला। जहां एक ओर स्टेडियम के हर कोने में तिरंगा लहराता दिखा। वहीं, कई दर्शक इंडियन लीजेंड्स की जर्सी में नजर आए, जबकि बच्चों, महिलाओं और युवाओं ने चेहरे और हाथ पर तिरंगा बनाया। 

मैच खत्म होने के लिए दो बॉल रहने से पहले दो दर्शक मैदान में आकर सचिन के पैरों पर गिर गए। हालांकि, आनन-फानन में आए बाउंसर ने दोनों को मैदान से बाहर कर दिया, जबकि सचिन को इस बात का अंदाजा ही नहीं था कि कोई दर्शक उनकी ओर आ रहा है।

25 हजार क्षमता वाला राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम दर्शकों से भरा-भरा नजर आया। स्टेडियम में कोई सचिन की तस्वीर लेकर पहुंचा तो कुछ लोगों ने सचिन के नाम के अक्षर दिखा भारतीय टीम का उत्साहवर्धन किया। सीरीज के तहत दून में होने वाले छह मुकाबलों की शुरुआत बीती 21 सितंबर से होनी थी।

लेकिन बारिश के चलते मैच को रद्द कर दिया गया। तय शेड्यूल के अनुसार 22 सितंबर शाम साढ़े सात बजे इंडिया लीजेंड्स और इंग्लैंड लीजेंड्स की टीम के बीच मुकाबला खेला गया। टॉस के दौरान राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि.) और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, खेल मंत्री रेखा आर्य मौजूद रहे। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने सिक्का उछालकर टॉस किया।

लगातार दो दिन हुई बारिश के चलते मैदान में नमी रही। करीब सात घंटे तक मैदान में मिट्टी, घास बिछाने के बाद भी नमी कम नहीं हुई। जिसका असर नौ बजे शुरू हुए मैच पर भी देखने को मिला। खिलाड़ी शॉट लगा रहे थे, लेकिन बॉल मैदान में बाउंस नहीं हो पाई। जिससे स्कोर भी ज्यादा नहीं बन पाया।

वही, सिक्सर किंग व भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने मैदान में आते ही हाथ हिलाकर क्रिकेट प्रेमियों का अभिनंदन स्वीकार किया। युवराज समेत दशकों तक मैदान में अपने बल्ले और गेंद से जलवा दिखाने वाले भारतीय खिलाड़ियों को देख दर्शकों के चेहरे पर चमक देखते ही बनती थी। इस दौरान क्रिकेट प्रेमी इंडिया लीजेंड्स के खिलाड़ियों के साथ सेल्फी लेने के लिए उत्साहित दिखे। सचिन, हरभजन सिंह, युवराज सिंह के हुनर की झलक देखने का जोश और उत्साह लोगों में काफी दिख रहा था।

बारिश होने की वजह से मैदान को खेलने लायक बनाने के लिए करीब साढ़े सात घंटे तक का समय लगा। आलम यह रहा कि मैच शुरू होने के आखिरी मिनट तक कर्मचारी मैदान को खेलने लायक बनाने में जुटे रहे। मैदान में पानी जमने के साथ पिच पर भी नमी बन गई थी।

आयोजकों की ओर से इंडिया लीजेंड्स और इंग्लैंड लीजेंड्स मैच का समय साढ़े सात बजे तय किया गया था। लेकिन टॉस एक घंटे देरी से करीब आठ बजे किया गया। जिसके चलते दर्शकों को लंबा इंतजार करना पड़ा। वहीं, अब बारिश या मौसम खराब होने की स्थिति में रद्द होने वाले मैच अगले दिन कराए जाएंगे।

Share this story