उत्तराखंड : मंगलवार को कोरोना के 44 और ब्लैक फंगस के 4 संक्रमित मरीज आये सामने

देहरादून : उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 44 संक्रमित मिले हैं। वहीं बीते 24 घंटे में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। जबकि 144 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया।वहीं, सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 819 पहुंच गई है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, मंगलवार को 24576 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं चार जिलों, बागेश्वर, चमोली, रुद्रप्रयाग और टिहरी में एक भी संक्रमित मरीज सामने नहीं आया है। वहीं, अल्मोड़ा में आठ, चंपावत में दो, देहरादून में 11, हरिद्वार में आठ, नैनीताल में पांच, पौड़ी में दो, पिथौरागढ़ में एक, ऊधमसिंह नगर में चार और उत्तरकाशी में तीन मामले सामने आए हैं।

प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 341274 हो गई है। इनमें से 327112 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7351 लोगों की जान जा चुकी है।

ब्लैक फंगस के 530 मामले, 133 हुए ठीक

प्रदेश में ब्लैक फंगस के अब तक कुल 530 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 133 मरीज ठीक हो चुके हैं। 106 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। मंगलवार को एम्स ऋषिकेश में ब्लैक फंगस के चार केस सामने आए।

29 हजार को लगी वैक्सीन

टीकाकरण अभियान के तहत मंगलवार को प्रदेश में 29 हजार 486 लोगों को वैक्सीन दी गई। अभी तक प्रदेश में 39 लाख 37 हजार 115 लोगों को पहली डोज, 10 लाख 20 हजार 87 लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी हैं। 18 से 44 आयु वर्ग में अभी तक 40 हजार 905 लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी हैं।

देहरादून में आसपास के स्कूलों से मिलेगी औषधि किट

विशेषज्ञों का दावा है कि कोरोना की तीसरी लहर देश में दस्तक दे सकती है। इससे निपटने के लिए देहरादून जिला प्रशासन ने कमर कस ली है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमित होता है तो वह अपने आसपास के स्कूल से औषधि किट प्राप्त कर सकता है। इस संबंध में जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं।

जिला प्रशासन ने जिले के कई स्कूलों, पंचायती भवनों और नगर निगम के जोनल कार्यालयों को अधिसूचित किया गया है। स्कूलों, पंचायती भवनों और नगर निगम के जोनल कार्यालयों को औषधि वितरण केंद्र बनाने के साथ ही नौ नोडल अधिकारियों बनाए हैं। हर एक केंद्र पर सहायक नोडल अधिकारी तैनात रहेगा। औषधि वितरण केंद्र में संक्रमित व्यक्ति को प्राथमिक उपचार के लिए औषधि किट दी जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.