लखनऊ लोक परम्पराओं के संरक्षण के लिए आवश्यक है कि लोक कलाकारों को प्रोत्साहित किया जाए : मुख्यमंत्री

लखनऊ लोक परम्पराओं के संरक्षण के लिए आवश्यक है कि लोक कलाकारों को प्रोत्साहित किया जाए : मुख्यमंत्री

लखनऊ (आरएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  से  उनके सरकारी आवास पर उत्तराखण्ड राज्य के लोक कलाकारों ने भेंट की। उत्तराखण्ड के लोक कलाकारों का अभिनन्दन करते हुए मुख्यमंत्री  ने कहा कि गायन और वादन शैलियां लोक गाथा तथा लोक परम्परा को जीवित रखती हैं। लोक परम्पराओं के संरक्षण के लिए आवश्यक है कि लोक कलाकारों को प्रोत्साहित किया जाए, उन्हें अपनी कला को प्रस्तुत करने के लिए आकाशवाणी तथा दूरदर्शन सहित क्षेत्रीय स्तर पर मंच उपलब्ध कराए जाएं। इससे कला को संरक्षित करते हुए इस धरोहर को अगली पीढ़ी तक पहुंचाने में मदद मिलती है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि जागर विधा उत्तराखण्ड की विरासत है। इसे संरक्षित करना चाहिए। प्रदेश सरकार द्वारा राजधानी लखनऊ में जागर विधा के कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। ज्ञातव्य है कि जागर विधा में देवी-देवताओं का आह्वान कर विभिन्न वाद्य यंत्रों के माध्यम से पूजा करने की प्रथा है। मुख्यमंत्री ने सभी कलाकारों को ओ0डी0ओ0पी0 उपहार भेंट किये। उत्तराखण्ड के लोक कलाकार श्री मोहन चन्द्र जोशी ने मुख्यमंत्री को लोकवाद्य हुडक़ा एवं अपने हाथों से बनाए गए बांसुरी भेंट की। इस अवसर पर विभिन्न लोक एवं प्रचलित वाद्य यन्त्रों के माध्यम से सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दीं, जिसकी मुख्यमंत्री  द्वारा प्रशंसा की गई। इस अवसर पर प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री, गृह एवं सूचना  संजय प्रसाद, पर्वतीय महापरिषद के पदाधिकारी एवं विभिन्न कलाकार उपस्थित थे।
 

Share this story