उमा भारती ने रैणी और तपोवन पहुँच जाना आपदा प्रभावितों का हाल

चमोली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेत्री उमा भारती आपदा प्रभावित क्षेत्र रैणी और तपोवन पहुंची। जहां उन्होंने आपदा प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उमा भारती ने रैणी पहुंचकर सबसे पहले बीआरओ द्वारा बनाए जा रहे मोटर पुल निर्माण कार्य की जानकारी ली।

साथ ही उन्होंने अधिकारियों से ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट में लापता हुए लोगों के बारे में भी जानकारी जुटाई। उसके बाद उमा भारती गौरा देवी के स्मृति स्थल पहुंची और पुष्प अर्पित किए.स्थानीय महिलाओं ने उमा भारती को सर्च ऑपरेशन में हो रही देरी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी बात कोई नहीं सुन रहा है। उमा भारती ने लोगों को समझाते हुए कहा कि वो उत्तराखंड सरकार और केंद्र सरकार से इस पूरे मामले में बात करेंगी।

उमा भारती ने कहा कि गौरा देवी की भूमि में आई इस विनाशकारी जलप्रलय से वह काफी दुखी हैं। उन्होंने कहा कि जिस धरती से पर्यावरण को बचाने की मुहिम छेड़ी गई, वहीं आज बर्बाद हो गई है। पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती तपोवन भी पहुंची, जहां उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाकात की और तपोवन क्षेत्र में आई प्राकृतिक आपदा के बारे में जानकारी जुटाई। उसके बाद उमा भारती के बैराज साइट पहुंची।

जहां उन्होंने एनटीपीसी के अधिकारियों से सर्च ऑपरेशन के बारे में जानकारी ली। उमा भारती ने एनटीपीसी के अधिकारियों एसडीआरएफ, एनडीआरएफ के जवानों और अधिकारियों से जल्द से जल्द लापता लोगों को ढूंढने और सर्च ऑपरेशन में तेजी लाने को कहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.