ये दो खिलाडी पाए गए डोपिंग के दोषी, लगा चार साल का प्रतिबंध

डिजिटल डेस्क। भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी अमृतपाल सिंह और महिला बॉक्सर नीरज फोगाट डोपिंग के दोषी पाए गए हैं। नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (नाडा) ने दोनों पर 4-4 साल का प्रतिबंध लगाया। फोगाट पर प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए ड्रग्स लेने का दोषी पाया गया है। जबकि अमृतपाल ने प्रतिबंधित पदार्थ टर्बुटेलाइन लिया था। इसी बीच भारतीय वेटलिफ्टर संजीता चानू के लिए अच्छी खबर आई है। इंटरनेशनल वेटलिफ्टिंग फेडरेशन (आईडब्ल्यूएफ) ने चानू पर लगे डोपिंग के आरोप हटा लिए हैं। वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) की सिफारिश के आधार पर आईडब्ल्यूएफ ने यह फैसला लिया है।

अमृतपाल भारत के एकमात्र खिलाड़ी हैं, जो ऑस्ट्रेलिया की नेशनल बास्केटबॉल लीग में खेले हैं। उन्होंने 2011 में भारत के लिए पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। नाडा ने उनका सैंपल 16 फरवरी को लिया था। अमृतपाल पर यह प्रतिबंध इसी साल 19 मई से लागू माना जाएगा।

महिला बॉक्सर पर दिसंबर से प्रतिबंध माना जाएगा

बॉक्सर नीरज ने पिछले ही साल गुवाहाटी में हुए इंडिया ओपन में स्वर्ण जीता था। उन्होंने बुल्गारिया के स्त्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट में भी कांस्य पदक अपने नाम किया था। नीरज पर यह प्रतिबंध 2 दिसंबर 2019 से माना जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.