इस तारीख से खुलेंगे हेमकुंट साहिब के कपाट, बर्फ हटाकर सेना ने साफ किया रास्ता उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने अपने सोशल मीडिया हैंडल Koo पर इसकी जानकारी दी

 

 

 

 

देहरादून: हेमकुंट साहिब तक बर्फ हटाने का काम भारतीय सेना और गुरुद्वारा ट्रस्ट हेमकुंट साहिब ने पूरा कर लिया है। गढ़वाल हिमालय में 15,200 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुनिया के सबसे ऊंचे गुरुद्वारे हेमकुंट साहिब के दर्शन के लिए रविवार को भारतीय सेना के जवानों ने बर्फ हटाकर रास्ता साफ कर दिया। हेमकुंट साहिब का सफर भी कोरोना काल में दो साल तक रुका हुआ था, लेकिन इस साल हेमकुंट साहिब की यात्रा शुरू करने की पूरी तैयारी की जा रही है।

यहां पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के साथ-साथ विदेश से भी सिख श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है। यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए गुरुद्वारा कमेटी ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। सेना की मदद से पैदल मार्ग से 7 से 8 फीट तक लगभग 4 किमी तक बर्फ साफ हो गई है। भारतीय सेना के जवानों ने 8 से 9 फीट बड़े ग्लेशियरों को काट दिया है, ताकि उनके बीच एक रास्ता बनाया जा सके। स्वदेसी मंच, कू यह बात हर कोई कर रहा है कि आखिरकार अब हेमकुंट साहिब की यात्रा की जा सकेगी।

रास्ता खोलने के लिए भारतीय सेना हमेशा से जिम्मेदार रही है। हेमकुंट साहिब गुरुद्वारे की 18 किलोमीटर की कठिन यात्रा गोविंदघाट से शुरू होती है। पहला जत्था ऋषिकेश से 19 मई को हेमकुंट साहिब के दर्शन के लिए रवाना होगा।

अभी भी 7 से 8 फीट बर्फ जमी हुई है
गुरुद्वारा ट्रस्ट और भारतीय सेना के जवानों ने श्री हेमकुंट साहिब में पवित्र गुरुद्वारा साहिब में माथा टेका है। भारतीय सेना के अधिकारियों ने बताया कि धाम में अभी भी 7 से 8 फीट बर्फ है। बर्फ के कारण पवित्र झील जम गई है, लेकिन मई तक बर्फ पिघलने की पूरी संभावना है।

मुख्य सचिव 29 अप्रैल को आएंगे
बर्फ साफ होने के बाद हेमकुंट साहिब का रास्ता ठीक हो जाएगा। इसके बाद यहां यात्रियों को किसी तरह की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। यात्रा की व्यवस्थाओं की समीक्षा के लिए प्रदेश के मुख्य सचिव एसएस संधू भी 29 अप्रैल को पहुंच रहे हैं।

Koo App

आज केदारनाथ धाम पहुंचकर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में चल रहे निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान मेरे साथ केदारनाथ विधानसभा से विधायक श्रीमती शैला रानी रावत जी उपस्थित रही।

Pushkar Singh Dhami (@pushkarsinghdhami) 26 Apr 2022

Koo App

आज रुद्रप्रयाग जिले में स्थित माँ महाकाली को समर्पित कालीमठ मन्दिर में पूजा-अर्चना करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। इस अवसर पर मैंने माँ महाकाली से समस्त प्रदेशवासियों के सुख, समृद्धि एवं मंगल की कामना की। इस दौरान वहां उपस्थित क्षेत्रीय जनता ने स्वागत एवं अभिनंदन किया, मैं समस्त देवतुल्य जनता का स्वागत हेतु सहृदय आभार व्यक्त करता हूं। इस दौरान मेरे साथ केदारनाथ विधानसभा से विधायक श्रीमती शैला रानी रावत जी उपस्थित रहीं।

Pushkar Singh Dhami (@pushkarsinghdhami) 26 Apr 2022

Leave A Reply

Your email address will not be published.