ठगी का शिकार हुई आईआईटी रुड़की की सीरिया निवासी शोध छात्रा

देहरादून। आईआईटी रुड़की की सीरिया निवासी शोध छात्रा को फर्जी ई-मेल भेजकर 15 हजार रुपये की ठगी कर ली गई। विभागाध्यक्ष के नाम से फर्जी ई-मेल भेजकर खाते में यह रकम ट्रांसफर कराई गई है। छात्रा ने सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचकर तहरीर दी। पुलिस ने मामला साइबर सेल को भेज दिया है। इसके बाद मामले की जांच की जा रही है। जानकारी के अनुसार, सीरिया की एक युवती रुड़की आईआईटी में पीएचडी कर रही है। बुधवार को छात्रा के पास विभागाध्यक्ष के नाम से एक ई-मेल आई है। इसमें खाता नंबर लिखकर कहा गया था कि 15 हजार रुपये डाल दो। इसके बाद अमेजॉन के माध्यम से आकर्षक इनाम दिया जाएगा।

झांसे में आकर छात्रा ने 15 हजार रुपये उस खाते में ट्रांसफर कर दिए। बृहस्पतिवार को उस समय छात्रा को ठगी का पता चला, जब विभागाध्यक्ष ने कोई भी ई-मेल भेजने से इनकार कर दिया। इसके बाद छात्रा आईआईटी के सुरक्षाकर्मियों के साथ सिविल लाइंस कोतवाली पहुंची और पुलिस को तहरीर देकर मामले से अवगत कराया। साथ ही फर्जी ई-मेल भेजकर ठगी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। कोतवाल राजेश शाह ने बताया कि मामला साइबर सेल भेजा गया है। साइबर सेल जांच कर आवश्यक कार्रवाई करेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.