ट्विटर पर नहीं पूछे जाते ऐसे सवाल : रविशंकर

0- चीन जैसे अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भाजपा ने राहुल को दी नसीहत

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कांग्रेस की ओर से भारत-चीन सीमा विवाद पर लगातार पूछे जा रहे सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अर्थ नीति और सामरिक नीति को कितना समझते हैं, इसपर बहस होनी चाहिए। उन्हें पता होना चाहिए कि चीन जैसे अतंरराष्ट्रीय मुद्दे पर ट्विटर पर सवाल नहीं पूछे जाते हैं। रविशंकर ने कहा कि राहुल गांधी में इतनी समझदारी तो होनी चाहिए कि चीन जैसे अतंरराष्ट्रीय मुद्दे को लेकर ट्विटर पर सवाल नहीं पूछे जाते हैं। ये वही व्यक्ति हैं जिन्होंने बालाकोट एयरस्ट्राइक के सबूत मांगे थे। उरी हमले पर सवाल उठाया था। अब चीन पर सवाल कर रहे हैं। अगर चीन की कहानियां आएंगी तो कांग्रेस ने कैसे मामले को संभाला था, वो भी सामने आ जाएंगी। इससे पहले लद्दाख से भाजपा सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने राहुल गांधी को जवाब दिया था। भाजपा सांसद ने ट्वीट में दावा किया कि चीन ने कांग्रेस कार्यकाल में भारतीय जमीन पर कब्जा किया था। बता दें कि राहुल गांधी ने ट्वीट कर पूछा था कि क्या चीन ने लद्दाख में भारतीय जमीन पर कब्जा किया है। जमयांग ने ट्वीट कर कहा कि हां, चीन ने भारतीय जमीन पर कब्जा किया है, लेकिन कांग्रेस के कार्यकाल में। सांसद का कहना है कि उम्मीद है राहुल और कांग्रेस तथ्यों के आधार पर मेरे जवाब से संतुष्ट होंगे। उन्होंने साथ ही उम्मीद जताई कि वे फिर से गुमराह करने की कोशिश नहीं करेंगे।

समझदार व्यक्ति नहीं देते ऐसे बयान

सेनानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल आरएन सिंह ने राहुल गांधी के सवालों को लेकर कहा, ‘उन्हें ऐसे सवाल नहीं करने चाहिए कि सरकार क्या कर रही है क्योंकि ये चीजें गुप्त हैं और इन्हें उजागर नहीं किया जा सकता है। उन्हें सरकार का समर्थन करना चाहिए था। एक समझदार व्यक्ति इस तरह का बयान कभी नहीं दे सकता।

सीमा की हकीकत सबको है मालूम: राजनाथ

आठ जून को राहुल गांधी ने अमित शाह के बयान पर तंज कसते हुए ट्वीट किया था कि सब को मालूम है ‘सीमा’ की हकीकत लेकिन दिल को खुश रखने को, ‘शायद’ ये ख्याल अच्छा है। इसका जवाब देते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि मिर्जा गालिब का ही शेर थोड़ा अलग अंदाज में है। ‘हाथ’ में दर्द हो तो दवा कीजै, ‘हाथ’ ही जब दर्द हो तो क्या कीजै। इसके बाद राजनाथ की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए राहुल ने कहा था कि रक्षा मंत्री का हाथ पर टिप्पणी करना खत्म हो जाए, तो वह इस सवाल का जवाब दे सकते हैं- क्या लद्दाख में चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया है?

Leave A Reply

Your email address will not be published.