एसपी ने बदरीनाथ पहुंचकर यात्रा मार्गों का किया निरीक्षण

चमोली। पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे ने बदरीनाथ पहुंचकर यात्रा तैयारियों का जायजा लिया। बता दें कि कंचनगंगा से बदरीनाथ तक जगह-जगह ग्लेशियर आए हैं। इन्हें हटाने का कार्य बीआरओ लगातार कर रहा है। बदरीनाथ तक सड़क में जगह-जगह बर्फ मौजूद होने से एसपी को कई जगह रास्ता पैदल ही पार करना पड़ा।

उन्होंने सुरक्षा कर्मियों से बातचीत की और उनका हाल जाना। 8 मई को बदरीनाथ के कपाट खुलने जा रहे हैं। यात्रा के दौरान प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में तीर्थ यात्री बदरीनाथ पहुंचते हैं, इस वर्ष की यात्रा सुरक्षित एवं सफल रहे इसे लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं।

बदरीनाथ के कपाट खुलने के एक माह बाद जून में सिखों के पवित्र स्थल हेमकुण्ड साहिब के भी कपाट खुलने जा रहे हैं। पुलिस अधीक्षक ने चमोली से बदरीनाथ तक का सफर तय किया एवं यात्रा रुट की बारीकियों और सवेदनशील स्थानों को चिह्नित कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। साथ ही बाजपुर, चमोली, बिरही बैंड को लेकर निर्देश दिए। हेलंग से पहले स्लाइडिंग जोन में आवश्यकता अनुसार वन वे, पागलनाला, गुलाबकोटी, हेलंग एवं मारवाड़ी से बदरीनाथ के मध्य आवश्यक साइन बोर्ड लगाने के निर्देश दिए।

एसपी ने बिरही, पीपलकोटी, टंगड़ी, रोपवे तिराहा, जोशीमठ पेट्रोल पंप, गोविंदघाट, लामबगड़ स्लाइडिंग जोन, बदरीनाथ तिराहा, साकेत तिराहा में यात्रा के दौरान अस्थायी चौकी , बूथों और पर्यटक पुलिस चौकी निर्माण करने के निर्देश दिए। साथ ही यात्रा के दौरान रापवे तिराहे से नृसिंहमंदिर पैट्रोल पंप तक वन वे रखा जाएगा।

वर्तमान समय में बदरीनाथ में 3 से 4 फीट तक बर्फ मौजूद है। बदरीनाथ दौरे के दौरान पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बर्फ पर चलकर मंदिर तक पहुंची। उन्होंने मंदिर सुरक्षा में लगे पुलिस जवानों से उनका हाल जाना। इस अवसर पर उनके साथ यातायात निरीक्षक चमोली प्रवीण आलोक, उप निरीक्षक दिगम्बर उनियाल, थाना प्रभारी गोविंदघाट नरेंद्र राणा, उपनिरीक्षक विनोद चैरसिया मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.