एस एल हौंडा ने देहरादून में एक्टिवा की 2 लाख बिक्री की उपलब्धि करी हासिल

ऑनलाइन वीडियो 'रिश्तों की सवारी' जारी कर 6 लाख से अधिक व्यूज़ बटोरे

देहरादून : देहरादून के एस एल हौंडा डीलरशिप ने हाल ही में घोषणा कर उत्तराखंड की राजधानी में दोपहिया वाहन एक्टिवा की 2 लाख बिक्री की उपलब्धि हासिल करली है। इस अवसर का जश्न मनाते हुए, देहरादून शहर की इस सबसे लोकप्रिय होंडा डीलरशिप ने एक ऑनलाइन माध्यम से एक वीडियो जारी किया है, जिसमें यह दर्शाया गया है कि कैसे एक्टिवा एक आम आदमी के लिए जीवन रेखा बन गई है। ‘रिश्तों की सवारी’ शीर्षक वाले उक्त वीडियो को हाल ही में सोशल मीडिया पर 6 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है।

राजपुर रोड पर स्थित एस एल हौंडा डीलरशिप द्वारा बताया गया है की अपनी स्थापना के बाद से देहरादून शहर में 2 लाख से अधिक एक्टिवा स्कूटर बेचने में सफलता हासिल करना पूरी कंपनी के लिए एक जबरदस्त उपलब्धि है।

एस एल हौंडा के मालिक, सुरेंद्र बत्रा ने कहा, “हम देहरादून में हौंडा दोपहिया वाहनों के ग्राहकों की पहली पसंद बनकर बेहद खुश हैं। शहर में जब कभी हौंडा टू-व्हीलर खरीदने की बात आती है, तो दून वासियों के दिमाग में एक ही नाम आता है – एस एल होंडा, और हम समय के साथ इस प्रतिष्ठा को अर्जित करने पर बहुत गर्व महसूस करते हैं। इतने साल की कड़ी मेहनत के दौरान हमको शहर वासियों द्वारा इतना प्यार और आशीर्वाद मिला है, जिसके लिए हमेशा सदैव आभारी रहेंगे।”

आगे बोलते हुए, सुरेंद्र बत्रा ने कहा, “एक्टिवा राज्य में सबसे ज्यादा बिकने वाला दोपहिया वाहन है। एस् एल होंडा में हम अपने सम्मानित ग्राहकों के साथ दीर्घकालिक रिश्ता बनाने में विश्वास करते हैं। हमारे लिए यह काम सिर्फ केवल एक वाहन बेचने तक सीमित नहीं है, बल्कि उससे महत्वपूर्ण है बिक्री के बाद की सेवा, समर्थन और अन्य सहायता प्रदान करना, जो हमारे ग्राहकों और हमारे बीच बाध्यकारी शक्ति का प्रतीत साबित होती है। हमारे ग्राहकों को एस एल होंडा के प्रति पूर्ण विश्वास और प्रशंसा है।”

इतनी बड़ी उपलब्धि हासिल करने के इस उत्सव के दौरान एस एल हौंडा के खुश और संतुष्ट ग्राहकों की कहानियों को भी दर्शाया जायेगा, जिसका प्रसारण 1 अक्टूबर को रेड ऍफ़एम् के माध्यम से किया जाएगा।

सुरेंद्र बत्रा ने बताया की इस फेस्टिव सीसन में एस् एल होंडा ग्राहकों के लिए कई नए ऑफर्स भी ला रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.