26 मोबाइल वैन के माध्यम से किया गया फल-सब्जियों का विक्रय

देहरादून। जनपद के विभिन्न चयनित स्थानों पर प्रशासन द्वारा अधिकृत 26 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 213.00 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। आशुतोष नगरध्बैराज रोड़ ऋषिकेश में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अन्तर्गत सरकारी सस्ता गल्ला की दुकानों के माध्यम से 526 उपभोक्ताओं को खाद्यान वितरित किया गया। जिला प्रशासन द्वारा बनाये गये विभिन्न कन्टेंमेंट जोन में दुग्ध विकास विभाग द्वारा आशुतोष नगर ऋषिकेश में 15 ली0, बैराज कालोनी में 20 ली0, आदर्श नगर जौलीग्रान्ट में 15 ली0, बीस बीघा कालोनी ऋषिकेश में 20 ली0, रेलवे कालोनी में 10 ली0, शिवाजी नगर में 15 ली0, मोतीचूर रायवाला में 10 ली0, सोलंकी मौहल्ला में 10 ली0, ई डब्लू एस कालोनी एमडीडीए मेें 15 ली0, सेवला कला में 20, संतोवाली गली में 10 ली0, डांडीपुर मौहल्ला में 10 ली0, खुड़बुड़ा मौहला में 15, ब्रहा्रम्पुरी में 15 ली0, गुरूरोड पटेलनगर में 10 ली, नेगी तिराहा रेसकोर्स में 10 ली, सर्कुलर रोड में 5 ली0, वसंत विहार क्षेत्र 10 ली0, सहित कुल 235 ली0 दूध विक्रय किया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला एवं तहसील सदर में कुल 185 निराश्रित पशुओं जिसमें, 160 गौवंश एवं 25 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया।कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ ए.के डिमरी, एवं जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी जी.सी कण्डवाल द्वारा रिजेन्टा रायवाला के 51, मार्टियर मिड-वे, नेपाली फर्म के 42 कार्मिकों सहित कुल 93े व्यक्तियों को प्रशिक्षण दिया गया। जनपद में विभिन्न विकासखण्डवार मनरेगा कार्यों के अन्तर्गत आतिथि तक 1150 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें 16700 श्रमिकों को सैनिटाईजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करवाते हुए उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया। प्रधानमंत्री जनधन खाताधारकों द्वारा जनपद में विभिन्न बैंकों से 2880 लाभार्थियों द्वारा अपने जनधन खाते से धनराशि की निकासी की गयी। कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 72 कॉल प्राप्त हुई हैं, जिनमें पास हेतु 64, मेडिकल हेतु 2, राशन हेतु 1 एवं 05 अन्य काल प्राप्त हुई। जनपद में कोरोना वायरस से संक्रमण के प्रसार को रोके जाने के दृष्टिगत सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए निबन्धन कार्यालयों में आज जन सामान्य द्वारा कुल 132 लेख पत्रों का पंजीकरण (रजिस्ट्री) कराई गयी, जिससेे 101.41 लघख का राजस्व प्राप्त हुआ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.