सप्‍ताह में किस दिन धोने चाहिए बाल, दिन के हिसाब से कैसा होता है असर; जानिये

इस दिन सौभाग्यशाली महिलाएं और कुंवारी महिलाएं भी अपने बाल नहीं धोती हैं। इस दिन बाल धोने से जीवन में नकारात्मकता आती है और काम में बाधा आती है।
इस दिन सौभाग्यशाली महिलाएं और कुंवारी महिलाएं भी अपने बाल नहीं धोती हैं। इस दिन बाल धोने से जीवन में नकारात्मकता आती है और काम में बाधा आती है।

नई दिल्ली, 10 सितम्बर , 2023 : हिंदू धर्म में बाल काटने से लेकर बाल धोने तक के कार्यों को लेकर कई नियम और मान्यताएं बताई गई हैं। शास्त्रों के अनुसार सप्ताह के कुछ ऐसे दिन होते हैं जब बाल काटना या धोना अशुभ माना जाता है। इन दिनों में नाखून काटना भी वर्जित है।

यदि आप इन नियमों का पालन करेंगे तो आपके जीवन में खुशियां और बरकत बढ़ेगी। शास्त्रों के अनुसार, अगर बाल धोने से जुड़े इस नियम का पालन किया जाए तो व्यक्ति की सुंदरता भी बढ़ती है और घर की आर्थिक स्थिति भी बेहतर होती है। 

सोमवार

सौभाग्यशाली महिलाओं को सोमवार के दिन बाल धोने से बचना चाहिए। इस दिन बाल धोने से परिवार में कलेश बढ़ता है और कार्यों में बाधा आती है।

मंगलवार

इस दिन सौभाग्यशाली महिलाएं और कुंवारी महिलाएं भी अपने बाल नहीं धोती हैं। इस दिन बाल धोने से जीवन में नकारात्मकता आती है और काम में बाधा आती है।

बुधवार

बुधवार का दिन बाल धोने के लिए शुभ माना जाता है.. इस दिन महिला और पुरुष दोनों ही अपने बाल धो सकते हैं। इस दिन बाल धोने से सुख-समृद्धि आती है।

गुरुवार

गुरुवार के दिन भूलकर भी बाल न धोएं। इस दिन बाल धोने से आर्थिक तंगी आती है और स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी बढ़ती हैं।

शुक्रवार

शुक्रवार के दिन बाल धोने से भी देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और आर्थिक तंगी दूर होती है। शुक्रवार के दिन बाल धोने से भी शुक्र ग्रह अनुकूल होता है और व्यक्ति की सुंदरता बढ़ती है।

शनिवार

शनिवार के दिन सुहागिन महिलाओं को बाल नहीं धोने चाहिए, ऐसा करने से शनिदेव अप्रसन्न होते हैं और जीवन में कष्ट बढ़ते हैं।

रविवार

अधिकतर लोग रविवार को बाल धोते हैं लेकिन सौभाग्यशाली महिलाओं को इस दिन बाल धोने से बचना चाहिए। ऐसा करने से परिवार के सदस्यों की तरक्की में बाधा आती है।

Share this story