रविंद्र सिंह आनंद ने की सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता राकेश लांबा से की मुलाकात

छोटी बिंदाल नदी को लेकर हुई चर्चा अधिशासी अभियंता द्वारा शांति विहार, टीचर्स कॉलोनी, जवाहर कॉलोनी में निर्माण कार्य जल्द होने का दिया आश्वासन

देहरादून। आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रविंद्र सिंह आनंद ने सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता राकेश लांबा से मुलाकात कर छोटी बिंदाल नदी में काफी समय से रुके हुए निर्माण एवं मरम्मत कार्यों पर चर्चा की। रविंद्र सिंह आनंद ने कहा की छोटी बिंदाल नदी जिसमें टीचर्स कॉलोनी ,शांति विहार, जवाहर कॉलोनी आदि में हर वर्ष बरसात का पानी आ जाता है जिसके चलते लोगों के घरों में पानी घुस जाता है जिससे लोगों का काफी नुकसान होता है और यह हर वर्ष हो रहा है।

इस पर अधिशासी अभियंता राकेश लांबा द्वारा अवगत कराया गया की 2.96 करोड़ का प्रोजेक्ट जोकि नियोजन से शासन को भेजे जाने की प्रक्रिया में गतिमान है जिसमें छोटी बिंदाल नदी टीचर्स कॉलोनी, शांति विहार, यमुना कॉलोनी नाला की मरम्मत आदि का कार्य होना है। इसके साथ ही शांति विहार में जो लूप है उसको बॉक्स बनाकर कवर किया जाएगा और ऊपर सड़क बनाई जाएगी जिससे लोगों के घरों में पानी ना घुस सके इसके साथ ही टीचर्स कॉलोनी में भी पुश्तो की मरम्मत एवं पानी के निकलने की जगह को ठीक किया जाएगा ।

रविंद्र आनंद द्वारा बड़ी बिंदाल नदी में लोगों के घर जो कि पुश्ते पर हैं उस पर भी चर्चा की गई क्योंकि वह पुश्ते क्षतिग्रस्त हो चुके हैं जिस पर अधिशासी अभियंता द्वारा बताया गया कि 1.29 करोड का अन्य प्रोजेक्ट जिसमें छोटी बिंदाल नदी के पुस्ते मरम्मत होंगे और इसकी ईएफसी (एक्सपेंडिचर फंड कमेटी) मेें प्रोजेक्ट स्वीकृत हो गया है और शासन द्वारा (इरीगेशन) सिंचाई विभाग को पैसा आना बाक़ी है जैसे ही यह पैसा इरिगेशन विभाग को मिलेगा तुरंत काम शुरू हो जाएगा।

रविंद्र आनंद द्वारा इस बरसात में लोगों के हुए मकानों के नुकसान की भी चर्चा की गई जिस पर अधिशासी अभियंता द्वारा कहा गया की सभी पुश्तो की जल्द से जल्द मरम्मत कराई जाएगी वही रविंद्र आनंद द्वारा बताया गया कि वह 1 वर्ष से भी अधिक समय से सिंचाई विभाग से बराबर बैठक कर रहे हैं जिससे यह योजनाएं गतिमान हुई है और जल्द ही लोगों को बरसात के जलभराव की समस्या से निजात मिलेगी । इस दौरान जितेंद्र बहल, रवि ठाकुर ,जसवंत नेगी, नवीन चौहान, विशाल बंसल सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.