Punjab Assembly Elections 2022: देखें लोगों के साथ भावनात्मक जुड़ाव बढ़ाने वाली तस्वीरें और वीडियो

पंजाब। कहा जाता है पंजाब एक राज्य नहीं है बल्कि एक भावना है। कुछ इसी तरह चुनाव प्रचार के बीच देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप पर इन्हीं भावनाओं को महसूस करने के साथ देखा जा सकता है। पंजाब में चुनाव मतदान की तारीख 20 फरवरी है और शुक्रवार को चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है। इसके चलते सभी दलों ने सोशल मीडिया पर इन्हीं भावनात्मक जुड़ाव की कुछ तस्वीरें और वीडियो शेयर किए हैं। आप भी देखें कौन किस तरह की तस्वीर और वीडियो शेयर कर रहा है।

देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप पर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने एक वीडियो शेयर करते हुए अपनी मां के लिए लिखा कि मेरे पहले गुरु और मार्गदर्शक…

वहीं, नवजोत सिंह सिद्धू ने चुनाव प्रचार के दौरान पटियाला-सरहिंद रोड का एक वीडियो सोशल मीडिया ऐप कू पर शेयर किया है। वीडियो में दिख रहा है एक गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। इसमें एक व्यक्ति को गंभीर चोट आई हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के काफिले ने रुककर घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाने का प्रबंध किया।

आम आदमी पार्टी के सीएम फेस भगवंत मान ने देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में एक बुजुर्ग औरत भगवंत मान को आशीर्वाद दे रही है।

वहीं, भगवंत मान ने सोशल मीडिया मंच कू ऐप पर दो फोटो शेयर कर लिखा कि सतगुरु की कृपा और माता जी का आशीर्वाद मिला…देश के महान शहीदों और धूरी में दाखिल नामांकन पत्र को देखते हुए बाबा साहब जी का पंजाब बनाने का सपना…

वहीं, सुखबीर सिंह बादल ने देसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप पर एक वीडियो शेयर कर लिखा कि आज अमृतसर से सुजानपुर जाते समय गुरदासपुर बाईपास पर सरकारी कॉलेज गेस्ट फैकल्टी प्रोफेसर बहनों और कुछ अन्य स्कूल शिक्षकों ने उन्हें रोक लिया। उन्होंने कहा कि वह लंबे समय से उनकी समस्याओं के समाधान के लिए पंजाब सरकार से संपर्क कर रहे थे लेकिन कांग्रेस सरकार ने उन्हें आश्वासन के अलावा कुछ नहीं दिया।

Koo App

ਅੱਜ ਅੰਮ੍ਰਿਤਸਰ ਤੋਂ ਸੁਜਾਨਪੁਰ ਜਾਣ ਸਮੇਂ, ਗੁਰਦਾਸਪੁਰ ਬਾਈ ਪਾਸ ’ਤੇ ਗਵਨਰਮੈਂਟ ਕਾਲਜ ਗੈਸਟ ਫੈਕਲਟੀ ਪ੍ਰੋਫ਼ੈਸਰ ਭੈਣਾਂ, ਅਤੇ ਕੁਝ ਹੋਰ ਸਕੂਲ ਅਧਿਆਪਕ ਭੈਣਾਂ ਵੱਲੋਂ ਰੋਕੇ ਜਾਣ ’ਤੇ ਗੱਡੀ ਰੋਕ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਗੱਲ ਸੁਣੀ। ਬੜੇ ਭਰੇ ਮਨ ਨਾਲ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਲੰਮੇ ਸਮੇਂ ਤੋਂ ਆਪਣੀਆਂ ਮੁਸ਼ਕਿਲਾਂ ਦੇ ਹੱਲ ਵਾਸਤੇ ਪੰਜਾਬ ਸਰਕਾਰ ਕੋਲ ਪਹੁੰਚ ਕਰ ਰਹੀਆਂ ਹਨ, ਪਰ ਕਾਂਗਰਸ ਸਰਕਾਰ ਨੇ ਸਿਵਾਏ ਲਾਰਿਆਂ ਦੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਕੁਝ ਨਹੀਂ ਦਿੱਤਾ।

Sukhbir Singh Badal (@sukhbir_singh_badal) 16 Dec 2021

Leave A Reply

Your email address will not be published.