स्कोडा ऑटो इंडिया ने 2023 में कंपनी के विकास को तेजी देने की बनाई योजना

स्कोडा ऑटो इंडिया ने 2023 में कंपनी के विकास को तेजी देने की बनाई योजना

देहरादून। स्कोडा ऑटो इंडिया ने 2022 में अपना सबसे बड़ा वर्ष हासिल करने के बाद, 2023 में तेज रफ्तार से विकास करने का एजेंडा स्पष्ट रूप से तय किया है। कंपनी ने 2021 की तुलना में 2022 में कारों की पहले ही दोगुनी से ज्यादा सालाना बिक्री की है। 2022 में स्कोडा ऑटो इंडिया ने 53,721 कारों की बिक्री की और पिछले साल की तुलना में 125 फीसदी की सालाना बढ़ोतरी दर्ज की। 2023 में कार निर्माता कंपनी की योजना कई प्रॉडक्ट्स को लॉन्च करने की है। कंपनी ने अपने नेटवर्क के विस्तार की योजना बनाई है।

कंपनी ने 2023 के अपने एजेंडे में कंपनी के विस्तार को केंद्र में रखा है। 2023 में स्कोडा ऑटो इंडिया दहाई अंकों में विकास दर्ज करेगी। कंपनी भारत में अपने नेटवर्क का विस्तार करेगी और इसकी योजना देश के कई नए शहरों में प्रवेश करने की है। स्कोडा ऑटो इंडिय़ा के ब्रैंड डायरेक्टर पेट्र सॉल्क ने कहा कि हम भारत में पहली बार 50 हजार कारों की बिक्री का आंकड़ा पार कर बेहद खुश हैं। 2022 में स्कोडा की 53,721 कारों की बिक्री हुई। हमने 2021 की तुलना में 2022 में अपनी कारों की दोगुनी बिक्री की है।

हमारी क्षेत्रीय और राष्ट्रीय मौजूदगी लगातार बढ़ रही है। इन सभी कारकों ने 2022 को वास्तव में कंपनी के लिए सभी मोर्चों पर बड़ा साल बना दिया। 2023 में हम ज्यादा से ज्य़ादा प्रॉडक्ट्स लॉन्च कर विकास की तेज रफ्तार का रास्ता बनाएंगे। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि हमारे इंडिया 2.0 के प्रॉडक्ट्स अच्छी तरह स्थापित हो, उससे धीरे-धीरे हमारे नेटवर्क का विस्तार हो। इसी के साथ हमारी नजर ग्राहकों की संतुष्टि पर है। हमारा आईसीई और ईवी दोनों के साथ अपने पोर्टफोलियो का विस्तार करने की रणनीति पर गहराई से ध्यान होगा।

कुछ महीनों पहले इंडिया 2.0 की रणनीति के तहत कंपनी के पहले प्रॉडक्ट स्कोडा कुशाक एसयूवी ने नवीनतम ग्लोबल न्यू कार एसेसमेंट प्रोग्राम (जीएनसीएपी) क्रैश टेस्ट में पूर्ण 5 स्टार रेटिंग अर्जित की है। इससे स्कोडा भारत की सबसे सुरक्षित कार बन गई है। कार में बैठने वाले वयस्कों और बच्चों की सुरक्षा के लिहाज से कार को फुल 5 स्टार की रेटिंग दी गई है। 2023 में सुरक्षा के नजरिए से कुशाक सबसे प्रमुख कारों में से एक होगी।

Share this story