एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने महिला कर्मचारियों के लिए माहवारी अवकाश की शुरुआत की

 स्मॉल फाइनेंस बैंक

देहरादून : भारत का सबसे बड़ा स्मॉल फाइनेंस बैंक, एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक आज उन भारतीय कंपनियों की सूची में शामिल हो गया, जो अपनी महिला कर्मचारियों के लिए माहवारी अवकाश प्रदान करती हैं। इसके अलावा, बैंक ने संस्थान छोड़कर जाने वाले कर्मचारियों के लिए बैंकिंग में अपनी तरह की पहली पहल 'एयू फॉरएवर पास' भी घोषणा की।

'विविधता और समावेशन' एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के संचालन के केंद्र में है। मासिक धर्म की अवकाश नीति के साथ बैंक का लक्ष्य महिलाओं के लिए हर महीने 1 दिन का अतिरिक्त सवैतनिक अवकाश प्रदान करके एक समावेशी कार्यस्थल का निर्माण करना है। यह अवकाश मौजूदा तय अवकाश के अलावा होगा। यह नीति फरवरी 2023 से लागू की जाएगी।

बैंकिंग की पहली पहल के रूप में, स्मॉल फाइनेंस बैंक ने 3 साल की सेवा के बाद संगठन छोड़ने वाले कर्मचारियों के लिए एक विशेष 'एयू फॉरएवर पास' भी लॉन्च किया है। संस्थान छोड़ते समय, स्वर्ण-मानक सेवा रिकॉर्ड और बैंक के विकास में असाधारण योगदान देने वाले चुनिंदा कर्मचारियों को 'एयू फॉरएवर पास' सदस्यता प्रदान की जाएगी। यह पास उन कर्मचारियों को जब भी वे चाहें एयू एसएफबी में शामिल होने का एक निश्चित अवसर प्रदान करता है।

कर्मचारी केंद्रित इन क्रांतिकारी पहलों को शुरू करने के उद्देश्य पर बोलते हुए एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी और सीईओ श्री संजय अग्रवाल ने कहा, ''बदलाव' के अपने सिद्धांत के तहत सभी के लिए समावेशी विकास के लिए हम अपने संगठन के भीतर आवश्यक बदलाव लाने की दिशा में काम कर रहे हैं। किसी कार्यस्थल की संस्कृति को केवल तभी पूरी तरह से समावेशी माना जा सकता है जब वह संगठन संवेदनशील बनकर कार्यबल में प्रवेश करने की इच्छुक महिलाओं के लिए व्यावसायिक वातावरण दे और यहां तक ​​कि संस्थान छोड़कर जाने वाले कर्मचारियों सहित अपने विविध कार्यबल की जरूरतों को पूरा करता हो। इसी तरह, 'एयू फॉरएवर पास' हमारे उन कर्मचारियों के योगदान का सम्मान करने के लिए पेश किया गया है जो व्यक्तिगत अत्यावश्यकता या पेशेवर आकांक्षाओं के कारण हमारे संगठन को छोड़ते हैं। 'बदलाव' की इस यात्रा में हम अपने सभी कर्मचारियों का हाथ थामे आगे बढ़ते रहेंगे।”

इसके अलावा, एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के मानव संसाधन प्रमुख श्री विवेक त्रिपाठी ने कहा, ''एयू बैंक ने महामारी के दौरान और उसके बाद अपने कर्मचारियों के लिए कार्यस्थल को सुरक्षित और स्वस्थ बनाने के लिए कई पहल की हैं। हाल के दिनों में बैंक ने कर्मचारियों, परिवारों और समुदायों की बदलती जरूरतों को पूरा करने के लिए 'एयू फॉरएवर पास', माहवारी अवकाश नीति, जन्मदिन की छुट्टी, शादी की सालगिरह की छुट्टी, पितृत्व अवकाश, छुट्टी दान करने की नीति, लंबे समय तक सेवा करने वाले कर्मचारियों के लिए सवेतन अवकाश, शिक्षा सहायता कार्यक्रम, व्यक्तिगत ऋण नीति, रियायती गृह ऋण नीति जैसी नीतियों को अपनाया है।"

Share this story