मेरठ और मुजफ्फरनगर में एक ही दिन में तीन मुठभेड़

मेरठ। पश्चिमी यूपी के मेरठ और मुजफ्फरनगर में एक ही दिन में तीन मुठभेड़ हुई। एक जगह तो पुलिस और बदमाशों के बीच सीधी मुठभेड़ हुई। इन तीनों मुठभेड़ों में दो 25-25 हजार के इनामी सहित छह को गिरफ्तार किया गया है। बदमाशों की खुली चुनौती का जवाब मेरठ पुलिस ने बृहस्पतिवार को दो अलग-अलग मुठभेड़ में दिया। दोनों जगह पर मुठभेड़ में दो बदमाशों को पैर में गोली मारी है। उक्त बदमाशों के साथियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। सीओ दौराला जितेंद्र सरगम के अनुसार, सुबह करीब 5:45 बजे मुखबिर से सूचना मिली कि हाईवे पर वाहन लूटने वाला गिरोह पल्लवपुरम क्षेत्र से गुजरने वाला है। इसके बाद हाईवे पर चेकिंग के दौरान एक कैंटर चालक तेजी से भाग निकला। पुलिस ने वाहन का पीछा किया तो बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में एक बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हो गया। उसकी पहचान बागपत के डोला गांव निवासी जैद पुत्र मुनसेद के रूप में हुई। पुलिस ने मौके से एक तमंचा, एक कारतूस, एक खोखा और चोरी का कैंटर बरामद किया।

वहीं तीन दिन पहले मवाना में बैंक का कैश लूटने के दौरान बदमाशों ने गार्ड समेत दो लोगों को गोली मार दी थी। इस वारदात से जुड़े बदमाशों को पकड़ने के लिए एसएसपी ने मवाना पुलिस के साथ एसओजी टीम लगाई थी। एसओजी प्रभारी तपेश्वर सागर को जानकारी मिली कि वारदात गाजियाबाद गैंग ने की है। इसी आधार पर पुलिस बदमाशों की तलाश में लगी रही। बृहस्पतिवार शाम चार बजे बदमाश सचिन उर्फ टीटू व योगेन्द्र उर्फ मोनू निवासी सुराना मुरादनगर अपने साथी अंकुर के पास गांव मटोरा आए थे। जानकारी लगते ही एसओजी टीम मटोरा गांव पहुंच गई। वहां भी बदमाशों से सीधी मुठभेड़ हुई। पुलिस की जवाबी फायरिंग में सचिन के पैर में गोली लगी। उसका साथी योगेंद्र मौके से फरार हो गया। बदमाश के पास से पुलिस ने बाइक, तमंचा और कारतूस बरामद किए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.