नई दिल्ली परीक्षा पे चर्चा प्रधानमंत्री के लिए आए 20 लाख प्रश्न, एनसीआरटी कर रहा है प्रश्नों का संकलन

नई दिल्ली परीक्षा पे चर्चा’  प्रधानमंत्री के लिए आए 20 लाख प्रश्न, एनसीआरटी कर रहा है प्रश्नों का संकलन

नई दिल्ली (आरएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ करेंगे। लाखों छात्र व अन्य लोग इस दौरान प्रधानमंत्री से प्रश्न पूछना चाहते हैं। अभी तक शिक्षा मंत्रालय को प्रधानमंत्री से पूछे जाने के लिए 20 लाख से अधिक प्रश्न मिल चुके हैं। मंगलवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने यह महत्वपूर्ण जानकारी दी। शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम में भाग लेने के लिए इस वर्ष 38 लाख से अधिक लोगों ने अपना पंजीकरण कराया है। वहीं बीते वर्ष 15.5 लाख छात्रों ने अपना पंजीकरण कराया था, जबकि वर्ष 2018 में यह संख्या केवल 22 हजार के आसपास थी।

प्रधानमंत्री व छात्रों के बीच यह संवाद कार्यक्रम दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होगा। शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रत्येक राज्य को प्रतिनिधित्व दिया गया है और हर राज्य के छात्र प्रधानमंत्री के साथ इस संवाद कार्यक्रम में शामिल होंगे। वहीं एनसीईआरटी प्रधानमंत्री के लिए आए 20 लाख प्रश्नों का संकलन कर रहा है। इनमें से कुछ प्रश्न प्रधानमंत्री के समक्ष रखे जाएंगे और वह इन प्रश्नों का उत्तर देंगे। प्रधानमंत्री से प्रश्न पूछने वालों में लाखों छात्र, शिक्षक, अभिभावक, मनोचिकित्सक, शिक्षाविद् व अन्य लोग शामिल हैं। शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक प्रधानमंत्री द्वारा लिखी गई पुस्तक एग्जाम वारियर्स का भारत की सभी प्रमुख 13 क्षेत्रीय भाषाओं में अनुवाद किया गया है।

शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक इससे तनावपूर्ण समय में, असहज एवं भ्रमित करने वाले विचारों के बारे में बात करने और उन्हें साझा करने से छात्रों के तनाव एवं चिंता को काफी हद तक कम करने में मदद मिलती है। यह छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों को अपने विचार साझा करने और पीएम से मार्गदर्शन एवं महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त करने के लिए मंच प्रदान करने का एक प्रयास है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय का कहना है कि परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में इस वर्ष प्रत्येक राज्य का प्रतिनिधित्व होगा। शिक्षा मंत्री ने बताया कि परीक्षा पर चर्चा के लिए पंजीकरण कराने वाले छात्रों में से 16 लाख छात्र विभिन्न राज्यों के स्टेट शिक्षा बोर्ड से हैं। प्रत्येक राज्य से छात्रों को प्रधानमंत्री के संवाद कार्यक्रम में शामिल करने के लिए दिल्ली बुलाया गया है। देशभर के अलग-अलग राज्यों से कुल 102 छात्र दिल्ली पहुंच रहे हैं। परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में कुल लगभग ढाई हजार छात्र शामिल होंगे।

इनमें से लगभग 200 छात्र 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह के अतिथि भी बनाए गए हैं। यह छात्र कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस समारोह में आमंत्रित किए गए हैं। शिक्षा मंत्री के मुताबिक दूसरे राज्यों से आ रहे लगभग सभी छात्र 25 जनवरी तक दिल्ली पहुंच जाएंगे। इसके उपरांत यह छात्रों 29 जनवरी तक दिल्ली में ही रहकर इमर्जिंग इंडिया की झलक देखेंगे। यह छात्र दिल्ली में राजघाट, सदैव अटल, कर्तव्य पथ, पीएम संग्रहालय व अन्य मॉन्यूमेंट देखने जाएंगे।

Share this story