5 साल पुराने वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर सोशल मीडिया पर किया जा रहा भ्रामक प्रचार, भक्तों में रोष

हरिद्वार। संत श्री मुरारी बापू के 5 साल पुराने वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर सोशल मीडिया पर चलाने और भ्रामक प्रचार करने पर भक्तों में काफी रोष है।

सन 2018 में संत श्री मुरारी बापू ने मुस्लिम सामूहिक विवाह के कार्यक्रम में शिरकत करते हुए कहा था कि आप राम मंदिर में आइए वहां पर नमाज अदा कीजिए मुझे उससे कोई परेशानी नहीं है लेकिन मैं भी घंटे घड़ियाल लेकर मस्जिद में आऊंगा आपको भी परेशानी नहीं होना चाहिए। भक्तों ने यह वीडियो जारी किया है।

इस वीडियो को पूरा देखने पर पता चलता है कि इस वीडियो के सिर्फ आगे के हिस्से को काट छांट कर सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा चलाया जा रहा है।

इस बात को लेकर संत श्री मुरारीरारी बापू के भक्तों में काफी रोष है। गुरुवार को इंदौर आगमन पर इंदौर में संत श्री मुरारी बापू ने बताया कि मैं कुछ भी बोलूं उसे काट कर दिखाया जाता है। आगे की बात सुनोगे तो कोई विवाद नहीं कह सकता।

अभी तक तो राजनेता ही एक दूसरे पर कीचड़ उछालने के लिए ओरिजिनल वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर एक दूसरे की छवि धूमिल करने का प्रयास करते रहे लेकिन संतो के वीडियो के साथ इस तरह की छेड़छाड़ कर कौन सा वातावरण बनाने का प्रयास किया जा रहा है यह सोचने का विषय है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.