क्या अतीत के चक्कर से रिश्तें हो रहे है खराब? अपनाये ये टिप्स जल्द दूर होंगी सारी परेशानी
क्या अतीत के चक्कर से रिश्तें हो रहे है खराब? अपनाये ये टिप्स जल्द दूर होंगी सारी परेशानी

आपने सुना ही होगा कि रिश्ते एक नाजुक सी डोर से बंधे होते हैं. अगर इनमें विश्वास नाम का मजबूत धागा ना लगाया जाए तो कोई भी इन्हें आसानी से तोड़ सकता है. कई बार तो ऐसा होता है कि आप अपने रिश्तों को बचाते-बचाते उसे बिगाड़ देते हैं और जब तक आप समझ पाते हैं, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है. ऐसा इसलिए, क्योंकि आप अपने पार्टनर से हर बात शेयर करते हैं, फिर चाहे वह आपके अतीत की ही क्यों न हो. अगर प्यार में अतीत आ जाए तो कैसे संभला जाए, जिससे कि आपका रिश्ता टूटने से बच जाए. बताते हैं इसके कुछ टिप्स.

इंटरैक्शन और कम्युनिकेशन
किसी भी रिश्ते को बचाने के लिए इंटरैक्शन और कम्युनिकेशन बेहद ज़रूरी होता है. आप अपने पार्टनर से बात करें, जिससे कि ज्यादा परेशानियां ना बढ़ सकें. अगर बात हद से ज्यादा बढ़ गई है तो आप दोनों एक साथ बैठें और आपस में बातचीत करें, जिससे कि दोनों के बीच की जो गलतफहमी है, उसे दूर किया जा सके और आपसी समझ से रिश्तों को फिर से पटरी पर लाया जा सके.

सॉरी कहना
रिश्तो में थोड़ी बहुत अनबन होती रहती है, लेकिन कुछ अनबन ऐसी होती है जो छोटी सी बात से शुरू होकर तलाक तक पहुंच जाती है. ऐसी नौबत ना आए, इसके लिए ज़रूरी है आप दोनों एक-दूसरे से सॉरी कहने की भी आदत डालें. गलती छोटी हो या बड़ी अगर माफी मांग लेते हैं तो बात वहीं खत्म हो जाती है.  इससे प्यार का रिश्ता और भी ज्यादा मजबूत हो जाता है. ईगो को साइड में रखकर रिश्तों को अहमियत दें.

कमजोरियों को न गिनाएं
रिलेशनशिप में आप अपना दायरा याद रखें और अपने पार्टनर से भी यही अपेक्षा करें कि वह अपने दायरे में ही रहे, क्योंकि अगर आप दोनों सीमाओं को ध्यान में रखेंगे तो कभी भी मनमुटाव नहीं होगा और हमेशा प्यार बना रहेगा. साथ ही आप अपने पार्टनर से अपनी कमजोरियों को न गिनाएं, क्योंकि कमजोरियों पर लोग उंगली उठाते हैं, इसलिए अच्छाइयों पर ध्यान दें.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Devpath इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Share this story