पाकिस्तान में फंसे भारतीय नागरिक गुरुवार से लौटेंगे अपने देश

इस्लामाबाद। कोरोनोवायरस के चलते पाकिस्तान और अन्य पड़ोसी देशों ने अपनी सीमाएं बंद कर दी थी। साथ ही लॉकडाउन लगा दिया गया था। इसके चलते कई देशों में भारतीय नागरिक फंसे हैं। अब पाकिस्तान में फंसे 748 भारतीय नागरिक गुरुवार से अपने देश लौटेंगे। सरकार ने उनके स्वदेश लौटने की सारी प्रक्रियाओं को अंतिम रूप दे दिया है।

सरकार के सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान से कई फेज में भारतीय नागरिक वाघा बॉर्डर के जरिए भारत आएंगे। 25 जून से इसकी शुरुआत की जाएगी। यह प्रक्रिया तीन फेज में पूरी कर ली जाएगी। पाकिस्तान में मौजूद भारतीय दूतावास वहां फंसे नागरिकों के संपर्क में है। गृह मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय नागरिकों को वाघा बॉर्डर से तीन चरणों में लाया जाएगा। नागरिकों की एक सूची संबंधित विभागों और पंजाब रेंजर्स को भेज दी गई है।

वाघा बॉर्डर 25 से 27 जून तक खोला जाएगा

गुरुवार को पहले फेज में 250, शुक्रवार को दूसरे फेज में 250 और शनिवार को तीसरे फेज में 248 भारतीय अपने देश लौटेंगे। आदेश के अनुसार, वाघा बॉर्डर 25 से 27 जून तक खोला जाएगा। पाकिस्तान सरकार ने भारतीय नागरिकों के लौटने को लेकर वाघा बॉर्डर पर अपने इमिग्रेशन अधिकारियों को सूचित कर दिया है। वहां से लौटने वाले नागरिकों को 14 दिनों तक क्वारैंटाइन किया जाएगा।

भारत से भी 250 नागरिक पाकिस्तान जा चुके हैं

हालांकि, जम्मू-कश्मीर, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के नागरिकों को उन्हीं के राज्य में क्वारैंटाइन किया जाएगा। पाकिस्तान ने भी भारत में फंसे अपने नागरिकों की वापसी को लेकर यहां अधिकारियों से कहा है। भारत से लगभग 250 पाकिस्तानी नागरिक अब तक वापस आ चुके हैं, जबकि बाकि नागरिकों की वापसी को लेकर अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.