वर्ल्ड कप होता है तो आईपीएल मुश्किल, बोर्ड को होगा लगभग 4 हजार करोड़ का नुकसान

कोरोनावायरस के कारण आईपीएल का मौजूदा सीजन पहले ही अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है। इस बीच बीसीसीआई टी-20 वर्ल्ड कप के टलने पर इसके आयोजन की तैयारी कर रहा है। जानकारी के मुताबिक 25 सितंबर से 30 अक्टूबर के बीच आईपीएल हो सकता है। यानी 36 दिन में 60 मैच खेले जाएंगे। हर दिन दो मैच होंगे।

इस सीजन में होम और अवे (विपक्षी टीम के घर में) जैसा फॉर्मेट नहीं होगा। पांच वैन्यू पर पूरा टूर्नामेंट हो सकता है। टूर्नामेंट के मुकाबले भी कम किए जाएंगे।

वर्ल्ड कप होता है तो आईपीएल मुश्किल

ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में टी-20 वर्ल्ड कप होना है। आईसीसी अगले महीने वर्ल्ड कप के आयोजन पर निर्णय करेगा। इसे टाला जा सकता है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने स्टेडियम में 25% फैंस के आने की अनुमति दे दी है। ऐसे में आयोजन की उम्मीद बढ़ गई है। अगर वर्ल्ड कप होता है तो आईपीएल का आयोजन मुश्किल होगा। आईपीएल के नहीं होने से बोर्ड को लगभग 4 हजार करोड़ का नुकसान होगा। इसके अलावा खिलाड़ियों को भी करोड़ों रुपए की सैलरी नहीं मिलेगी।

कोरोना कम नहीं हुआ तो देश के बाहर आयोजन

कोरोनावायरस के कारण देश के चुनिंदा स्टेडियम में मैच खेले जाएंगे। फैंस के आने पर अब तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। देश में अगर कोरोना की स्थिति नहीं सुधरती है तो इसे देश के बाहर आयोजित किया जाएगा। कोरोना मुक्त देश को प्राथमिकता मिलेगी। न्यूजीलैंड खुद को कोरोना मुक्त देश घोषित कर चुका है। ऐसे में वहां भी आयोजन को लेकर चर्चा चल रही है। श्रीलंका और यूएई में भी आयोजन हो सकता है।

टॉप-4 टीम के बीच सेमीफाइनल मुकाबले होंगे

आईपीएल में अधिकतर शनिवार और रविवार को ही 2-2 मुकाबले खेले जाते थे। इस बार कम दिनों में आयोजन के कारण हर दिन दो-दो मुकाबले होंगे। इस बार प्लेऑफ जैसा फॉर्मेट नहीं होगा। प्लेऑफ में क्वालिफायर-1, एलिमिनेटर और क्वालिफायर-2 होते हैं। इस बार लीग मुकाबले के बाद टॉप-4 टीमों के बीच सेमीफाइनल मुकाबले खेले जाएंगे। बोर्ड की पूरी कोशिश है कि विदेशी खिलाड़ियों को भी लीग में उतारा जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.