इंजी.ललित शौर्य को मिलेगा राष्ट्रीय बाल साहित्यकार सम्मान

पिथौरागढ़ : चर्चित बाल साहित्यकार इंजी. ललित शौर्य को वर्ष 2021 का सुप्रसिद्ध पंडित प्रताप नारायण मिश्र युवा साहित्यकार सम्मान मिलने जा रहा है। भाऊराव देवरस सेवा न्यास लखनऊ द्वारा यह सम्मान ललित शौर्य को प्रदान किया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर पर इस सम्मान के लिए प्रविष्ठियाँ आमंत्रित की गई थी। सैकड़ों प्रविष्ठियों में से ललित शौर्य का चयन किया गया है। भाऊराव देवरस सेवा न्यास प्रतिवर्ष 40 वर्ष से कम आयु के छः साहित्यकारों को सम्मानित करता है। छः अलग-अलग विधाओं में सम्मान प्रदान किए जाते हैं।

पंडित प्रताप नारायण मिश्र युवा साहित्यकार सम्मान 2021 के संयोजक डॉक्टर विजय कुमार कर्ण ने बताते हुए कहा कि वर्ष 2021 के लिए बाल साहित्य विधा में उत्तराखंड के युवा बाल साहित्यकार ललित शौर्य को सम्मानित किया जाएगा। इसके साथ ही काव्य विधा में छत्तीसगढ़ के विक्रम सिंह, कथा साहित्य में राजस्थान के उत्कर्ष नारायण, पत्रकारिता में लखनऊ की दुर्गा शर्मा, संस्कृत में कोलकाता के सुधाकर मिश्र, असमिया भाषा में रूपम साइकिया शास्त्री को यह सम्मान प्रदान किया जाएगा। डॉ. विजय कर्ण ने कहा कि सभी चयनित साहित्यकारों को राष्ट्रीय समारोह में नगद धनराशि, प्रशस्ति पत्र, सरस्वती प्रतिमा व पंडित प्रताप नारायण मिश्र की किताबें भेंट की जाएंगी।

ललित शौर्य लंबे समय से बाल साहित्य लिख रहें हैं। अब तक बाल साहित्य में उनकी दादाजी की चौपाल, कोरोना वॉरियर्स, स्वच्छता के सिपाही, जल की पुकार , द मैजिकल ग्लब्ज, फ़ॉरेस्ट वॉरियर्स पुस्तकें आ चुकी हैं। इसके अलावा शौर्य छः किताबों का संपादन कर चुके हैं। उनका एक कविता संग्रह सृजन सुगन्धि नाम से आ चुका है।शौर्य को अनेकों संस्थाओं द्वारा राष्ट्रीय व प्रादेशिक सम्मान मिल चुके हैं। शौर्य की इस उपलब्धि पर जनपद के साहित्यकारों में खुशी की लहर है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.