रिक्त पदों का आंकड़ा मालूम नहीं, चले हैं एक लाख सरकारी नौकरियां बांटने : मोर्चा

# प्रदेश का युवा सोया हुआ जरूर है, लेकिन बेसुध नहीं ! # उत्तराखंड की जनता को हल्के में लेने की भूल न करे|

विकासनगर : जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि सत्ता हासिल करने को आतुर एक राजनैतिक दल द्वारा चंद रोज पहले यह कहा गया था कि प्रदेश में सत्ता में आने पर एक लाख युवाओं को सरकारी रोजगार देंगे, उक्त बयान बहुत ही गैर जिम्मेदाराना है, जिसकी मोर्चा कड़ी निंदा करता है|

नेगी ने कहा कि उक्त दल को घोषणा करने से पहले प्रदेश के रिक्त पदों के आंकड़ों एवं उनके वर्तमान स्टेटस पर होमवर्क करना चाहिए था, लेकिन प्रदेश की जनता को भोली-भाली समझ कर इस प्रकार की मनगढ़ंत घोषणा करना युवाओं को छलने जैसा है|

नेगी ने उक्त दल पर प्रहार करते हुए कहा कि जिस प्रदेश में वर्तमान में 50-60 हजार पद रिक्त चल रहे हों तथा कई हजार पदों पर अधियाचन प्रेषित किया जा चुका हो और उन पर काम भी शुरू हो गया हो, तो ऐसे में सिर्फ और सिर्फ सत्ता हासिल करने का मकसद लिए कोई दल एक लाख लोगों को सरकारी रोजगार दिए जाने की बात कैसे कर सकता है!

नेगी ने कहा कि यह अलग बात है कि प्रदेश का युवा बेरोजगार अपने रोजगार संबंधी मांगों को लेकर सोया हुआ है, लेकिन बेसुध नहीं है! नेगी ने व्यंग कसते हुए कहा है कि शायद उक्त दल वर्तमान में कार्यरत सरकारी कर्मचारियों को हटाकर नई नियुक्तियां प्रदान करेगा! पत्रकार वार्ता में मोर्चा महासचिव आकाश पंवार व विजय राम शर्मा थे|

Leave A Reply

Your email address will not be published.