उड़ीसा से तस्करी कर राजस्थान लाई जा रही गांजे की खेप पकड़ी, 3 तस्कर गिरफ्तार
CRIME : UKSSSC में सालों से चल रहे फर्जीवाड़े को लेकर एसटीएफ का बड़ा खुलासा

जयपुर (आरएनएस)। सीआईडी क्राइम ब्रांच की टीम ने मादक पदार्थ तस्करों के विरुद्ध एक और बड़ी कार्रवाई करते हुए भीलवाड़ा जिले के कारोई थाना क्षेत्र में कार सवार 3 अंतर राज्य तस्कर भगतपुरिया थाना बागोर जिला भीलवाड़ा निवासी रविंद्र सिंह पुत्र माधु सिंह (25) एवं बक्शु लाल जाट पुत्र जोधराज (25) एवं सतखण्डा थाना निंबाहेड़ा जिला चित्तौडग़ढ़ निवासी मोहन लाल उर्फ बबलू नायक पुत्र दयाराम (25) को गिरफ्तार कर उच्च क्वालिटी का 44.35 किलो गांजा बरामद किया है। जब्त किये गये गांजे की अंतरराष्ट्रीय बाजार में अनुमानित कीमत करीब 8 लाख रुपये है।

एडीजी क्राइम डॉ रवि प्रकाश मेहरड़ा ने बताया कि गिरफ्तार तस्कर उड़ीसा से मादक पदार्थ गांजे की तस्करी कर राजस्थान ला रहे थे। जिनके बारे में मुखबिर से सूचना मिलने पर क्राइम ब्रांच के डीएसपी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ के सुपरविजन एवं इंस्पेक्टर शिवदास मीणा के नेतृत्व में टीम को चित्तौडग़ढ़ और भीलवाड़ा की तरफ रवाना किया गया। सूचना के अनुसार तस्करों की कार की पहचान कर पीछा किया गया। भीलवाड़ा जिले के कारोई थाना क्षेत्र में स्थानीय पुलिस के सहयोग से तस्करों की कार को टीम ने रोक लिया।

एडीजी ने बताया कि कार की तलाशी में कार के नीचे स्टेपनी लगाने वाली जगह पर बनाएं गुप्त चैम्बर से 14 पैकेट में 44 किलो 351 ग्राम उच्चतम क्वालिटी का गांजा मिला। जिसे कारोई थाना पुलिस द्वारा जप्त कर कार सवार तस्कर रविंद्र सिंह, बक्शु लाल जाट एवं मोहन नायक को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया। जिनसे थाना पुलिस द्वारा अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।

एडीजी डॉ मेहरड़ा ने बताया कि गिरफ्तार तस्कर भंवर लाल जाट एवं राम सिंह चूडावत शातिर तस्कर है। जिन्होंने प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि वे पहले भी अन्य राज्यों से अवैध मादक पदार्थ तस्करी कर राजस्थान में सप्लाई करते रहे हैं। कई बार पुलिस को चकमा देने में कामयाब रहे हैं।
एडीजी ने बताया कि सीआईडी क्राइम ब्रांच की टीम इन तस्करों पर लंबे समय से नजर रख रही थी। रविवार को जैसे ही आरोपी तस्कर गांजे की तस्करी कर राजस्थान लाये, टीम ने इन्हें दबोच लिया।

Share this story