CRIME BULLETIN-9 जानिए उत्तराखंड में अपराध जगत का आज का हाल, सभी खबरें एक साथ एक क्लिक पर अभी पढ़े...
crime news

मंदिर में चोरी करते दो लोग धरे
बागेश्वर।
थाना पुलिस क्षेत्र के अंतर्गत दुलम गांव में ग्रामीण की सजगता के चलते भगवती मंदिर में चोरी करते हुए दो लोग धरे गए। उनके पास से सोने के दो छत्र चांदी के तीन सिक्के बरामद हुए। पुलिस दोनों को गिरफ्तार कर पहले थाने लाई। बाद में न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय के आदेश के बाद दोनों को जेल भेज दिया है। थानाध्यक्ष प्रताप सिंह नगरकोटी ने बताया कि रविवार की शाम आरोपी 38 वर्षीय कुंवर सिंह सौरागी पुत्र केशर सिंह ग्राम गोठना, पोस्ट कर्मी था, जबकि दूसरा आरोपी 40 वर्षीय रमेश सिंह पुत्र बीर बहादुर मूल निवासी नेपाल ग्राम कैलाली जिला सड़कपुर बोनिया जिला कैलाली था। दोनों से बरामद चोरी के सामान की कीमत लगभग 95 हजार है। सोमवार को दोनों को न्यायालय के आदेश के बाद दोनेां को अल्मोड़ा जेल भेज दिया है।

27 अगस्त से घर से निकली वृद्धा का अब तक नहीं लगा सुराग

बागेश्वर। कोतवाली क्षेत्र के पंद्रहपाली गांव की 76 वर्षीया गौरा देवी का 25 दिन बाद भी पता नहीं चल सका है। परेशान परिजनों ने उसे कई जगह खोज लिया, लेकिन सफलता नहीं मिली। परिजनों से जिलाधिकारी पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर मदद की गुहार लगाई है। परिजनों का कहना है कि 27 अगस्त को वहघर से बाजार दवाई लेने को निकली थी। जिसके बाद वह घर नहीं लौटी। इस दौरान उन्होंने अपनी जान-पहचान के अलावा संभावित स्थानों में भी जानकारी जुटाई, लेकिन कोई सफलता नहीं मिल पाई। पुलिस में गुमशुदगी भी लिखा दी है, लेकिन नतीजा आज भी सिफर है। परिजन उनकी तलाश में कौसानी, डंगोली सोमेश्वर कई जगह हो आए हैं। सोमवार को परेशान परिजना पहले डीएम रीना जोशी बाद में एसपी अमित श्रीवास्तव से मिले। ढूंढखोज में सहयोग की अपी की। मांग करने वालों में बुजुर्ग महिला के बेटे महेश हरड़िया, गणेश हरड़िया, मनोज टंगड़िया, ममता हरड़िया, नीरज आदि मौजूद थे। डीएम ने पुलिस को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। एसपी श्रीवास्तव ने कहा कि नगर में लगे सीसीटीवी खंगाले जाएंगे।

शराब के साथ दो लोग पकड़े
नई टिहरी।
पुलिस की मीडिया सेल से प्राप्त जानकारी के अनुसार कैंपटी थाना क्षेत्र में पुलिस ने चेकिंग अभियान के दौरान सोमवार सुबह 10 लीटर कच्ची शराब के साथ गुरदयाल सिंह पुत्र केसर सिंह, निवासी गांव कुदाउ पट्टी सिलवाड़ को हिरासत में लिया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एक्साइज ऐक्ट में कार्रवाई की है। आरोपी को पकड़ने वालों में बलबीर पंवार, रवि चौहान, अनिल सिंह, नितिन कुमार आदि पुलिसकर्मी शामिल रहे। वहीं दूसरी ओर थाना घनसाली पुलिस ने ढुंग बाजार में छापेमारी के दौरान 8 पेटी अंग्रजी शराब के साथ जसपाल सिंह पुत्र गंभीर सिंह, निवासी ग्राम माजफ तहसील प्रतापनगर को हिरासत में लेकर एक्साइज ऐक्ट के तहत कार्रवाई की है। आरोपी को पकड़ने वालों में थानाध्यक्ष सुखपाल, योगेंद्र, राजीव कुमार, अनिल और नितिन शामिल रहे।

65 पुड़िया गांजे सहित गिरफ्तार किया
हरिद्वार।
मादक पदार्थो की तस्रकी पर अंकुश लगाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर गांजा बरामद किया है। ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने हाल ही में अवैध रूप से शराब, चरस, गांजा, स्मैक आदि मादक पदार्थो का ध्ंाधा करने वालों की सूची जारी की थी। सूची में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई के क्रम में कोतवाली पुलिस ने चक्की वाली गली लाल मंदिर निवासी रिंकू के ठिकाने पर छापामारी कर उसके कब्जे से गांजे की 65 पुड़िया बरामद की हैं। आरोपी रिंकू के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकद्मा दर्ज कर उसके गिरफ्तार कर लिया गया। कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी ने बताया कि आरोपी रिंकू शर्मा लंबे समय से मादक पदार्थो के अवैध धंधे में शामिल हैं और उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट आबकारी एक्ट के कई मुकद्मे दर्ज हैं। पुलिस टीम में एसआई सुधांशु कौशिक, कांस्टेबल हसलवीर गणेश तोमर शामिल रहे। इसके अलावा कोतवाली पुलिस ने आसू पुत्र पप्पू साहू निवासी मौहल्ला तेलियान को देशी शराब सहित गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से 54 पव्वे बरामद हुए हैं।


आपराधिक गतिविधियों में लिप्त चार दबोचे
हरिद्वार।
पंचायत चुनाव के दृष्टिगत आपराधिक गतिविधियों में लिप्त लोगों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत थाना सिडकुल पुलिस ने विपिन कुमार निवासी रावली महदूद को सट्टे की खाईबाड़ी, आशु अली निवासी रोशनाबाद मस्जिद के पास को तमंचे कारतूस, बरिन्दा निवासी हेत्तमपुर को पांच लीटर कच्ची शराब एवं संजू निवासी रावली महदूद को 3.80 ग्राम स्मैक सहित गिरफ्तार किया है। सभी आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकद्मा दर्ज किया गया है।

5.60 ग्राम स्मैक के साथ एक आरोपी तस्कर गिरफ्तार
विकासनगर।
थाना पुलिस ने 5.60 ग्राम स्मैक के साथ एक आरोपी को तिलवाड़ी पुल के पास से गिरफ्तार किया है। आरोपी शहनवाज पुत्र उमरदराज निवासी मस्जिद वाली गली भाऊवाला थाना सेलाकुई के खिलाफ पुलिस ने एनडीपीएस ऐक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह रावत ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है।

रेलवे में नौकरी के नाम पर 44 लाख की ठगी में दो आरोपी गिरफ्तार
देहरादून।
देहरादून पुलिस ने दो युवकों को रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप पर गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों ने छह बेरोजगार युवओं से नौकरी के नाम पर 44 लाख रुपयों की ठगी की थी। पुलिस जानकारी के अनुसार, 05-06-2022 को वादी सोनू पुत्र हनुमंत सिंह निवासी मिशन हॉस्पिटल रोड सतपुली पौड़ी गढ़वाल के द्वारा कोतवाली ऋषिकेश में एक लिखित तहरीर बाबत संदीप कुमार के द्वारा अपने दोस्त के साथ मिलकर ऋषिकेश में संपर्क कर रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर कुल 14 लाख की धोखाधड़ी करने के संबंध में दिया गया। प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवाली ऋषिकेश में मु00सं0 256/22 धारा 420 बनाम संदीप कुमार अभियोग पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई। जबकि, दूसरे मामले में 15-08-2022 को वादी त्रिलोकी दास आदि के द्वारा कोतवाली ऋषिकेश में एक लिखित तहरीर बाबत संदीप कुमार एवं रविंद्र तथा उनके अन्य दो दोस्तों के द्वारा ऋषिकेश में संपर्क कर हमारे बच्चों को रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर कुल 6 बच्चों से कुल 30 लाख रूपए की धोखाधड़ी कर लेने के संबंध में दिया गया।
प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवाली ऋषिकेश में मुकदमा अपराध संख्या: 440/22 धारा: 420/467/468/471/120 बी आईपीसी बनाम संदीप आदि अभियोग पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई। रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी की उक्त घटनाओं की गंभीरता के दृष्टिगत श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून महोदय के द्वारा घटना के शीघ्र अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए आदेशित किया गया।
आदेशों के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय एवं क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महोदय के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश के द्वारा अभियोगो के शीघ्र अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित कर ब्रीफ किया गया।  गठित टीम के द्वारा वादी गणों से घटना संबंधित समस्त जानकारियां प्राप्त कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु उच्च कोटि की पतारसी/ सुरागरसी, मुखबिर तंत्र तथा सर्विलांस की सहायता लेकर तलाश जारी की गई।
किए गए कार्यों से महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त कर दिनांक 18-09-2022 को गठित टीम के द्वारा अभियोगों उपरोक्त से संबंधित दो अभियुक्तों 1- संदीप कुमार पुत्र हर स्वरूप सिंह निवासी लोटस गंगा कॉलोनी के समीप थाना कोतवाली रानीपुर, रोशनाबाद, हरिद्वार मूल निवासी मोहल्ला मिसकियाँ थाना स्योहारा, जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश।
2- रविंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी लोटस गंगा कॉलोनी रोशनाबाद हरिद्वार मूलनिवासी रतनपुर, थाना धामपुर बिजनौर, उत्तर प्रदेश को हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया। दोनों अभियुक्तों से पूछताछ के आधार पर अभियोग उपरोक्त में उनके एक अन्य मित्र का घटनाओं उपरोक्त में होना प्रकाश में आया है, जिसकी गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम प्रयासरत है।
पूछताछ में अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि वह दोनो मूलरूप से बिजनौर के रहने वाले हैं, संदीप कुमार सिडकुल हरिद्वार में एक फैक्ट्री में काम करता है तथा रविन्द्र की रोशनाबाद में कास्मेटिक्स की दुकान है तथा उनका एक अन्य मित्र जो पहले ऋशिकेश में रहता था तथा मूल रूप से बिजनौर का रहने वाला है वो तीनो साथ मिलकर नौकरी की तलाष कर रहे युवाओं को रेलवे में नौकरी लगवाने का झांसा देकर उनसे पैसों की ठगी कर लेते थे। जिसमें उनका मित्र जो ऋशिकेष में रहता था वह संदीप को एफ0सी0आई0 ऑफिसर तथा रविन्द्र को रेलवे का अधिकारी बताते हुए युवकों को अपनी ऊची पहुंच का हवाला देकर उन्हें अपने जाल में फंसा लेता था। जिसके पष्चात वह तीनों उन युवकों से नौकरी लगवाने के नाम पर पैसे एंठ लेते थे।    
नाम पता अभियुक्तगण -
1-संदीप कुमार पुत्र हर स्वरूप सिंह निवासी लोटस गंगा कॉलोनी के समीप थाना कोतवाली रानीपुर रोशनाबाद हरिद्वार, मूल निवासी मोहल्ला मिसकियाँ थाना स्योहारा जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश।
2- रविंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी लोटस गंगा कॉलोनी रोशनाबाद हरिद्वार मूल निवासी रतनपुर थाना धामपुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश।

शादी का झांसा देकर रिटायर अफसर की बेटी से 14 लाख रुपये ठगे
देहरादून। जालसाल ने खुद को आईएएस बताकर दून के रिटायर अफसर के परिवार को 14 लाख रुपये का फटका लगा दिया। आरोपी ने अफसर की बेटी से शादी का प्रस्ताव रखा। इसके बाद अलग-अलग झांसे में रकम लेकर फरार है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। फर्जीवाड़े को लेकर ओएलएफ से रिटायर कर्मचारी की बेटी ने रायपुर थाने में केस दर्ज कराया है। रायपुर एसओ मनमोहन नेगी ने बताया कि पीड़िता का आरोप अमित कुमार पुत्र जदीश सिंह निवासी अलीगढ़ पर है। आरोप है कि अमित ने कहा कि वर्ष 2018-19 में उसका चयन सिविल सेवा के जरिए आईएएस अधिकारी के रूप में हुआ है। उसने पीड़िता और उसके परिवार को झांसे में लिया। इसके बाद दिसंबर 2018 से दिसंबर 2019 के बीच पीड़िता के पिता से अलग-अलग बहाने 14 लाख रुपये ले लिए। इसके बाद पीड़ित परिवार को पता लगा कि उनके साथ धोखाधड़ी हो रही है। आरोपी से रकम वापस मांगी। इस दौरान उसने बताया कि वह पहले से विवाहित है और उसका एक बेटा है। रुपये वापस मांगने पर जान से मारने की धमकी। डराया कि पुलिस से वह उसका कुछ नहीं कर सकते हैं। उसने अपने पिता जगदीश सिंह को आर्मी से रिटायर, छोटे भाई सुमित को आयकर में नौकरी पर बताया। दूसरे भाई बलदेव को बताया कि वह आर्मी की तैयारी कर रहा है। अपने जीजा आदि का परिचय भी दिया। पीड़िता परिवार को धोखाधड़ी का पता लगा तो उन्होंने आरोपी के खिलाफ रायपुर थाने में केस दर्ज कराया है। पीड़ित परिवार ने आरोपी को दी गई अधिकांश रकम उसके बैंक खाते में जमा की।

Share this story