CRIME BULLETIN-7 पढ़िए उत्तराखंड की बड़ी से बड़ी क्राइम खबर एक साथ सिर्फ एक क्लिक पर...
CRIME NEWS DEVPATH

खटीमा में कच्ची शराब संग एक गिरफ्तार
रुद्रपुर।
अवैध शराब के खिलाफ आबकारी विभाग का अभियान जारी रहा। शनिवार को आबकारी इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह बिष्ट के नेतृत्व में टीम ने बिगराबाग, उमरुखुर्द, कुटरा, पचोरिया, चकरपुर, आलावर्दी, बगियाघाट में छापा मारा। इसमें उन्होंने 250 लीटर कच्ची शराब 4500 किलो लाहन नष्ट किया गया। साथ ही एक आरोपी किशोर मलिक को 50 पाउच कच्ची शराब के साथ गिरफ्तार किया। टीम में उप निरीक्षक जेपी सिंह, जगदीश कुमार, नितेश भारद्वाज रहे।

विभिन्न मामलों में फरार चल रहे तीन वारंटी गिरफ्तार
रुद्रपुर।
ऑपरेशन क्रैकडाउन के तहत खटीमा पुलिस ने तीन वारंटियों को दबोचा। न्यायालय से जारी गैर जमानती वारंट की तामीली के अनुपालन में धर्मराज, धर्मेंद्र, अर्जुन निवासी ग्राम सुखरामपुर कॉलोनी, बरी अंजनिया को पकड़ा। तीनों को न्यायालय रुद्रपुर पेश किया जाएगा। टीम में उपनिरीक्षक संदीप पिलख्वाल, कुलदीप सिंह, चरण सिंह रहे।

घर के बाहर से बाइक चोरी
रुड़की।
कलियर निवासी इस्तकार ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसने अपनी मोटर साइकिल रात में अपने घर के बहार खड़ी की थी। जैसे ही वह सुबह उठकर तो बाइक घर बाहर नहीं थी। जिसकी उसने आसपास काफी तलाश की लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पाया है। पीड़ित ने पुलिस को तहरीर देकर अज्ञात के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। थाना प्रभारी मनोहर सिंह भंडारी ने बताया पीड़ित की तहरीर के आधार पर अज्ञात में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

लक्सर में पुलिस कस्टडी से आरोपी फरार
रुड़की।
पेशी के दौरान पुलिसकर्मी को धक्का देकर आरोपी फरार हो गया। कस्टडी से आरोपी की फरारी की सूचना से पुलिस विभाग में हलचल मच गई। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीमें लगी हैं। पुलिस जंगलों में कांबिंग कर रही है। लक्सर के मुक्ताबाद गांव निवासी मधु पुत्र सुर्खीदास को पिछले दिनों रेलवे पुलिस ने चोरी के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था। बताया गया है कि इस मामले में मधु की शनिवार को लक्सर कोर्ट में पेशी थी। कोर्ट में पेशी के बाद पुलिसकर्मी मधु को कैदी वाहन की तरफ ले जा रहे थे। लेकिन इसी बीच कोर्ट परिसर में ही मधु पुलिसकर्मियों से हाथ छुड़ाकर और उन्हें धक्का देकर जंगल में भाग गया। अचानक इस तरह आरोपी के फरार होने से पुलिस कर्मी भी सकते में गए। पुलिसकर्मियों ने उसका पीछा किया और उच्च अधिकारियों को मामले की सूचना दी। आरोपी फरारी के बाद गन्ने के खेतों में छिप गया। आरोपी के पुलिस कास्टडी से फरार हो जाने की सूचना से पुलिस विभाग में हलचल मच गई। सीओ लक्सर हेमेंद्र नेगी और एसएसआई अंकुर शर्मा पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिसकर्मियों की ओर से जंगल में कांबिंग की जा रही है। फिलहाल उसका पता नहीं चल पाया है।

नगदी और सट्टा पर्ची समेत एक गिरफ्तार
रुड़की।
पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सट्टे की खाईबाड़ी करते हुए एक व्यक्ति को नगदी के साथ पकड़ा है। पुलिस ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने बताया कि शुक्रवार शाम कांस्टेबल जितेंद्र सुंदर चेतक पर क्षेत्र कस्बे में शांति व्यवस्था को गश्त कर रहे थे। तभी मुखबिर की सूचना पर एक व्यक्ति को सट्टे की खाईबाड़ी करते हुए पीछा कर दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम अभिषेक उर्फ डाबर निवासी झबरेड़ा बताया। अभियुक्त के पास से पुलिस ने एक गत्ता, एक सट्टा पर्ची, एक पेन 1010 रुपये बरामद हुए। युवक के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर चालान कर दिया गया है।

एम्स ऋषिकेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगे 36 लाख रुपये

डोईवाला: AIIMS ऋषिकेश में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले चार लोगों के खिलाफ पीड़ित ने डोईवाला कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया है. साहिया निवासी सुनील दत्त शर्मा में 16 सितंबर को डोईवाला कोतवाली में चार आरोपियों के खिलाफ मुदकमा दर्ज करवाया है. जिसके बाद पुलिस इस मामले के जांच में जुट गई हैपीड़ित सुनीत दत्त का आरोप है कि डोईवाला निवासी वीरेंद्र गौतम, अभिषेक लोधी, विनोद लोधी और अभिषेक लोधी ने उनसे एम्स (AIIMS Rishikesh) में नौकरी दिलाने के नाम पर 36 लाख रुपये की ठगी (Rs 36 lakh cheated) की है. वहीं, पीड़िता की शिकायत पर डोईवाला पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420/467/468/471/120-बी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. वहीं, डोईवाला कोतवाल राजेश शाह (Doiwala Kotwal Rajesh Shah) ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए एक टीम गठित कर दी गई है. आरोपियों ने पीड़ित को झांसे में लाने के लिए एक भर्ती लेटर देकर एग्रीमेंट भी किया गया है और पीड़िता द्वारा पैसे सीधे आरोपियों के खाते में भेजे गए हैं. ऐसे में सभी आरोपियों से इस मामले में पूछताछ की जाएगी, जिसके बाद आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.

ऋषिकेश में गांजे की तस्करी, पुलिस के हाथ आया बड़ा तस्कर

ऋषिकेश: आईडीपीएल चौकी पुलिस ने काले की ढाल के निकट नशे के सौदागर को गिरफ्तार किया है. जिसके कब्जे से 1 किलो 300 ग्राम गांजा बरामद हुआ है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है. आरोपी को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया, जहां कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने आरोपी को जेल पहुंचा दिया है. कोतवाल रवि सैनी ने बताया कि शनिवार को मुखबिर ने आईडीपीएल चौकी प्रभारी चिंतामणि मैठाणी को सूचना दी कि काले की ढाल के निकट सपेरा बस्ती का तस्कर गांजे के साथ खड़ा है, जो संभवत किसी ग्राहक का इंतजार कर रहा है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तस्कर को गिरफ्तार कर लिया, जिसकी पहचान दीवान सिंह निवासी सपेरा बस्ती सर्वहारा नगर के रूप में हुई है. पुलिस आरोपी के अपराधिक इतिहास की जानकारी जुटा रही है.

हरिद्वार: नाबालिग से दुष्कर्म करने वाला आरोपी गिरफ्तार

हरिद्वार: नाबालिग को डरा धमका कर उससे दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने पीड़िता के पिता की तहरीर के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है. ऐसे में पुलिस आरोपी का मेडिकल कराने के बाद उसे जेल भेजने की तैयारी कर रही है. कोतवाली हरिद्वार पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, 16 सितंबर को क्षेत्र के ही रहने वाले एक व्यक्ति ने तहरीर देकर बताया कि हिमांशु कामले (निवासी- मेरठ, हाल निवासी श्याम लोक कॉलोनी भूपतवाला हरिद्वार) पिछले कई महीनों से उसकी नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म कर रहा था. शिकायतकर्ता का आरोप है कि वह लड़की को डरा धमका कर अपने दबाव में ले लेता था, जिसके बाद उसकी नाबालिग बेटी अब गर्भवती हो गई है. पुलिस ने पीड़ित पिता की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) में मुकदमा दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल कराया, जिसमें दुष्कर्म के साथ गर्भवती होने की भी पुष्टि हो गई. इस मामले में पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी हिमांशु को गिरफ्तार कर लिया है. पकड़ में आने के बाद पुलिस आरोपी की मेडिकल जांच करा रही है. कोतवाली हरिद्वार इंचार्ज राजेंद्र कठैत ने बताया कि आरोपी को अब कोर्ट में पेश किया जाएगा, जहां से उसे जेल भेज दिया जाएगा.

कोटद्वार पुलिस ने नशा तस्करों को किया गिरफ्तार

कोटद्वार: ड्रग्स फ्री देवभमि अभियान के तहत कोटद्वार पुलिस ने 9.30 ग्राम स्मैक के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है. न्यायालय में पेश करने के बाद दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है. कोटद्वार अपर पुलिस अधीक्षक शेखर चंद सुयाल के निर्देश पर नशे के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है. इस क्रम में पुलिस ने काशीरामपुर तिराहे के पास चेकिंग के दौरान लकड़ी पड़ाव निवासी नदीम के पास से 4.70 ग्राम एवं ग्रास्टनगंज निवासी शिवम गुसाईं के पास 4.60 ग्राम स्मैक बरामद की है. दो युवकों के खिलाफ पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज किया. दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है. वहीं, कोटद्वार पुलिस ने नशा मुक्ति अभियान के तहत 28 बोतल अंग्रेजी शराब के साथ कोटद्वार रोडवेज बस स्टेशन में प्रेमव्रत सिंह निवासी धुमाकोट को गिरफ्तार किया है. आरोपी के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. अपर पुलिस अधीक्षक कोटद्वार शेखर चंद सुयाल ने बताया कि नशे की प्रवृत्ति के रोकथाम के लिए नशे के बड़े कारोबारियों संलिप्त पर कठोर कार्रवाई की जाएगी.

असिस्टेंट प्रोफेसर के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज

बागेश्वर। राजकीय पीजी कॉलेज में छात्रा से छेड़छाड़ करने के आरोपी असिस्टेंट प्रोफेसर के खिलाफ केस दर्ज हो गया है। आरोपी प्राध्यापक से जुड़े छेड़खानी के पुराने मामले भी सामने आने लगे हैं। इसको लेकर छात्र संगठनों ने कॉलेज में जमकर हंगामा काटा। छात्र-छात्राओं ने नारेबाजी करते हुए प्राचार्य का घेराव किया और महाविद्यालय परिसर में प्रदर्शन कर आरोपी प्राध्यापक के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की। छात्र संगठनों ने प्राचार्य को शिकायती पत्र देकर कहा कि असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. संजय कुमार ने पूर्व में भी कई छात्राओं को शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान किया है, जिनकी निष्पक्षता से जांच होनी चाहिए। छात्र-छात्राओं का विरोध प्रदर्शन तेज होता देखकर पुलिस को भी मौके पर बुलाना पड़ा। कोतवाल जगदीश सिंह ढकरियाल ने कॉलेज जाकर छात्र-छात्राओं के विरोध को शांत करने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि आरोपी प्राध्यापक के खिलाफ जांच की जा रही है। आरोपी पर केस दर्ज हो गया है। काफी समझाने के बाद छात्र माने लेकिन आरोपी प्राध्यापक पर जल्द कार्रवाई होने की दशा में छात्र संगठनों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। वहां पर छात्रसंघ अध्यक्ष सौरभ जोशी, प्रकाश वाछमी, हरेंद्र दानू, आशीष कुमार, शिव पूजन तिवारी, नितिन गुुरुरानी, मोनिका खाती, वर्षा थापा, सावित्री नेगी, वैष्णवी साह आदि थीं।

पीड़िता ने दी कोतवाली में तहरीर

बागेश्वर। आरोपी प्राध्यापक के खिलाफ पीड़ित छात्रा ने कोतवाली में तहरीर दी है। कोतवाल जगदीश सिंह ढकरियाल ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपी प्राध्यापक के खिलाफ धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच एसएसआई खष्टी बिष्ट को सौंपी गई है। संवाद

किसी ने छोड़ दी कक्षा तो कोई डर से रही चुप

बागेश्वर। राजकीय पीजी कॉलेज में राजनीति विज्ञान के प्राध्यापक के छात्रा से छेड़छाड़ का मामला उजागर होने के बाद अब कई पुराने मामले भी सामने आने लगे हैं। एक छात्रा की दिलेरी ने पूर्व में प्राध्यापक की प्रताड़ना की शिकार हो चुकी कई छात्राओं को आपबीती बयां करने की हिम्मत दी है। छात्रसंघ अध्यक्ष सौरभ जोशी से मिली जानकारी के अनुसार अब तक चार पूर्व छात्राओं ने प्राध्यापक के खिलाफ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। कई अन्य छात्राओं ने भी अपने या साथी छात्राओं के साथ छेड़छाड़ होने की बात कही है। जोशी ने बताया कि मामले को लेकर कई पीड़ित छात्राओं के फोन और मैसेज रहे हैं। एक छात्रा ने प्राध्यापक की हरकत से परेशान होकर कक्षा छोड़ने की तक बात की है। वहीं, एक अन्य छात्रा ने बताया कि असाइनमेंट जमा करते समय प्राध्यापक अश्लील बातें करते थे। किसी से शादी को लेकर तो किसी से बच्चे पैदा होने को लेकर अनर्गल बातें कीं। वहीं, एक छात्रा का कहना था कि कोविडकाल के दौरान जब छात्राएं मास्क पहनकर असाइनमेंट जमा कराने जातीं तो वह पहले छात्राओं के मास्क उतरवाते फिर गलत तरीके से उन्हें घूरते रहते। इधर, छात्रसंघ अध्यक्ष जोशी ने कहा कि उन्होंने सभी मैसेज और फोन कॉल से मिले साक्ष्यों को प्राचार्य को सौंप दिया है। उम्मीद है कि तथ्यों के आधार पर निष्पक्ष जांच होगी और पीड़ितों को न्याय मिलेगा।

छात्रसंघ के पूर्व पदाधिकारियों ने भी जताया विरोध

बागेश्वर। छेड़छाड़ मामले को लेकर अब छात्रसंघ के पूर्व पदाधिकारी भी आरोपी प्राध्यापक के विरोध में गए हैं। शुक्रवार को कॉलेज में चल रहे प्रदर्शन में पूर्व छात्रसंघ पदाधिकारियों ने भागीदारी की और आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि यह घटना बेहद शर्मनाक है। प्राध्यापक के खिलाफ जिस तरह से कई छात्राओं ने आरोप लगाने शुरू कर दिए हैं, उसके आधार पर प्राध्यापक को तत्काल नौकरी से निकाल देना चाहिए। वहां पर छात्रसंघ पदाधिकारी दीपक गस्याल, विजय परिहार, रोशन गढ़िया, मनोज बचखेती, अंकित ऐठानी, विशाल नेगी आदि थे।

विहिप ने आरोपी प्राध्यापक का फूंका पुतला

बागेश्वर। पीजी कॉलेज में छात्रा से हुए दुर्व्यवहार के विरोध में विहिप और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने आरोपी असिस्टेंट प्रोफेसर के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया। विहिप के नगर अध्यक्ष नवीन सिंह रौतेला के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने एसबीआई तिराहे पर पुतला जलाया। कार्यकर्ताओं ने आरोपी असिस्टेंट प्रोफेसर को नौकरी से बर्खास्त करने की मांग की है। वहां पर कुणाल ड्याराकोटी, सुमित कठायत, हर्षू, दीपक, योगेश धपोला, लोकेश, सूरज कुमार, हिमांशु दफौटी, करन कठायत, पंकज परिहार आदि थे।

पीजी कॉलेज में छेड़छाड़ प्रकरण में केस दर्ज हो गया है। मामले की गहराई से जांच की जाएगी। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। - अमित श्रीवास्तव, एसपी बागेश्वर

कैंट बोर्ड के दोनों कर्मचारी तीन दिन की रिमांड पर

देहरादून : रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुए कैंट बोर्ड के दोनों कर्मचारियों को सीबीआई ने तीन दिन की रिमांड पर लिया है। रिमांड में सीबीआई दोनों की संपत्तियों के बारे में पूछताछ करेगी। सीबीआई ने बृहस्पतिवार को देहरादून कैंट बोर्ड के कार्यालय अधीक्षक शैलेंद्र शर्मा और लिपिक (कर) रमन अग्रवाल को मकान का दाखिल खारिज कराने के लिए 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा था। शुक्रवार को दोनों को विशेष न्यायाधीश सीबीआई की अदालत में पेश किया गया। सीबीआई ने कोर्ट के समक्ष दलील दी कि आरोपियों के संपर्क में कुछ अधिकारियों से होने की भी आशंका है। ऐसे में उनसे पूछताछ की जानी है। इसके अलावा उनके लॉकर और अन्य संपत्तियों के संबंध में भी जांच की जानी है। लिहाजा दोनों का चार दिन का रिमांड दिया जाए। अदालत ने आरोपियों को तीन दिन के रिमांड पर भेजने के आदेश जारी किए हैं। अब सीबीआई की टीम उनसे पूछताछ करेगी।

अब नवादा में पकड़ा गया अवैध शराब का गोदाम, मकान मालिक की तलाश में जुटी पुलिस

देहरादून : शहर में अवैध शराब का काला धंधा खूब फल-फूल रहा है। अब नेहरू कॉलोनी पुलिस ने नवादा क्षेत्र में अवैध शराब का एक गोदाम पकड़ा है। यहां से 113 पेटी अवैध शराब बरामद हुई है। हालांकि, यहां से किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस मकान मालिक और यहां शराब लाने वाले की तलाश कर रही है। शुक्रवार को एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने नेहरू कॉलोनी थाने में पत्रकार कर कार्रवाई की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पुलिस को कुछ दिन पहले क्षेत्र में अवैध शराब के गोदाम के बारे में जानकारी मिली थी। इसी क्रम में शुक्रवार को नवादा स्थित एक मकान में छापा मारा गया था। मकान का दरवाजा बंद था। स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में दरवाजे का ताला तोड़ा गया। इसके अंदर शराब की पेटियां रखी हुई थीं। यहां से कुल 113 पेटियां शराब की बरामद हुईं। इस शराब पर भी ओनली फॉर डिफेंस पर्सनल लिखा हुआ था। शुरुआती पड़ताल में यह शराब हरियाणा से लाई गई लग रही है। इसे यहां लाने वाले की तलाश की जा रही है

Share this story