CRIME BULLETIN-11 : 19 साल की रिसेप्शनिस्ट रिसॉर्ट से रहस्यमय तरीके से हुई लापता, पढ़िए उत्तराखंड की तमाम अपराध जगत की खबरें एक साथ...
CRIME UTTARAKHAND

कार में बैठे युवक नाम पूछने पर हुए आगबबूला, सिपाही के साथ की बदतमीजी

हल्द्वानी : सोमवार रात सिपाही ने कार सवार तीन युवकों से नाम पूछा तो उन्होंने सिपाही से गालीगलौज की। विरोध करने पर बदमाशों ने सिपाही को पीटा और उसकी वर्दी भी फाड़ दी। सिपाही की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने तीनों की तलाश शुरू की। घर पर दबिश की जानकारी मिलते ही युवक लामाचौड़ चौराहे पर बैरियर तोड़कर भागे तो पुलिस ने कालाढूंगी रोड स्थित पेट्रोल पंप तीनों को दबोचा। थाना मुखानी के आम्रपाली चौकी क्षेत्र में तैनात सिपाही कुंदन सिंह अपनी बाइक से थाना मुखानी की ओर जा रहा था। रात करीब 8:40 बजे लामाचौड़ में एसबीआई के पास सड़क किनारे एक बिना नंबर प्लेट की सफेद रंग की कार में तीन लोग बैठे हुए नजर आए। संदिग्ध नजर आए युवकों को देखकर सिपाही ने बाइक रोकी ओर नाम पूछा तो तीनों आगबबूला हो गए। सिपाही के अनुसार तीनों नशे में थे और कार से बाहर आते ही पीटने लगे। वर्दी भी फाड़ दी और अपने पालतू कुत्ते को सिपाही के ऊपर छोड़ दिया। सिपाही काआरोप है कि कुत्ते ने उसके दोनों पैरों में काट लिया। सिपाही से बाइक की चाबी छीन ली और बाइक लेकर भाग गए। कुंदन ने इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी, जिसके बाद उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

तीनों के घर पर दी दबिश

कुंदन की तहरीर पर मुखानी थाने में तीनों आरोपियों अमित सागर (24) निवासी नाथूपुर पाडली लामाचौड़, प्रदीप सागर (23) और एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। एसएसपी पंकज भट्ट ने फौरन आरोपियों की गिरफ्तारी के आदेश दिए। मुखानी पुलिस ने तीनों के घर पर दबिश दी लेकिन तीनों वहां नहीं मिले। मंगलवार को पुलिस को सूचना मिली कि तीनों भागने की फिराक में हैं। पुलिस ने लामाचौड़ चौराहे पर बैरियर लगाए, लेकिन आरोपी बैरियर को टक्कर मारकर कालाढूंगी की ओर फरार हो गए। पुलिस ने तीनों को कालाढूंगी रोड स्थित एक पेट्रोल पंप के पास से पकड़ लिया। तीसरे आरोपी ने अपना नाम पप्पू कुमार (24) बताया।

बहु को प्रताड़ित करने के मामले में सेना में तैनात ससुर की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित, सास और ननद को भेजा जेल

नई टिहरी : नई टिहरी के जाखणीधार ब्लॉक के रिंडोल गांव की प्रीति (32) को प्रताड़ित करने के आरोप में पुलिस ने उसकी सास सुभद्रा देवी और ननद जया जगूड़ी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। ससुर की गिरफ्तारी करने के लिए एसएसपी ने पुलिस टीम का गठन किया है। प्रीति का देहरादून स्थित कोरोनेशन अस्पताल में इलाज चल रहा है। प्रीति के तीन मासूम बच्चे अब अपने ननिहाल में मामा जितेंद्र रतूड़ी की देखरेख में हैं। परिवार की माली हालत के कारण उनकी परवरिश करना भी चुनौती बना हुआ है। रिंडोल गांव निवासी सरस्वती देवी ने अपनी बेटी प्रीति की सास, ननद और ससुर पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए मंगलवार को नई टिहरी कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने मंगलवार को ही मामले में विकासनगर के जीवनगढ़ से प्रीति की सास और ननद को गिरफ्तार कर लिया था। न्यायालय में पेश करने के बाद उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। ससुर आईटीबीपी में तैनात होने के कारण उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। एसएसपी नवनीत सिंह ने बताया कि सुरेंद्र दत्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया है। जल्द ही गिरफ्तारी कर ली जाएगी। रिंडोल गांव के प्रधान मनोज रतूड़ी ने बताया कि मंगलवार शाम को वे और गांव के अन्य लोग प्रीति के तीनों बच्चों आशुतोष (9), सृष्टि (8) और सूरज (4) को अपने साथ गांव ले आए। तीनों बच्चे मां के साथ हुए घटनाक्रम से आहत हैं। वह कुछ बोल नहीं पा रहे हैं। उसके साथ मां सरस्वती देवी है। ढालवाला पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी ने बताया कि डॉक्टरों ने एक सप्ताह तक प्रीति को देखरेख में रखने को कहा है। इधर, ननिहाल पहुंचे प्रीति के तीनों बच्चों की जिम्मेदारी मामा जितेंद्र पर गई है। जितेंद्र ऋषिकेश में किसी होटल में काम करता है। उसके पिता चिरंजी लाल रतूड़ी गंभीर बीमार है। ऐसे में तीन बच्चों सहित परिवार के जिम्मेदारी जितेंद्र के कंधों पर है। प्रधान मनोज ने बताया कि फिलहाल पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी ने 10 हजार और अन्य ग्रामीणों ने पांच हजार एकत्र कर पीड़ित परिवार को दिलाया है।

चेन लूट मामले में कोतवाली रानीपुर पुलिस ने एसपी सिटी से मिली फटकार के बाद किया मुकदमा दर्ज

हरिद्वार: जिले में अपराधियों के हौसले इस वजह से बुलंद हो रहे हैं क्योंकि थाने कोतवाली में भी पीड़ितों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है. आलम ये है कि पुलिस आरोपियों के खिलाफ मुकदमा तक दर्ज नहीं कर रही है. ऐसे ही एक चेन लूट के मामले में कोतवाली रानीपुर पुलिस ने एसपी सिटी से मिली फटकार के बाद आखिरकार मुकदमा दर्ज कर लिया है. ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र के नई धीरवाली निवासी रवि आनंद 14 सितंबर की शाम को सात बजे बैंक में कार्यरत अपनी माता को लेकर घर रहे थे. इस दौरान धीरवाली के पास महिला बैंककर्मी के गले से बाइक सवार युवकों ने सोने की चेन लूट ली थी. बाइक सवार लुटेरों ने चेहरे पर काले रंग का फुल हेलमेट पहना हुआ था. रवि ने दोनों को बैरियर नंबर पांच तक जाते हुए भी देखा था. इसके बाद रवि ने इस मामले में रानीपुर कोतवाली में शिकायत दी थी. मगर, रानीपुर पुलिस ने चेन लूट की घटना का मुकदमा दर्ज करना मुनासिब नहीं समझा. जिसके बाद पीड़ित ने एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह से इस मामले में शिकायत भी की थी. इसके साथ ही बुधवार को उन्होंने रानीपुर पुलिस के साथ बैठक करते हुए फटकार भी लगाई थी. इस फटकार का असर यह हुआ कि पुलिस ने बैठक खत्म होते ही चेन लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया. एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर पुलिस लुटेरों की तलाश में जुट गई है.

शादी का झांसा देकर दोस्त ने किया रेप, पीड़िता ने दर्ज कराया मुकदमा

हरिद्वार: सिडकुल थाना क्षेत्र (Sidcul police station haidwar) में शादी का झांसा देकर युवती के साथ रेप करने का मामला सामने आया (girl filed rape case) है. पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया (rape case against friend) है. युवती का आरोप है कि उसके दोस्त ने उसे शादी का झूठा झांसा दिया और उसके साथ दुष्कर्म किया. अब आरोपी शादी करने से इनकार कर रहा है. जानकारी के मुताबिक युवती मूल रूप से देहरादून की रहने वाली है, जबकि युवक पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले है. दोनों सिडकुल की एक कंपनी में साथ काम करते है. युवती का कहना है कि करीब 10 महीने पहले ही उसकी मुलाकात आरोपी से हुई थी. जान पहचान बढ़ी तो दोनों करीब गए. प्रेम प्रसंग हुआ तो बात शादी तक जा पहुचीं. युवती का आरोप है कि उसके कर्मचारी दोस्त ने शादी का झांसा देकर कई बार उसकी मर्जी के बिना उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए. इतना ही नहीं युवती एक बार जब आरोपी के महादेव पुरम स्थित कमरे में गई थी, तो वहां उसने रेप किया था.आरोप लगाया कि जब उसको शादी के लिए कहा तो वह टालमटोल करने लगा. आरोप है कि जब दूसरी बार युवक के कमरे पर पहुंची तो वहां पर उनमें झगड़ा हो गया. आरोप है कि इस बीच साथी कर्मचारी ने युवती के साथ गाली-गलौज कर धक्का-मुक्की कर दी और जान से मारने की धमकी दी. थाना प्रभारी निरीक्षक प्रमोद कुमार उनियाल ने बताया कि कुनाल पुरोहित पुत्र श्रीनाथ पुरोहित निवासी बिबला बजार, देवप्रयाग कारी गूंथ, पौड़ी गढ़वाल के खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

19 साल की रिसेप्शनिस्ट रिसॉर्ट से रहस्यमय तरीके से हुई लापता

पौड़ी: तीन दिन पहले गंगाभोगपुर स्थित रिसॉर्ट से रहस्यमय तरीके से लापता हुई 19 साल की युवती का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया (receptionist missing from resort) है. तीनों से अपनी बेटी की तलाश में परिजन इधर-उधर भटक रहे हैं, लेकिन राजस्व पुलिस की तरफ से भी उन्हें कोई मदद नहीं मिल रही है. बुधवार को लापता युवती के परिजन, ग्रामीण और महिला मंगल दल की कार्यकर्ताओं ने डीएम कार्यालय पहुंचकर अपना गुस्सा जाहिर किया और युवती का पता लगाने की मांग उठाई. जानकारी के मुताबिक, युवती यमकेश्वर ब्लॉक के ग्रामसभा श्रीकोट की रहने वाली है, जिसने बीती 28 अगस्त को ही गंगाभोगपुर स्थित रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट पद के ज्वाइनिंग की थी. लेकिन युवती को ज्वाइन किए हुए एक महीने का वक्त भी नहीं बीता था कि वो 18 सितंबर रिसॉर्ट से ही रहस्यमय तरीके से लापता हो गई (receptionist missing from resort). जिसके बाद परिजनों ने राजस्व पुलिस में इस मामले में गुमशुदगी भी दर्ज कराई (girl missing from resort) है. परिजन का आरोप है कि उनकी बेटी के लापता होने में रिसॉर्ट के मालिक, मैनेजर और वहां के कर्मचारियों का हाथ है. क्योंकि रिसार्ट में लगे सीसीटीवी कैमरों से भी तोड़फोड़ की गई है. हालांकि, अभीतक राजस्व पुलिस ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है. युवती के परिजनों ने एडीएम पौड़ी को ज्ञापन देकर मामले को रेगुलर पुलिस को सौंपने की मांग की है. एडीएम ईला गिरी का कहना है कि एसडीएम से जांच रिपोर्ट मांगी जा रही है. मामले में हरसंभव कार्रवाई की जाएगी.

चोरी के मामले में यूपी के गैंगस्टर सहित चार गिरफ्तार

देहरादून: कोतवाली पटेल नगर पुलिस (Kotwali Patel Nagar Police) ने पटेल नगर क्षेत्र में एक घर में हुई लाखों की चोरी का 24 घंटे में खुलासा (Theft revealed in 24 hours) किया है. घटना को अंजाम देने वाले गाजियाबाद के गैंगस्टर सहित 4 आरोपियों को देहरादून पुलिस ने चंद्रबनी रोड से गिरफ्तार किया है. आरोपियों के कब्जे से चुराई गई ₹7 लाख की ज्वेलरी बरामद की. पुलिस आरोपियों के अन्य आपराधिक इतिहास को खंगाल रही है. एसएसपी ने आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को ₹5 हजार का पुरस्कार देने की घोषणा की. बता दें कि 19 सितंबर को किराएदार आलोक भार्गव, निवासी ब्रह्म लोक कॉलोनी ने शिकायत दर्ज कराई. जिसमें उसने बताया कि 5 सितंबर को उनके पिताजी का देहांत हो गया था. जिस वजह से वह अपने परिवार के साथ पैतृक घर ऋषिकेश चले गए थे. 19 सितंबर को जब वह वापस अपने ब्रह्मलोक वाले निवास पर आए तो देखा कि मकान का ताला टूटा हुआ था. अंदर उन्होंने देखा कि अज्ञात चोरों ने घर में रखी सभी ज्वेलरी चोरी कर ली है. पीड़ित तहरीर की पर कोतवाली पटेल नगर पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज (Case registered against unknown thieves) किया. घटना के खुलासे के लिए टीम गठित की गई. टीम ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार पर संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान करते हुए मुखबिर के माध्यम से व्यक्तियों के संबंध में जानकारियां ली. जिसके आधार पर पुलिस टीम ने घटना में शामिल हापुड़ निवासी आशीष कश्यप, रोहित तोमर, शाहरुख और तरुण शर्मा को चंद्रबनी रोड, थाना पटेल नगर से गिरफ्तार किया. एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर (SSP Dilip Singh Kunwar) ने कहा पूछताछ में शाहरुख ने बताया कि वह पूर्व में अपने एक मित्र से मिलने पटेल नगर के ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र में आया था. इस दौरान उसने कई मकानों की रेकी की थी. इसके बाद घटना से कुछ दिन पहले वह अपने एक साथी रोहित तोमर के साथ दोबारा देहरादून आया और उन्होंने सेवालांखुर्द क्षेत्र में एक बंद मकान को चिन्हित किया. घटना को अंजाम देने के लिए वह अपने साथ अपने दो अन्य साथी रोहित तोमर और तरूण शर्मा को शामिल कर लिया गया. रोहित जिला गाजियाबाद का एक शातिर गैंगस्टर है. जो गाजियाबाद स्थित कविनगर थाने से चोरी और लूट के कई मामलों में जेल जा चुका है. शाहरुख पिलखुवा में एक निजी संस्थान में बीएससी प्रथम वर्ष का छात्र है, जो पूर्व में थाना पिलखुवा से चोरी और नकबजनी की घटनाओं में जेल जा चुका है. आशीष ने बीटेक किया है और तरूण पिलखुवा में ही दिहाड़ी मजदूरी का कार्य करता हैं.आरोपी ने बताया कि किसी घटना को अंजाम देने से पहले स्थान की अच्छी तरह से रेकी कर लेते हैं और घटना को अंजाम देते समय घटनास्थल से पहले ही अपने वाहनों को खड़ा कर वहां तक पैदल जाते हैं. घटना को अंजाम देने के बाद पुलिस की सक्रियता कम होने तक किसी एकांत स्थान पर छुपे रहते हैं और इस दौरान चोरी किए गए माल का आपस में बंटवारा करके मौका लगते ही यहां से निकलकर अपने गंतव्य को निकल जाते हैं. शाहरुख के खिलाफ हापुड़ सहित देहरादून में मुकदमा दर्ज है. रोहित तोमर के खिलाफ गाजियाबाद में गैंगस्टर सहित 8 मुकदमे दर्ज हैं.

सोमेश्वर में दो पेटी शराब के साथ एक गिरफ्तार
अल्मोड़ा।
मादक पदार्थों की तस्करी करने वालों के खिलाफ पुलिस का चेकिंग अभियान जारी है। बुधवार को सोमेश्वर पुलिस ने क्षेत्र में चेकिंग अभियान के दौरान ग्राम रनमन निवासी प्रमोद भंडारी के कब्जे से दो पेटी अवैध शराब बरामद की है। पुलिस ने अवैध शराब को सील कर आरोपी के खिलाफ आबकारी अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया।

पुलिस ने एक वारंटी को गिरफ्तार किया
पिथौरागढ़।
गैर जमानतीय वारंटियों की गिरफ्तारी को लिए पुलिस का अभियान जारी है। बुधवार को कोतवाल मोहन चंद्र पांडे के नेतृत्व में पुलिस ने अभियान चलाकर वारंटी राजेन्द्र सिंह मौनी को गिरफ्तार किया है।

व्यवसाय हड़पने ठगी करने का आरोप लगाया
हल्द्वानी।
एक महिला ने पारिवारिक मित्र उसकी सहयोगी पर व्यवसाय हड़पने ठगी करने का आरोप लगाया है। महिला ने मामले में पुलिस से शिकायत की है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार काठगोदाम निवासी रंजीत कौर पत्नी स्व. गननदीप सिंह ने बुधवार को तहरीर दी है। तहरीर में उसने मोहित गुप्ता शीबा जो कि उनके पति के यहां काम करते थे पर पति के निधन के बाद व्यवसाय हड़प लेने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने एटीएम, क्रेडिट कार्ड, व्यवसाय के खाते हिसाब के साथ नगदी आदि में भी गबन करने का आरोप लगाया है। कोतवाल हरेन्द्र चौधरी ने बताया कि मामले में जांच शुरू कर दी गई है।

लापता छात्रों का नहीं मिला कोई सुराग,  गुमशुदगी दर्ज
टिहरी।
बीते सोमवार से लापता चल रहे, नई टिहरी के दो छात्रों का कोई सुराग नहीं मिल पाया है। पुलिस और परिजनों छात्रों की खोजबीन में जुटी है। परिजनों की ओर से कोतवाली में छात्रों की गुमशुदगी दर्ज करवाई गई है। जिला मुख्यालय नई टिहरी स्थित आल सेंट्स कान्वेंट स्कूल में कक्षा नौ में पढ़ने वाले आशीष कंडवाल (15) पुत्र राम सिंह कंडवाल निवासी ब्लाक तथा रक्षित पंवार (15) पुत्र रमेश पंवार निवासी नई टिहरी बाजार (दोनों छात्र) सोमवार सुबह करीब 11 बजे से गायब चल रह हैं। परिजनों ने बताया कि बीते सोमवार को स्कूल से पेपर छूटने के बाद से दोनों गायब हैं। उधर टिहरी एसएसपी नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि छात्रों की तलाशी के लिये टिहरी पुलिस की चार टीमें गठित की गई हैं, इसके अलावा देवप्रयाग, कीर्तिनगर, मुनिकीरेती और एसडीआरएफ की टीमों को भी छात्रों की खोजबीन में लगाया है। बताया सोमवार दोपहर को छात्रों को नई टिहरी और भागीरथी पुरम में सीसीटीवी पुटेज में स्कूली ड्रेस में देखा गया था,लेकिन उसके बाद से उनकी लोकेशन नहीं मिल पाई है। बताया पुलिस टीमें लगातार जगह-जगह लापता छात्रों के सर्च अभियान में जुटी है।

अंग्रेजी शराब तमंचे सहित तीन गिरफ्तार
हरिद्वार।
पंचायत चुनाव के दृष्टिगत मादक पदार्थो की तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत थाना पथरी पुलिस ने छापामारी कर तीन लोगों को गिरफ्तार कर अंग्रेजी शराब बीयर तथा देसी तमंचा बरामद किया है। पथरी थानाध्यक्ष पवन डिमरी ने बताया कि सुरेंद्र निवासी बस्ती नंबर एक आदर्श टिहरी नगर, भगत सिंह निवासी खांड बस्ती भाग-2 पथरी को 3 पेटी अंग्रेजी शराब 2 बेटी बीयर के साथ गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा एक्कड़ खुर्द निवासी नौशाद के पास से 315 बोर का देसी तमंचा बरामद होने पर आर्म्स एक्ट के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया। पुलिस टीम में थानाध्यक्ष पवन डिमरी, एसआई देवेंद्र तोमर, एसआई रूकम सिंह नेगी, कांस्टेबल दीपक, सन्नी सुखविन्दर शामिल रहे।


बुलेरो में शराब तस्करी करते गिरफ्तार किया
देसी शराब के 240 पव्वे बरामद
हरिद्वार।
रानीपुर कोतवाली पुलिस ने पंचायत चुनाव के लिए तस्करी कर लायी गयी देसी शराब बरामद की है। पथरी में पंचायत चुनाव के लिए तैयार की गयी जहरीली शराब पीने से कई लोगों की मौत के बाद पुलिस पंचायत चुनाव में शराब तस्करी रोकने के लिए लगातार अभियान चला रही है। अभियान के तहत रानीपुर कोतवाली की सुुमन नगर पुलिस चौकी टीम ने मुखिबर की सूचना पर मीरपुर तेलीवाला रोड पर चेकिंग अभियान चलाते हुए बुलेरो गाड़ी को रोककर तलाशी ली तो उसमें देसी शराब के 240 पव्वे बरामद हुए। पूछताछ में चालक ने अपना नाम अशोक निवासी ग्राम माछारेडी थाना कलियर बताया। अवैध रूप से शराब लाए जाने के आरोप में उसे गिरफ्तार कर पुलिस ने शराब तस्करी में प्रयुक्त बुलेरो को भी कब्जे में ले लिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि शराब आदि मादक पदार्थो की तस्करी के खिलाफ अभियान लगातार जारी रहेगा। पुलिस टीम में रानीपुर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रमेश तनवार, सुमन नगर चौकी प्रभारी एसआई इंद्र सिंह गड़िया, कांस्टेबल संजय तोमर, महेंद्र तोमर, विजयपाल, अजय राज रावत शामिल रहे।

चोरी के माल के साथ एक गिरफ्तार, तीन फरार
रुड़की।
पुलिस ने फैक्ट्री से चोरी हुई कार और सामान के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। जबकि तीन आरोपी फरार हैं। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है। फरार तीनों आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। पुलिस के अनुसार 17 सितंबर की रात को हसनपुर रोड स्थित फैक्ट्री से सामान से लदी और और लैपटॉप के साथ अन्य सामान भी चोरी कर लिया था। जिस पर पुलिस ने पीड़ित की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करने के साथ ही जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज मुखबिर द्वारा मिली सूचना के आधार पर गागलहेड़ी से मुजफ्फरनगर जाने वाले हाईवे पर शुगर मिल के समीप एक युवक को चोरी हुई कार और उसमे लदे सामान के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि तीन आरोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी के अपना नाम जुबेर निवासी शादीपुर जिला यमुनानगर हरियाणा बताया। फरार हुए साथियों के नाम इंतजार निवासी टोडरपुर यमुनानगर, सुफियान सरवेज निवासी ग्राम लंढौरा, चौकी चनैटी, रामपुर मनिहारन, सहारनपुर बताया। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी को न्यायालय में पेश करने के साथ ही फरार आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश शुरू कर दी। पुलिस टीम में इंस्पेक्टर अमरजीत सिंह, चोकी प्रभारी मंडावर लोकपाल परमार, कांस्टेबल शूरवीर चौहान, विनोद कुंडलिया, ललित यादव, सचिन कुमार, लाल सिंह शामिल रहे।

चोरी की नौ बाइकों के साथ दो गिरफ्तार
रुड़की।
पुलिस ने बाइक सवारों को चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। दो आरोपियों से चोरी की नौ बाइकें बरामद की हैं। जबकि एक आरोपी गन्ने के खेत से फरार हो गया। गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ पूर्व में भी केस दर्ज है। एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोबाल ने कोतवाली में प्रेसवार्ता कर बताया कि पुलिस बेगमपुल और सुल्तानपुर मार्ग पर चेकिंग कर रही थी। इस बीच एक बाइक पर सवार तीन युवक आते दिखे। बाइक पर कोई नंबर प्लेट भी नहीं लगी थी। रुकने का इशारा करने पर एक युवक गन्ने के खेत से भाग गया। जबकि दो को पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ लिया। विशाल धीमान पुत्र अनिल धीमान निवासी गांव बहादरपुर सैनी थाना बहादराबाद और सन्नी पुत्र अनिल कुमार निवासी गांव भौवापुर थाना पथरी को गिरफ्तार किया गया। जबकि विशाल पांचाल पुत्र ओमवारी निवासी मुजफ्फरनगर गन्ने के खेत से फरार हो गया। आरोपियों की निशानदेही पर चोरी की नौ बाइकें बरामद की गई जो लक्सर, बहादराबाद, डोईवाला और रानीपुर से चोरी की गई थी। पुलिस टीम में इंस्पेक्टर यशपाल सिंह बिष्ट, वरिष्ठ उपनिरीक्षक अंकुर शर्मा, उप निरीक्षक मनोज नौटियाल, नरेंद्र तोमर, अमित नौटियाल, कॉन्स्टेबल अजीत तोमर, गंगा सिंह, पंकज रावत, प्रभाकर थपलियाल और मनोज मलिक शामिल रहे।

कमेटी के नाम पर 5.80 लाख हड़पे
रुड़की।
मुकर्रबपुर निवासी एक युवक की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी कर लाखों रुपये की रकम हड़पने, जान से मारने की धमकी देने के आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। मुकर्रमपुर निवासी हसरत अली ने पुलिस को शिकायत कर बताया है कि कलियर में पीपल चौक के पास उसकी इनवर्टर बैटरी की दुकान है। उसने बचत के लिए अन्य लोगों की तरह मुकर्रबपुर निवासी मुकर्रम के पास कमेटी डाली हुई थी। उसने पैसा जमा होने के लिए कमेटी में 6.80 लाख रुपये मुकर्रम के पास जमा किए थे। जमा की गई रकम से मुकर्रम ने 1.90 लाख लौटा दिए। एक अन्य कमेटी के 90 हजार रुपये मिलाकर कुल 5.80 लाख रुपये हड़प लिए। पैसे मांगने पर गाली गलौज कर झूठे मुकदमे में फंसाने, जेल मे भिजवाने और जान से मारने की धमकी दी है। पुलिस ने धोखाधड़ी जान से मारने रकम हड़पने समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। थानाध्यक्ष मनोहर सिंह भंड़ारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

कार से चालीस पेटी देसी शराब पकड़ी
रुड़की।
पुलिस ने कार से चेकिंग के दौरान 40 पेटी देसी शराब बरामद की है। वहीं दूसरी ओर इकबालपुर के पास से एक व्यक्ति से 96 देसी शराब के पव्वे बरामद किए। थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने बताया कि गांव कोटवाल आलमपुर के पास मंगलवार देर शाम पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही थी। उसी समय गुरुकुल की ओर से एक सफेद रंग की कार आती दिखी। कार को रोककर तलाशी लेने पर उसमें से 40 पेटी देसी शराब की बरामद हुई। चालक सुमित निवासी गांव रहमतपुर थाना भोपा जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया। दूसरी ओर इकबालपुर के पास गांव सुनहेटी आलापुर निवासी मुन्ना को से एक बड़े थैले से 96 देसी शराब के साथ पकड़ा गया। पुलिस टीम में एसआई संजय पूनिया, एसआई हाकम सिंह, सीआईयू रुड़की प्रभारी जहांगीर अली, कांस्टेबल रणबीर सिंह, नूर अली और शिवकुमार शामिल रहे।

अवैध शराब के साथ पकड़ा
रुड़की।
पुलिस ने चेकिंग के दौरान दोनों गंग नहरों के बीच वाली पटरी से एक युवक को अवैध देसी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। एसओ मनोहर सिंह भंडारी ने बताया कि पंचायत चुनाव के मद्देनजरअभियान चलाया जा रहा है। एसआई नवीन नेगी पुलिस टीम के साथ दोनों गंग नहरों के बीच वाली पटरी पर चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान एक युवक रोका गया। उसके बैग से 102 पव्वे अवैध देसी शराब के बरामद हुए। पूछताछ में उसने अपना नाम प्रवीण उर्फ परविंदर निवासी फरीदपुर थाना फतेपुर जिला सहारनपुर बताया।

सटटा पर्ची सहित गिरफ्तार
रुड़की।
पुलिस ने एक व्यक्ति को सट्टा पर्ची, पेन, गत्ता, डायरी और नगदी के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपी के खिलाफ जुआ अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी मनोहर सिंह भंडारी ने बताया कि पुलिस टीम क्षेत्र में गश्त कर रही थी। तभी मुखबिर ने पुलिस को सूचना दी कि साबरी बाग में टंकी के पास एक व्यक्ति सट्टेबाजी कर रहा है। तलाशी लेने पर उसके पास से पेन, गत्ता, सट्टा पर्ची, नगदी आदि मिली। पूछताछ में उसने अपना नाम शमीम निवासी मुकर्रबपुर बताया।

पारिवारिक विवाद में आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज
रुड़की।
पारिवारिक विवाद के मामले में पुलिस ने दोनों पक्षों के आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। गंगनहर कोतवाली को पनियाला चंदापुर निवासी रामा और अरुण में पारिवारिक विवाद चला रहा है। दोनों में संपत्ति को लेकर पूर्व में विवाद हो चुका है। अरुण ने तहरीर देकर बताया कि रामा पक्ष के लोगों ने 9 सितंबर को परिजनों को घर में घुसकर पीटा। जिसमें पत्नी घायल हो गई। जिसका सरकारी अस्पताल में उपचार कराया गया। जबकि रामा ने तहरीर देकर बताया कि अरुण ने अपने परिवार के साथ मिलकर मारपीट कर परिजनों को घायल कर दिया। इंस्पेक्टर ऐश्वर्य पाल ने बताया कि अरुण, अरुण की पत्नी और रामा, नरोज, सोनू, विनेश, पूनम और सुरय्या निवासी पनियाला चंदापुर के खिलाफ बलवा, मारपीट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

आश्रम के कमरे से चोरों ने उड़ाई नगदी
ऋषिकेश।
ऋषिकेश एम्स के पास बाबा काली कमली आश्रम में किराये पर कमरा लेकर रुके दो लोगों के कमरों से संदिग्ध हालात में चोरी हो गई। मामले में पीड़ितों ने पुलिस से शिकायत की है। पुलिस ने मामले की जांच में शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक एम्स में अपनी बहन के इलाज के लिए आए केके जोशी ने बताया कि वह 13 सितंबर से यहां किराए पर कमरा लेकर रह रहे हैं। मंगलवार सुबह कमरे का ताला लगाकर एम्स चले गए। वापस लौटे तो कमरे के अंदर रखे बैग से डेढ़ लाख रुपये की रकम गायब मिली। वहीं दिल्ली निवासी आनंद ने बताया देर शाम उनके कमरे से भी 30 हजार की रकम गायब हुई। कोतवाली वरिष्ठ उपनिरीक्षक डीपी काला ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है।

Share this story