CRIME BULLETIN-1, हरिद्वार-रूडकी दिनभर की सारी बड़ी खबरें एक ही साथ, पढ़े सिर्फ देवपथ पर...
CRIME UTTARAKHAND : कलयुगी बेटे ने बुजुर्ग मां को बेरहमी से पीटा

20 लीटर कच्ची शराब सहित एक गिरफ्तार

हरिद्वार। पथरी क्षेत्र के दो गांवों में जहरीली शराब पीने से हुई कई लोगों की मौत के बाद अवैध रूप से कच्ची शराब तैयार करने व बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। ’नशा मुक्त उत्तराखंड’ अभियान के अंतर्गत तथा पंचायत चुनाव के दृष्टिगत अवैध कच्ची शराब के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के अंतर्गत थाना श्यामपुर की लालढांग पुलिस चौकी टीम ने मुखबिर से मिली सूचना पर कार्यवाही करते हुए गांव टाटवाला में छापामारी कर अवैध रूप कच्ची शराब बेच रहे ब्रह्मानंद पुत्र जीत सिंह को 20 लीटर अवैध कच्ची शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत मुकद्मा दर्ज किया गया है। पुलिस टीम में एसआई शशि भूषण जोशी, एसआई राखी रावत, कांस्टेबल रमेश व धर्मेन्द्र शामिल रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

चोरी की बाईक समेत दो गिरफ्तार किए

हरिद्वार। मोटर साईकिल चोरी के मामले में सिडकुल थाना पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से चोरी की गयी मोटरसाईकिल भी पुलिस ने बरामद की है। थाना प्रभारी प्रमोद कुमार उनियाल ने बताया कि विपिन कुमार निवासी बड़ी आन्नेकी हेत्तमपुर ने सिडकुल स्थित पेंटागन मॉल के बाहर से उसकी बाईक चोरी कर लिए जाने के संबंध में मुकद्मा दर्ज कराया था। मुकद्मा दर्ज करने के बाद जांच पड़ताल में जुटी पुलिस टीम ने चेकिंग के दौरान आन्नेकी पुलिया से पुष्पेंद्र पुत्र सतवीर सिंह निवासी ग्राम व पोस्ट सगन मछरिया थाना सैदगली असमोली जिला संभल यूपी व नेपाल सिंह पुत्र रविन्द्र ग्राम सरकथल पोस्ट फिना थाना शिवाला कला चांदपुर बिजनौर यूपी को चोरी की गयी बाईक सहित गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम में थाना प्रमोद कुमार उनियाल, एसआई बलवंत सिंह, कांस्टेबल विक्रम, नीरज व संदीप शामिल रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

पथरी शराब कांड में ग्राम प्रधान पद की प्रत्याशी का पति गिरफ्तार
गिरफ्तार आरोपी की पत्नि व भाई की तलाश में जुटी पुलिस
शराब बनाने के उपकरण व भट्टी बरामद

 

हरिद्वार। पथरी शराब कांड में चार लोगों की मौत के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए फूलगढ़ ग्राम प्रधान पद की उम्मीदवार के पति को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पत्नि व भाई फरार हो गए हैं। जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी की निशानदेही पर उसके भाई की दुकान के तहखाने से शराब बनाने में प्रयुक्त की जाने वाली भट्टी तथा अन्य उपकरण व खेत में प्लास्टिक की कैन में दबाकर रखी गयी 35 लीटर कच्ची शराब व उसके घर से ग्रामीणों को शराब देने में इस्तेमाल की गयी कोल्ड ड्रिंक की चार खाली बोतल भी बरामद की हैं। पथरी थाना परिसर में पत्रकारों को जानकारी देते हुए एसएसपी डा.योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि कच्ची शराब के सेवन से फूलगढ़ व शिवगढ़ के चार लोगों की मौत के बाद एसआई प्रीति नेगी ने मुकद्मा दर्ज कराया था। मुकद्मा दर्ज करने के बाद गठित पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर फूलगढ़ से प्रधान का चुनाव लड़ रही बबली के पति बिजेंद्र पुत्र सूरजभान को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी बिजेंद्र ने बताया कि पत्नि के चुनाव को लेकर उसने अपने भाई नरेश के साथ मिलकर छह माह पूर्व शराब तैयार कर ली थी और खेत में गढ्ढा खोदकर दबा दिया था। एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार बिजेद्र की पत्नि बबली व भाई नरेश फरार हो गए हैं। उन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एसएसपी ने बताया कि पथरी थाना पुलिस ने 1 अगस्त से अब तक 29 अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए कच्ची शराब बनाने की दस भट्टियां पकड़ी हैं। 6 शराब तस्करों के खिलाफ जिला बदर की कार्यवाही के लिए गुण्डा एक्ट की कार्यवाही अमल में लायी गयी है। जिसमें जिलाधिकारी द्वारा दो को जिला बदर भी किया जा चुका है। पुलिस टीम में लकसर कोतवाली प्रभारी यशपाल बिष्ट, निलंबित किए गए पथरी थानाध्यक्ष रविन्द्र कुमार, एसआई वीरेंद्र सिंह नेगी, एसआई देवेंद्र सिंह तोमर, एसआई मनोज ममगाई, महिला उपनिरीक्षक भागीरथी भण्डारी, कांस्टेबल सुखविन्दर, सुशील व राकेश नेगी तथा सीआईयू प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र सिंह बिष्ट, एसआई जहांगीर अली, हेड कांस्टेबल अहसान अली, कांस्टेबल नितिन व महिपाल शामिल रहे। प्रैसवार्ता के दौरान एसपी देहात परमेन्द्र डोबाल, एएसपी रेखा यादव समेत कई पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

मंगलौर पुलिस ने कच्ची देसी और अंग्रेजी शराब के साथ 17 पकड़े

रुड़की।  पथरी थाना क्षेत्र में शराब कांड के बाद हुई ग्रामीणों की मौत के बाद हरकत में आई मंगलौर पुलिस ने करीब डेढ़ दर्जन आरोपियों को कच्ची, देसी और अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गिरफ्तार सभी आरोपियों के कब्जे से भारी मात्रा में शराब बरामद की है। सभी आरोपियों के खिलाफ आबकारी अधिनियम में मामला दर्ज कर उनका चालान कर दिया। डीआईजी एवं एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत द्वारा शराब में लिप्त आरोपियों पर कार्रवाई करने के आदेश मिले हैं। जिसके बाद मंगलौर कोतवाली प्रभारी द्वारा 10 टीमों का गठन किया गया। पथरी थाना क्षेत्र में हुई जहरीली शराब से मौत के मामले से सबक लेते हुए मंगलौर पुलिस ने शनिवार की रातभर थाना क्षेत्र के विभिन्न गांव में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पुलिस ने 17 आरोपियों को कच्ची व देसी और अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि शक्ति सिंह निवासी नारसन कलां, विपिन कुमार निवासी मोहल्ला खालसा, बिरजू निवासी भगवानपुर चंदनपुर, अमन निवासी ग्राम थिथौला के कब्जे से पांच-पांच लीटर कच्ची शराब बरामद की गई है। इसके अलावा सोनू निवासी मुंडलाना के कब्जे से 100 अंग्रेजी शराब के पव्वे हरियाणा मार्का बरामद की गई है। जबकि मनमोहन त्यागी निवासी तांशीपुर के कब्जे से 98 देशी शराब के पव्वे, सोनू निवासी गाधारौना के कब्जे से 48, चतर सिंह, वीर सिंह, विजेंदर, पप्पूराम, जगपाल, मिंटू, दीपक, फोनी, संतलाल, जातिराम के कब्जे से देशी शराब के 48-48 पव्वे सभी आरोपियों के कब्जे से बरामद किए गए हैं। शनिवार की रात भर की दबिश में पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 25 लीटर कच्ची, 570 देशी शराब के पव्वे, 100 अंग्रेजी शराब के पव्वे बरामद किए हैं। पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी राजीव रौथाण, एसएसआई दीप कुमार, उप निरीक्षक मनोज गैरोला, यशवीर सिंह, पुष्पेंद्र सिंह, मनोज कठेत, उमेश कुमार, मनोज कुमार, चंद्र मोहन सिंह व कांस्टेबल अरुण चमोली, संजय, रविंद्र राणा, सोबन सिंह, अर्जुन व रोशन आदि शामिल रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

लंढौरा के 18 लाख के कैमरे शोपीस बने

रुड़की।  लाखों रुपये की लागत से लगे 48 कैमरे एक साल से शोपीस बने हुए हैं। कस्बावासियों का कहना है कि कई बार नगर पंचायत और जनप्रतिनिधियों से कैमरों को ठीक कराने की मांग की जा चुकी है। लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। लंढौरा नगर की ओर से करीब डेढ़ साल पूर्व मुख्य चौराहों पर 48 कैमरे लगाए गए थे। नगर पंचायत कार्यालय के साथ पुलिस चौकी में 52 इंच वाले एलईडी मॉनिटर लगाए गए थे। कैमरे लगाए जाने पर लोगों ने बड़ी खुशी का इजहार किया था। लोगों का कहना था कि मुख्य चौराहों पर कैमरे लगने से कई तरह के क्राइम पर अंकुश लग जाएगा। लेकिन कुछ दिन बाद ही एक कैमरे को छोड़ सभी कैमरों ने काम करना बंद कर दिया था। लोगों का कहना है कि चार माह पहले बंद मकान के ताले तोड़कर जेवर और नगदी चोरी कर ली गई थी। इसके बाद रेलवे स्टेशन मार्ग मर रेडीमेट की दुकान से कपड़े चोरी हो गए थे। 5 जून को रुड़की लक्सर मार्ग पर स्थित दुकान से सामान चोरी हो गया था। 27 अगस्त को रेलवे स्टेशन मार्ग पर ही इनवर्टर की दुकान से सामान चोरी कर लिया गया था। लोगों का कहना है कि रुड़की लक्सर मार्ग पर ही दो बार मोबाइल छीनने की घटना हो चुकी है। लोगों का कहना है कि कुछ लोग बच्च चोरों की झूठी अफवाह फैलाते रहते हैं। जिससे कुछ लोग अफवाह से दहशत में आ जाते हैं। ऐसे में कैमरे चालू होने से अफवाह फैलाने वालों पर भी अंकुश लगाया जा सकता है। लोगों का कहना है कि जनप्रतिनिधियों और नगर पंचायत अधिकारियों से कैमरे ठीक कराने की मांग की जा चुकी है। लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। नगर पंचायत ईओ सुरेंद्र कुमार का कहना है कि शीध्र ही नगर पंचायत अध्यक्ष से बात कर सभी कैमरों को चालू कराया जाएगा।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

कच्ची शराब के कारोबार में 19 गिरफ्तार

रुड़की।  पथरी में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद लक्सर पुलिस ने अवैध और कच्ची शराब के विरुद्ध ताबड़तोड़ छापेमारी की। कोतवाल यशपाल सिंह बिष्ट ने बताया कि रात भर चले अभियान में पुलिस की अलग, अलग टीमों ने रायपुर (खानपुर) के मलकीत पुत्र जीता सिंह और चिरमल सिंह पुत्र मोहकम सिंह, सीमली लक्सर से फूल सिंह पुत्र सुरजा, गिद्धावाली के राजेन्द्र पुत्र मदन पाल, फतवा निवासी संदीप पुत्र महावीर, बबलू पुत्र दिले राम और यंग पाल पुत्र कल्लू सिंह, अकौढा कलां के रजनीश पुत्र सुरेश, नीटू पुत्र जयपाल, मोनू पुत्र राजपाल तथा सतीश पुत्र कृपाराम, भुरनी के संदीप पुत्र जयपाल, सतपाल पुत्र किशन और नरेंद्र पुत्र सिमरु, दीपक उर्फ सोनू पुत्र सुलेद्र, मिंटू पुत्र नथलू निवासी दाबकी, मांगेराम पुत्र सुमेर चंद निवासी दाढेकी, राजेश पुत्र सेवाराम और ताराचंद्र पुत्र लाल सिंह निवासी भुरना को गिरफ्तार किया गया है। इनसे कुल 90 लीटर कच्ची शराब बरामद की गई है। गिरफ्तारी टीम में एसआई मनोज ममगाई, हरीश गैरोला, अमित नौटियाल और सिपाही राजेंद्र सिंह, मनोज डोभाल, अरविंद, वीरेंद्र, खजान सिंह, नारायण सिंह, मनदीप, संजीव राणा, पंकज, अजीत तोमर, अनिल वर्मा, मनोज और अनिल शामिल रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

मंगलौर पुलिस ने कच्ची देसी और अंग्रेजी शराब के साथ 17 पकड़े

रुड़की।  पथरी थाना क्षेत्र में शराब कांड के बाद हुई ग्रामीणों की मौत के बाद हरकत में आई मंगलौर पुलिस ने करीब डेढ़ दर्जन आरोपियों को कच्ची, देसी और अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गिरफ्तार सभी आरोपियों के कब्जे से भारी मात्रा में शराब बरामद की है। सभी आरोपियों के खिलाफ आबकारी अधिनियम में मामला दर्ज कर उनका चालान कर दिया। डीआईजी एवं एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत द्वारा शराब में लिप्त आरोपियों पर कार्रवाई करने के आदेश मिले हैं। जिसके बाद मंगलौर कोतवाली प्रभारी द्वारा 10 टीमों का गठन किया गया। पथरी थाना क्षेत्र में हुई जहरीली शराब से मौत के मामले से सबक लेते हुए मंगलौर पुलिस ने शनिवार की रातभर थाना क्षेत्र के विभिन्न गांव में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पुलिस ने 17 आरोपियों को कच्ची व देसी और अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि शक्ति सिंह निवासी नारसन कलां, विपिन कुमार निवासी मोहल्ला खालसा, बिरजू निवासी भगवानपुर चंदनपुर, अमन निवासी ग्राम थिथौला के कब्जे से पांच-पांच लीटर कच्ची शराब बरामद की गई है। इसके अलावा सोनू निवासी मुंडलाना के कब्जे से 100 अंग्रेजी शराब के पव्वे हरियाणा मार्का बरामद की गई है। जबकि मनमोहन त्यागी निवासी तांशीपुर के कब्जे से 98 देशी शराब के पव्वे, सोनू निवासी गाधारौना के कब्जे से 48, चतर सिंह, वीर सिंह, विजेंदर, पप्पूराम, जगपाल, मिंटू, दीपक, फोनी, संतलाल, जातिराम के कब्जे से देशी शराब के 48-48 पव्वे सभी आरोपियों के कब्जे से बरामद किए गए हैं। शनिवार की रात भर की दबिश में पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 25 लीटर कच्ची, 570 देशी शराब के पव्वे, 100 अंग्रेजी शराब के पव्वे बरामद किए हैं। पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी राजीव रौथाण, एसएसआई दीप कुमार, उप निरीक्षक मनोज गैरोला, यशवीर सिंह, पुष्पेंद्र सिंह, मनोज कठेत, उमेश कुमार, मनोज कुमार, चंद्र मोहन सिंह व कांस्टेबल अरुण चमोली, संजय, रविंद्र राणा, सोबन सिंह, अर्जुन व रोशन आदि शामिल रहे।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

बैंक परीक्षा के दौरान तीन मुन्नाभाई गिरफ्तार, एक फरार

रुड़की।  दूसरों की जगह परीक्षा देने आए तीन मुन्ना भाइयों को समय रहते पकड़ लिया गया। एक आरोपी फरार होने में कामयाब रहा। भगवानपुर के एक शिक्षण संस्थान में शनिवार शाम को बैंक की परीक्षा चल रही थी। इस बीच तीन युवक दूसरों की जगह परीक्षा देने के लिए आए थे, तीनों के कागजों की जांच की गई तो वे पकड़ में आए। पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। तीनों को कोर्ट में पेश किया जाएगा। किशनपुर जमालपुर गांव में स्थित आरसीपी कॉलेज में शनिवार शाम बैंक की परीक्षा आयोजित की गई थी। तीनों युवक दूसरों के स्थान पर फर्जी आधार कार्ड, प्रवेश पत्र लेकर परीक्षा देने पहुंचे जहां कागजों की जांच करने पर तीनों पकड़ में आ गए। शिक्षण संस्थान के पर्यवेक्षक रोहित कुमार ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने निशांत निवासी गुजरातियान ऊधमसिंह नगर, रवि निवासी रामपुर पट्टी खेकड़ा बागपत, योगेश निवासी बी-14 नई बस्ती कोतवाली बिजनौर को गिरफ्तार कर लिया। जबकि विशाल निवासी काशीपुर ऊधमसिंह नगर मौके से भागने में कामयाब हो गया। थाना प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि पर्यवेक्षक की तहरीर पर तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। फरार की धरपकड़ के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश की जा रही है।

000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000000

पत्नी ने कुल्हाड़ी से वार कर पति को उतारा मौत के घाट

हरिद्वार : हरिद्वार में रविवार को दोहरे हत्याकांड की खबर से सनसनी फैल गई। घटना दोपहर बाद बहादराबाद के मरगूबपुर गांव की है। पत्नी ने पति को कुल्हाड़ी से वार कर मौत के घाट उतार दिया। वहीं इसके बाद गुस्से में आकर उसके सौतेले बेटे ने मां की गला दबाकर हत्या कर दी। थाना प्रभारी नितेश शर्मा ने बताया कि इनामुलहक जमील और उसकी पत्नी सितारा के बीच झगड़ा हुआ था। सितारा शनिवार रात ही घर आई थी। दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ तो गुस्से में सितारा ने पति इनामुलहक पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। जब यह सब इनामुलहक के बेटे  तोहिद को पता लगा तो गुस्से में आकर उसने अपनी सौतेली मां सितारा का गला दबा दिया। जानकारी के अनुसार तोहिद खुद थाने पहुंचा और अपना जुर्म कबूल कर लिया। इसके बाद स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की। 

Share this story