कोरोना : उत्तराखंड में बिगड़ते जा रहे हालात, रोजाना तेजी से बढ़ रहा कोरोना, जानिए ताजा अपडेट !

देहरादून : उत्तराखंड में 24 घंटे में 2951 नए संक्रमित मिले हैं। वहीं तीन मरीजों की मौत हुई है। कुल मृतकों की संख्या 7433 हो गई है। संक्रमण दर 11.29 प्रतिशत हो गई है। जबकि 1335 संक्रमित ठीक हुए हैं। 8018 सक्रिय मरीजों का इलाज चल रहा है। कुल संक्रमितों की संख्या 357219 हो गई है।

बुधवार को प्रदेश में एक दिन में 2951 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। राज्य में कुल 334700 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। रिकवरी दर 93.70 प्रतिशत दर्ज की गई। जबकि देहरादून जिले में सबसे अधिक 1361 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा अल्मोड़ा में 85, बागेश्वर में 34, चमोली में 27, चंपावत में 119, हरिद्वार में 379, नैनीताल में 424, पौड़ी में 131, पिथौरागढ़ में 70, रुद्रप्रयाग में 09, टिहरी में 63, ऊधमसिंह नगर में 217 और उत्तरकाशी में 01 नया मामला आया है।

खिर्सू में 18 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

उत्तराखंड के पौड़ी जिले के विकास खंढ खिर्सू में बुधवार की सुबह 18 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। कोविड अस्पताल के पीआरओ अरुण बडोनी ने इन मामलों की पुष्टि की है। वहीं कोटद्वार में एक कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत हो गई है।

कोटद्वार के लोकमणिपुर निवासी कोरोना संक्रमण 71 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई है। पांच दिन पहले कोटद्वार बेस अस्पताल में सांस लेने की दिक्कत को लेकर उन्हें भर्ती किय गया था। कोरोना नियमों के अनुसार मुक्ति धाम में उनका अंतिम संस्कार किया गया। बेस अस्पताल के कोविड नोडल चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुनील शर्मा ने बुजुर्ग की कोरोना संक्रमण से मौत की पुष्टि की है।

22 संक्रमित मिले, नगर निगम कार्यालय कराया सैनिटाइज

कोटद्वार नगर निगम के आयुक्त सहित 22 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने सभी संक्रमितों को होम आइसोलेट कर उनका कोरोना उपचार शुरू कर दिया है। वहीं नगर निगम कार्यालय को सैनिटाइज करवाया गया है। सीएमओ पौड़ी डॉ. प्रवीन कुमार ने बताया कि हरिसिंहपुर क्षेत्र से एक 15 साल के किशोर समेत कई लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। सभी संक्रमितों को होम आइसोलेट कर घर पर दवाइयां उपलब्ध करा दी हैं।

साथ ही परिजनों और सीधे संपर्क में आए लोगों की सूची तैयार की जा रही है। वहीं आयुक्त के संक्रमित होने की सूचना मिलते ही कार्यालय बंद कर दिया गया। इसके बाद पहले पूरे कार्यालय को सैनिटाइज किया गया। उसके बाद सभी कर्मचारियों को आपस में दूरी बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए गए।

हरिद्वार : तीन माह बाद अस्पतालों में भर्ती होने लगे मरीज

तीन महीने बाद अस्पतालों में भी कोरोना का उपचार कराने वाले मरीज भर्ती होने लगे हैं। मेला अस्पताल और कोविड केयर सेंटरों में कुल 74 मरीजों का उपचार चल रहा है। जनवरी का नया साल शुरू होते ही कोरोना संक्रमण के मामलों में उछाल आना शुरू हो गया था।

अब आए दिन दो सौ से तीन मरीज रोजाना सामने आ रहे हैं। मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद कोरोना से गंभीर मरीज भी सामने आने लगे हैं। जबकि इससे पहले सितंबर में सभी अस्पताल, कोविड स्वास्थ्य केंद और कोविड केयर सेंटर खाली हो गए थे। बीच-बीच में कभी-कभार एक आध मरीज भर्ती होता था। उसे भी उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया जाता था।

अधिकृत अस्पतालों में 10, अधिकृत कोविड स्वास्थ्य केंद्रों में 15 और कोविड केयर सेंटरों में भी 49 मरीज भर्ती हो चुके हैं। सीएमओ डॉ. कुमार खगेंद्र सिंह का कहना है कि मरीजों को भर्ती कराने के लिए बेड पर्याप्त मात्रा में तैयार कर लिए गए हैं। हालांकि, अभी अधिकांश मरीज होम आईसोलेशन में ही रहकर उपचार करा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.