कोरोना रिपोर्ट आई नहीं और ड्यूटी पर बुला दिया

देहरादून। कोरोनेशन अस्पताल के दो डाक्टरों समेत जो नौ स्टाफ संक्रमित पाए गये हैं। उनको लेकर सीएमओ कार्यालय के अधिकारी ने 18 जून की शाम को ही ग्रुप में उनके नेगेटिव आने की जानकारी दे दी। जिस पर अस्पताल की प्रमुख अधीक्षक ने उन्हें 19 तारीख को चिट्ठी जारी कर 20 जून से अस्पताल आने के लिए कह दिया। लेकिन 19 की शाम को उनके समेत 17 स्टाफ की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर हड़कंप मच गया। तत्काल प्रमुख अधीक्षक ने अपना आदेश बदला और उन्हें फोन पर जानकारी देकर आइसोलेशन में रहने की जानकारी दी। बताया गया है कि 18 की शाम को रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही कई डाक्टर एवं स्टाफ निश्चिंत हो गये थे एवं आइसोलेशन से बाहर आ गये थे। जो कई लोगों के संपर्क में भी आए। प्रमुख अधीक्षक डा. भागीरथी जंगपांगी ने बताया कि व्हाट्सअप पर एक अफसर के रिपोर्ट नेगेटिव का मैसेज देने पर ही चिट्ठी बनाई गई थी। लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें दोबारा चिट्ठी भेज दी गई। कोई भी अस्पताल नहीं आया था, उन्हें मैने खुद पर्सनली फोन कर जानकारी दी। उधर, सीएमओ डा. बीसी रमोला का कहना है कि कुछ कंफ्यूजन होने की स्थिति में ऐसा हुआ है। लेकिन सभी स्टाफ अपने घरों में आइसोलेशन में थे। घबराने की जरूरत नहीं है। इस तरह के मामलों को तूल न देकर डाक्टरों, स्टाफ एवं आम लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिए आगे आना होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.