कोरोना : उत्तराखंड में कोरोना डेल्टा प्लस वैरिएंट से एक बार फिर दहशत, लगातार मिल रहे मामले, जानिए सोमवार का ताजा कोरोना अपडेट

देहरादून : उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में कोरोना के 38 नए संक्रमित मरीज आए हैं। जबकि एक मरीज की मौत हुई है। वहीं 16 मरीजों ने कोरोना से जंग जीती है। अब प्रदेश में 356 एक्टिव केस हैं।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, सोमवार को 13392 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, चमोली में दो, देहरादून में 11, हरिद्वार में दो, नैनीताल में तीन, पौड़ी गढ़वाल में 18, पिथौरागढ़ में दो संक्रमित मरीज मिले हैं।

अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंह नगर और उत्तरकाशी में कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया है। दूसरी ओर, सोमवार को एचएनबी बेस हॉस्पिटल श्रीनगर में कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत हुई। प्रदेश में अब तक 7381 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

38 हजार से ज्यादा को दी वैक्सीन

सोमवार को प्रदेश में 38 हजार 795 लोगों को कोरोना से बचाव की वैक्सीन दी गई। अब तक प्रदेश में 64 लाख 13 हजार 205 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है, जबकि 20 लाख पांच हजार 858 को दोनों डोज दी जा चुकी हैं। 18 से 44 आयु वर्ग में अब तक तीन लाख 35 हजार 344 को दोनों डोज दी जा चुकी हैं।

पौड़ी में मिला डेल्टा प्लस वेरियंट का पहला मरीज

कोटद्वार में कोरोना के डेल्टा प्लस एवाई-12 वेरियंट का पहला मामला सामने आया है। स्वास्थ्य विभाग ने मरीज को होम क्वारंटीन कर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। विभाग की टीम लगातार मरीज की निगरानी कर रही है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि मरीज के संपर्क में आए परिजनों और अन्य लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। वहीं जिले के प्रवेश मार्गों पर टेस्ट भी किए जा रहे हैं। पौड़ी में कोरोना के कुल 15 नए मामले सामने आए हैं। इनमें कल्जीखाल ब्लॉक के बांजखाल-हंसुड़ी व गुरेथखाल के 13 संक्रमित शामिल हैं।

सीएमओ पौड़ी डॉ. मनोज शर्मा ने बताया कि कोरोना के डेल्टा प्लस वेरियंट के मरीज की ट्रेवल हिस्ट्री की जानकारी ली जा रही है। साथ ही मरीज के संपर्क में आने वाले परिजनों व अन्य लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले के कल्ज्जीखाल ब्लॉक स्थित बांजखाल-हंसुड़ी में 8 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

गुरेथखाल में एक ही परिवार के पांच सदस्य कोरोना पॉजिटिव आए थे। समस्त 13 संक्रमितों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन किया गया है। उन्होंने बताया कि विभाग ने स्थानीय प्रशासन से क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाने की संस्तुति की है। एसडीएम सदर एसएस राणा ने बताया कि बांजखाल-हंसुड़ी और गुरेथखाल को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर राजस्व पुलिस को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं।

मरीज के गांव छोड़कर जाने की जानकारी नहीं

कल्जीखाल ब्लॉक के बांजखाल से एक कोरोना संक्रमित व एक संभावित संक्रमित मरीज उपचार के लिए देहरादून जाने चले गए हैं। लेकिन स्वास्थ्य विभाग को मामले की जानकारी नहीं है। सीएमओ डा. मनोज शर्मा ने बताया कि मामले की जानकारी लेकर जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग देहरादून को सूचित किया जाएगा।

कुमाऊं में तीन मरीजों में मिला डेल्टा प्लस का सब वेरिएंट एवाइ.2

डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि के लिए जुलाई में नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) को भेजे गए 15 सैंपल में से तीन में डेल्टा प्लस का सब वेरिएंट एवाई .2 मिला है। इसमें दो गरमपानी और एक धारी का मरीज है। हालांकि, डेल्टा प्लस वेरिएंट किसी में नहीं मिला है। पॉजिटिव आए मरीजों के परिजन और संपर्क में आए लोगों के सैंपल भी लिए थे, लेकिन सभी की रिपोर्ट निगेटिव थी।

सीएमओ डॉ. भागीरथी जोशी ने बताया कि डेल्टा प्लस वेरिएंट की जानकारी करने के लिए जून में सैंपल भेजे गए थे और राहत की खबर आई थी। किसी में डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि नहीं हुई। अब जिन तीन मरीजों में एवाई.2 की पुष्टि हुई है, उनमें कोरोना के हल्के लक्षण थे। मरीज अब पूरी तरह से स्वस्थ हैं। तीनों के सैंपल फिर जांच के लिए भेजे जाएंगे। उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस के छात्र-छात्राओं के सैंपल भी वेरिएंट की पुष्टि के लिए एनसीडीसी भेजे जाएंगे।

नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए बंद

मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस छात्र-छात्राओं के कोविड पॉजिटिव आने के बाद नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए स्थगित कर दी गई हैं। नर्सिंग की छात्र-छात्राओं की भी कोविड जांच कराई जाएगी। 24 अगस्त को राजकीय मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस प्रथम वर्ष की छात्राएं कोविड पॉजिटिव आई थीं। इसके बाद छात्र-छात्राओं के सैंपल कराए गए और अभी तक 19 छात्र-छात्राएं कोविड पॉजिटिव निकल चुके हैं। एक महिला अटेंडेंट भी कोविड पॉजिटिव आई है।

सोमवार को 150 लोगों के सैंपल कोविड जांच के लिए भेजे गए। राजकीय मेडिकल कॉलेज प्रबंधन को रिपोर्ट का इंतजार है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अरुण जोशी ने बताया कि नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए स्थगित कर दी गई हैं। नर्सिंग की लगभग ढाई सौ से अधिक छात्र-छात्राओं के सैंपल भी जांच के लिए भेजे जाएंगे। डॉ. जोशी ने बताया कि कर्मियों के सैंपल भी जांच के लिए भेजे जाएंगे। साथ ही डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि के लिए एनसीडीसी को सैंपल भेजे जा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.