मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पूरी तरह स्वस्थ

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पूरी तरह स्वस्थ हैं। उनकी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आई है। सूत्रों के अनुसार बृहस्पतिवार सुबह ही उनका सैंपल लिया गया था, रात को जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। बता दें कि कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मुख्यमंत्री सेल्फ क्वारंटीन में चले गए थे। बृहस्पतिवार को ही तीन दिन का सेल्फ क्वारंटीन खत्म होने के बाद उन्होंने पूरी तरह अपना कामकाज संभाल लिया है। उत्तराखंड के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज समेत परिवार के पांच और सदस्यों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। महाराज के अलावा पॉजिटिव मिले चार अन्य सदस्यों में छोटा बेटा सुयश, बड़ी बहू आराध्य, छोटी बहू मोहिनी और पांच साल का पोता श्रेयांश शामिल थे।

महाराज ने नहीं लिया सबक

महाराज के गनर, चालक, माली सहित आवास पर काम करने वाले 17 कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित मिले थे। इन सभी को एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया, जहां महाराज की पत्नी पूर्व मंत्री अमृता रावत का भी इलाज चल रहा है। वह शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थीं।

इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महाराज और उनके परिवार के सभी सदस्यों के साथ ही आवास में काम करने वाले कर्मचारियों के सैंपल जांच के लिए भेजे थे। कुल 41 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। इनमें से कुल 22 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी।

सतपाल महाराज समेत उनके परिवार और स्टाफ के 23 सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने सर्कुलर रोड, डालनवाला स्थित उनके आवास के आसपास का क्षेत्र सील कर दिया गया। क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया।

कुछ दिन पहले दिल्ली से कुछ लोग महाराज के सर्कुलर रोड स्थित आवास पर आए थे। इस पर केंद्रीय गाइडलाइन के अनुसार उनके आवास को जिला प्रशासन ने 26 मई को सील किया था। इसके बाद महाराज ने अपना ऑफिस सरकारी आवास में शिफ्ट कर लिया था, लेकिन खुद होम क्वारंटीन नहीं हुए। अगर वह होम क्वारंटीन हो गए होते तो बैठकों में भाग नहीं ले पाते और पैदा हुए हालात को टाला जा सकता था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.