डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन में लगी चेन्नई एमएस डब्ल्यू कंपनी पर 50 हजार रुपये का जुर्माना

देहरादून। कारगी चौक स्थित कूड़ा ट्रांसफर स्टेशन में लगे कचरे के ढेर से बच्चों की ओर से मास्क एकत्रित करने पर नगर निगम प्रशासन ने डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन में लगी चेन्नई एमएस डब्ल्यू कंपनी पर 50 हजार रुपये जुर्माना लगाया।

घर-घर से कचरे के साथ आ रहे मास्क को अलग-अलग करना चाहिए था लेकिन कंपनी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। उसके बाद निगम प्रशासन ने कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की।

कंपनी को सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी

कोरोना संक्रमण को देखते हुए उन्होंने नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय को इसकी रिपोर्ट दी। जिस पर नगर आयुक्त ने कोविड-19 की एसओपी और महामारी एक्ट के तहत कंपनी पर 50 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया। नगर आयुक्त ने जल्द व्यवस्था दुरुस्त न करने पर कंपनी को सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है।

बेसमेंट में पानी मिलने पर दो का चालान 

नगर निगम की टीम ने शुक्रवार को हरिद्वार बाईपास स्थित सुखायू अस्पताल और उसके पास मौजूद निर्माणाधीन कॉम्प्लेक्स का पांच-पांच हजार रुपये का चालान काटा। सफाई निरीक्षक राजवीर सिंह चौहान टीम के साथ हरिद्वार बाईपास पहुंचे। यहां निरीक्षण के दौरान उन्हें अस्पताल और पास निर्माणाधीन कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट में पानी एकत्र मिला।

डेंगू मच्छरों के पनपने की संभावना को देखते हुए उन्होंने दोनों का पांच-पांच हजार रुपये का चालान काटा। नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने लोगों से अपील की है कि घर या कॉमर्शियल भवनों के बेसमेंट, गमले, पुराने टायर, टीन के डिब्बे आदि में पानी एकत्र न होने दें। अगर कहीं मिलता है तो जुर्माना वसूला जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.