अब बेचने से पहले बताना होगा कि समान किस देश का

नई दिल्ली। केंद्र ने मंगलवार को आदेश दिया है कि गवर्नमेंट ई-मार्केट पर प्लेस के जरिए विक्रेता को कोई प्रोडक्ट बेचना है, तो उसे यह जानकारी देनी ही होगी कि यह सामान किस देश का है। न्यूज एजेंसी ने सरकारी अधिकारी के हवाले से यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के तहत केंद्र ने यह फैसला लिया है।

यह फैसला सीधे तौर पर भारत और चीन के बीच जारी तनाव से नहीं जुड़ा है, पर प्रोडक्ट की ओरिजिन कंट्री के बारे में जानकारी मांगने को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, केंद्र ने पिछले दिनों चीनी प्रोडक्ट का आयात कम करने के लिए कई आदेश जारी किए हैं।

“घरेलू मटेरियल का कितना इस्तेमाल हुआ, यह भी बताना होगा’

पोर्टल के सीईओ तल्लीन कुमार ने बताया- ई-मार्केट प्लेस पर बेचे जाने वाले प्रोडक्ट में लोकल कंटेंट यानी घरेलू मटेरियल का कितना इस्तेमाल हुआ है, इसकी भी जानकारी देनी होगी। सभी नए प्रोडक्ट के रजिस्ट्रेशन के वक्त यह जानकारी देना अब जरूरी होगा। यह आदेश आने से पहले जिन विक्रेताओं ने अपने प्रोडक्ट अपलोड कर दिए हैं, उन्हें लगातार यह जानकारियां अपडेट करनी होंगी। अगर वह ऐसा नहीं कर पाते हैं तो उनके प्रोडक्ट हटा दिए जाएंगे।

इसके पहले रविवार को केंद्र सरकार ने इंडस्ट्री से सस्ते और खराब क्वॉलिटी वाले चीनी प्रोडक्ट्स के बारे में जानकारी मांगी थी ताकि इनके आयात पर रोक लगाई जा सके और घरेलू उत्पादन बढ़ाया जा सके। न्यूज एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया था कि इंडस्ट्री जल्द ही सुझाव तैयार कर केंद्र को भेजेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.