बैंक ऑफ बड़ौदा ने फिटनेस आइकॉन मिलिंद सोमण के साथ ’ग्रीन राइड – एक पहल स्वच्छ हवा की ओर’ को हरी झंडी दिखाई

देहरादून : बैंक ऑफ बड़ौदा ने आज सुपर-मॉडल और फिटनेस उत्साही मिलिंद सोमण के साथ ’ग्रीन राइड – एक पहल स्वच्छ हवा की ओर’ शुरू करने की घोषणा की है, जिसे गेल इंडिया का समर्थन प्राप्त है। इस पहल के तहत मिलिंद सोमण साइकिल और एक इको-फ्रेंडली इलेक्ट्रिक वाहन की सवारी करते हुए गुजरात, राजस्थान और हरियाणा पार करके 10 दिन की लंबी यात्रा के बाद दिल्ली पहुंचेंगे।

ग्रीन राइड का आयोजन स्वच्छ हवा के महत्व को लेकर जागरूकता फैलाने तथा लोगों को परिवहन के टिकाऊ साधनों को अपनाने की दिशा में प्रोत्साहित करने के लिए किया जा रहा है। ग्रीन राइड को 3 दिसंबर के दिन हरी झंडी दिखाकर मुंबई से रवाना किया जाएगा, जिसका समापन 13 दिसंबर, 2021 को दिल्ली में होगा। रास्ते में मिलिंद सोमण गोधरा, बड़ौदा, उदयपुर और जयपुर में स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाओं का दौरा करेंगे।

सोमण अपने इस दौरे में बैंक के कर्मचारियों तथा अपने प्रशंसकों के साथ बातचीत करेंगे। इस बातचीत के दौरान वह चलते-फिरते की गई अपनी तमाम यात्रा बुकिंग और खरीदारी की जरूरतें पूरी करने में अपने अनुभव के आधार पर बॉब वर्ल्ड ऐप की उपयोगिता बताएंगे। इस दौरान वह टिकाऊ जीवन के महत्व पर भी प्रकाश डालेंगे, जिसमें सभी जीवित प्राणियों के लिए स्वच्छ हवा की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु ऊर्जा बचाने वाले परिवहन के उपयोग जैसे कदम उठाना शामिल हैं।

इस सहभागिता के बारे में बैंक ऑफ बड़ौदा के एमडी एवं सीईओ श्री संजीव चड्ढा ने कहा, “टिकाऊपन किसी भी मजबूत राष्ट्र की कुंजी होती है और बैंक ऑफ बड़ौदा टिकाऊ जीवन व पर्यावरण की सुरक्षा के विचार का पुरजोर समर्थन करता है। भारत के सबसे लोकप्रिय फिटनेस उत्साही मिलिंद सोमण की अगुवाई में ’ग्रीन राइड- एक पहल स्वच्छ हवा की ओर’ के साथ हमारा जुड़ाव युवा भारतीयों के बीच जागरूकता फैलाने तथा उनसे सार्थक कदम उठाने का आवाहन करने की एक कोशिश है, जिसका व्यापक सामाजिक प्रभाव पड़ेगा।“

मिलिंद सोमण का कहना है, “ग्रीन राइड परिवहन के सेहतमंद तरीकों को बढ़ावा देने की एक कोशिश है। यह हवा का रहमोकरम है कि हम सांस ले पाते हैं, जो हमारे जीवन का हर जिंदा क्षण है। मैं सबको इस बारे में और ज्यादा जागरूक व सचेत करने की कोशिश कर रहा हूं कि हम अपनी गतिविधियों से हवा को जिस तरह प्रदूषित कर रहे हैं, उसके क्या दुष्प्रभाव हो सकते हैं। मुझे उम्मीद है कि यह पहल लोगों को सोचने के लिए मजबूर कर देगी कि कोई छोटी-सी दूरी तय करने के लिए अपनी कार की चाबियां उठाने की जरूरत नहीं है, या बिजली गुल होने के दौरान जेनसेट चालू करने की क्या जरूरत है, या जश्न में पटाखे फोड़ने से पहले वे सोच-विचार करना शुरू कर दें।

हम सभी को तरक्की और डेवलपमेंट चाहिए, लेकिन आने वाली पीढ़ियों को उस खूबसूरत दुनिया से वंचित करने की कीमत पर नहीं चाहिए, जिस दुनिया से हम परिचित हैं। आइए हम अपनी अनगिनत तकनीकी उपलब्धियों का जश्न मनाएं। आइए हम तरक्की और डेवलपमेंट का जश्न मनाएं। लेकिन सबसे पहले हम उस स्वच्छ, अद्भुत हवा का जश्न मनाएं, जिसमें हम सांस लेते हैं, और इसे संरक्षित करने का हरसंभव प्रयास करें।“

इग्जीक्यूटिव डाइरेक्टर (मार्केटिंग- शिपिंग एंड इंटरनेशनल एलएनजी, गेल) ए. कविराज ने बतायाः “एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट के रूप में गेल (इंडिया) लिमिटेड- नेचुरल गैस, रिन्यूएबल्स, ग्रीन हाइड्रोजन जैसे स्वच्छ ईंधन तथा अन्य स्वच्छ ऊर्जाओं के माध्यम से भारत के ऊर्जा परिदृश्य को बदलने में लगातार महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है, ताकि आने वाला कल हरित और स्वच्छ बन सके।“

वीबा एंड अर्थमेड ऑर्गेनिक्स के फाउंडर एवं एमडी विराज बहल ने कहा, “अर्थमेड ऑर्गेनिक्स में एक स्वच्छ और टिकाऊ वातावरण बनाने की दिशा में काम करना हमारे लिए सहज व स्वाभाविक बात है, जो जीने का एक ऑर्गेनिक तरीका है। हम ऐसे उत्पाद डिजाइन करने की ईमानदार कोशिश करते हैं, जो भरोसेमंद हैं, जिम्मेदारी से हासिल किए गए हैं और जो प्रामाणिक रूप से ऑर्गेनिक हैं। इसीलिए हमें मिलिंद सोमण जैसे फिटनेस आइकॉन के साथ जुड़ने पर गर्व है, जो अपनी लाइफस्टायल और भोजन की पसंद के माध्यम से टिकाऊपन का प्रतिनिधित्व करते हैं। ग्रीन राइड के साथ हम एक स्वच्छ जीवन की दिशा में अपने नेक कार्य को आगे बढ़ाना चाहते हैं।“

लाइफलॉन्ग ऑनलाइन रिटेल प्राय. लिमि. के को-फाउंडर भारत कालिया ने कहा, “मिलिंद सभी को प्रेरित करते रहते हैं! उनके साथ मिलकर लाइफलॉन्ग ऑनलाइन एक ऐसा आंदोलन खड़ा करने की कोशिश कर रही है, जो फिटनेस को मेनस्ट्रीम बनाता है। यह मल्टी-सिटी साइक्लिंग ट्रेल सहज ही पूरे आंदोलन के अनुरूप है। आलस्य से लड़ना सही दिशा में आगे बढ़ने और पहले से ज्यादा फिट होने की प्रेरणा हासिल करने का नाम है।“

वीआरएस फूड्स लिमिटेड के मैनेजिंग डाइरेक्टर श्री राजेंद्र सिंह ने खुलासा किया, “मिलिंद कई वर्षों से घी मिली खिचड़ी खा कर ऊर्जा प्राप्त कर रहे है। पारस घी दिल को स्वस्थ रखता है तथा हड्डियों व मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। मिलिंद की सेहत और फिटनेस इसी की देन है। हम धैर्य, सामर्थ्य और स्टैमिना प्रदान करने वाली इस यात्रा में उनके भागीदार बनकर बेहद खुश हैं।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.