कहीं आप कोरोना से संक्रमित तो नही…? पहचाने इन लक्षणों से

डिजिटल डेस्क। देश- दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। भारत में कोरोना वायरस के मामले तीन लाख का आंकड़ा पार कर चुके हैं। कोरोना वायरस के लक्षणों को आसानी से पहचाना जा सकता है, इसके लक्षण किसी सामन्य फ्लू की तरह ही हैं। कोरोना के लक्षण सामान्य प्लू की तरह ही होने की वजह से कई शोधों में ये भी दावा किया जा रहा है कि हो सकता है किसी व्यक्ति को इसका संक्रमण पहले ही हो चुका हो और उसका शरीर इससे लड़ने में सक्षम रहा हो। आज हम आपको उन संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे आप जान सकते हैं कि आपको कोरोना वायरस से संक्रमण हुआ है या नहीं…

सर्दी-जुकाम
दिसंबर 2019 से कोरोना वायरस के मामले सामने आने शुरू हुए। हो सकता है इसके बाद जब आपको सर्दी-जुकाम हुआ हो वो कोरोना वायरस का संक्रमण ही हो।
बुखार, सर दर्द
कोरोना वायरस में शरीर का तापमान काफी बढ़ जाता है। ऐसी संभावनाएं हैं कि दिसंबर के बाद जब आपको बुखार या सर दर्द हुआ हो वो कोरोना वायरस का संक्रमण ही हो। शुरुआती दौर में कोरोना वायरस इतना खतरनाक नहीं था।
हर चीज बेस्वाद लगना
अक्सर बुखार या वायरल फीवर में मुंह में स्वाद नहीं आता है। सर्दी-जुकाम में भी नाक बंद हो जाती है और हम किसी भी चीज की खूशबू का अंदाजा नहीं लगा पाते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा हुआ था तो हो सकता है आपको कोरोना वायरस से संक्रमण हो चुका हो और आपका इम्यून सिस्टम इस वायरस से लड़ने में सक्षम रहा हो।
सांस लेने में तकलीफ होना
सांस लेने में तकलीफ होना कोरोना वायरस का प्रमुख लक्षण है। कोरोना वायरस के अधिकतर मरीजों में ये समस्या देखने को मिली है। कोरोना वायरस का लंग्स में बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है, जिस वजह से सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इससे पहले अगर आपको भी सांस लेने में दिक्कत हुई हो तो हो सकता है ये कोरोना वायरस के कारण ही हुई हो।
थकान
कोरोना वायरस का शरीर पर गहरा प्रभाव पड़ता है। कोरोना वायरस से संक्रमण होने पर बहुत अधिक थकान महसूस होने लगती है। अममून इन छोटी- छोटी बातों पर व्यक्ति ध्यान नहीं देता है। हम ये सोचते हैं कि थकान अधिक काम करने की वजह से हो रही है। परंतु ये संभव है कि आपकी थकान का कारण कोरोना वायरस का संक्रमण रहा हो।
गुलाबी आंखें
हाल में हुए एक शोध में इस बात का दावा किया गया है कि कोरोना वायरस का संक्रमण आंखों के द्वारा भी फैल सकता है। एक अन्य शोध के अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण होने पर आंखें गुलाबी हो जाती हैं। अगर आपकी आंखों में भी गुलाबीपन आया हो तो हो सकता है ऐसा कोरोना वायरस के कारण हुआ है।
पेट संबंधित समस्याएं
अब कोरोना वायरस के नए मामलों में पेट संबंधित लक्षण भी देखने को मिल रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार अब कोरोना वायरस डाइजेस्टिव सिस्टम पर भी अटैक कर रहा है। हो सकता है आपकी पेट संबंधित समस्याओं का कारण कोरोना वायरस का संक्रमण रहा हो।
मांसपेशियों में दर्द
एक शोध के अनुसार कोरोना वायरस शरीर को कई तरहों से नुकसान पहुंचाता है। कोरोना वायरस के संक्रमण से मांसपेशियों में दर्द हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कोरोना वायरस के संक्रमण शरीर में सही तरीके से खुन का प्रवाह नहीं होने देता है। अगर आपके भी मांसपेशियों में दर्द रहा हो और फिर ठीक हो गया हो तो ये कोरोना वायरस का संक्रमण भी हो सकता है।
स्किन संबंधित समस्याएं
कई शोधों में इस बात का दावा किया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से स्किन संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। ये लक्षण बहुत कम कोरोना मरीजों में ही देखने को मिले हैं। अगर आपको भी स्किन संबंधित समस्याएं हुई हों तो हो सकता है ये कोरोना वायरस की वजह से ही हुई हों।
अचानक ठंड लगना
अचानक बहुत ज्यादा ठंड लगना कोरोना वायरस का लक्षण है। अममून बुखार या सर्दी-जुकाम में ठंड लगती है, पर अगर आपको बिना किसी के कारण के ठंड लग रही हो तो ये कोरोना वायरस की वजह से हो सकता है। बहुत से कोरोना के मरीजों में देखा गया है कि उन्हें बिना किसी के कारण के बहुत ज्यादा ठंड लग रही थी। अगर आपके साथ भी ऐसा हुआ तो हो सकता ये कोरोना वायरस के कारण ही हुआ हो।
पांवों में सूजन
बहुत कम मरीजों में ही पांवों में सूजन जैसी समस्या देखने को मिली है, पर इसे नजरअदांज करना खतरे से खाली नहीं है। एक रिपोर्ट के अनुसार ये समस्या बच्चों में अधिक देखने को मिली है। कोरोना वायरस शरीर में खून के प्रवाह को प्रभावित करता है, जिससे पांवों में सूजन जैसी समस्याएं होने लगती हैं। अगर आपको भी ऐसी समस्या रही है तो हो सकता है वो कोरोना वायरस का संक्रमण हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.