विस परिसर में हुआ योग श्रृंखला का 31वां भव्य कार्यक्रम आयोजित

योग आचार्य विपिन जोशी ने विधायकों एवं कर्मचारियों को योग के गुर सिखाए

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा में 21 जून 2018 (अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस) से अनवरत जारी योग श्रृंखला का 31वां भव्य कार्यक्रम विधानसभा परिसर में आयोजित किया गया। इस अवसर पर पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल द्वारा की गयी।

कार्यक्रम के दौरान कई विधायकों द्वारा योग अभ्यास भी किया गया। इस अवसर पर योग आचार्य विपिन जोशी ने विधायकों एवं कर्मचारियों को योग के गुर सिखाए वही कार्यक्रम के दौरान आचार्य बालकृष्ण एवं विधानसभा अध्यक्ष ने भी योगाभ्यास किया। इस अवसर पर विधानसभा के उन सभी कर्मियों को सम्मानित किया जो लगातार प्रत्येक माह की 21 तारीख़ को आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे।

जिसमें संजय रावत, हेम गुरानी, हिमांशु त्रिपाठी, किशोर पांडे, शिवम छाबड़ा, कपिल धोनी, विवेक चमोला, दीपचंद्र , पुष्कर रौतेला सहित कई अन्य कर्मियों को प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विधानसभा के उप सूचना अधिकारी भारत चौहान को अभी तक के योग के 31 कार्यक्रमों को अनवरत संचालित करने पर विशेष तौर पर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए योग एवं आयुर्वेद की दवाओं और नुस्खे का सेवन लाभकारी सिद्ध हुआ है। आयुर्वेद में तमाम ऐसी दवाइयां मौजूद हैं जिनसे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। बाल कृष्ण ने कहा कि विधानसभा के कर्मचारी अब कर्मयोगी हो गए हैं।वे अब कर्म के साथ योग भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि संकल्प लेना कठिन नहीं होता है बल्कि उसका निर्वहन करना आवश्यक होता है। उन्होंने कहा कि योग गुरु रामदेव जी ने जहाँ दुनिया में योग को फैलाने का कार्य किया वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने योग को मान्यता दिलायी। बालकृष्ण ने कहा कि योग की यात्रा देवभूमि उत्तराखंड के गंगोत्री से शुरू हुई और वहीं से प्रण लिया गया था कि योग एवं आयुर्वेद को विश्व मैं फैलाना है। उन्होंने कहा कि योग से बढक़र कोई इम्यूनिटी बूस्टर नहीं है।

इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कहा कि विधान सभा अध्यक्ष रहते हुए विधान सभा में कई नवीन पहल की गयी।तंबाकू गुटका आदि हानिकारक पदार्थों के सेवन से होने वाली हानियों के संबंध में जागरूकता कार्यक्रम चलाएं, वहीं विधान सभा परिवार के साथ मिलकर योग कार्यक्रमों की श्रृंखला चला रहे हैं।विधानसभा परिसर के सभी कार्यालय कक्षों में बाबासाहेब अंबेडकर जी के चित्र लगवाये गए।

उत्तराखंड विधानसभा भवन में सभी माननीय मंत्री गण, अधिकारियों आदि सभी के नाम की पट्टिकाएँ हिंदी के साथ साथ पहली बार देववाणी संस्कृत में भी लिखी गई।विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि हमें प्रतिदिन योग एवं व्यायाम करना चाहिए एवं स्वस्थ रहने के लिए हमें चिंता मुक्त एवं हमेशा खुश रहना चाहिये। स्वास्थ्य ही जीवन का अमूल्य धन है, इसलिए स्वास्थ्य के बारे में समाज के हर वर्ग व व्यक्ति का जागरूक होना जरूरी है।

स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का वास रहता है। इस अवसर पर विधानसभा के उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, विधायक हरबंस कपूर, विधायक सहदेव पुंडीर, देशराज कर्णवाल, धन सिंह नेगी, मुकेश कोहली, रितु खंडूरी भूषण, मीना गंगोला, राजकुमार ठुकराल, राम सिंह केड़ा, महेंद्र भट्ट, सुरेन्द्र नेगी, स्वामी आनंद देव, विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल सहित कई अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.