सभी सैंपलों की जांच रिपोर्ट आने पर प्रदेश में बढ़ सकता है संक्रमित मरीजों का आंकड़ा

देहरादून। कोरोना संक्रमण के संदिग्ध मरीजों के सैंपलों की जांच इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोलियम (आईआईपी) में शुरू हो गई है। वहीं, पूरे प्रदेश में सैंपलों की वेटिंग सात हजार तक पहुंच गई है। इन सभी सैंपलों की जांच रिपोर्ट आने पर प्रदेश में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ सकता है। प्रदेश में अब तक 27 हजार से अधिक सैंपलों की जांच गई है। जिसमें एक हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

बाहरी राज्यों से आने वाले लोग संक्रमित मिलने से सरकार ने सैंपलिंग बढ़ाई है। लेकिन प्रदेश में चार सरकारी लैब होने के कारण सैंपलों की वेटिंग बढ़ गई है। अब आईआईपी में भी सैंपलों की जांच शुरू हो गई है। हालांकि शुरूआत में कम सैंपलों की जांच हो रही है। लेकिन आने वाले एक-दो दिनों में यहां सैंपलों की जांच बढ़ जाएगी।

शासकीय प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि प्रदेश में सैंपलिंग में तेजी आने के साथ ही बड़ी मात्रा में सैंपलों की वेटिंग बढ़ गई है। आईआईपी देहरादून में भी सैंपलों की जांच के लिए लैब शुरू हो गई है। प्रदेश सरकार की ओर से सैंपल जांच की सुविधा के लिए केंद्र सरकार से बात हुई है।

वहीं, सरकार चार से पांच राज्यों में निजी लैब से सैंपल जांच के रेट का आकलन कर रही है। दो-तीन दिन के भीतर निजी लैब में टेस्टिंग पर निर्णय लिया जाएगा। आने वाले समय में सैंपलिंग बढ़ाना और वेटिंग संख्या को कम करने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.