दून अस्पताल में कैथ लैब बनाए जाने की प्रक्रिया सुस्त, कोरोनेशन में लाइसेंस न मिलने से अटका संचालन

देहरादून : दून अस्पताल में कैथ लैब बनाए जाने की प्रक्रिया सुस्त गति से चल रही है। कई सालों से कैथ लैब स्थापित किए जाने के दावे किए जाते हैं, लेकिन अमल नहीं हुआ। इस बार फिर प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना ने छह माह में लैब स्थापित करने का दावा किया है।

कहा कि पुरानी बिल्डिंग में आईसीयू के बराबर में कैथ लैब स्थापित की जाएगी। डाक्टरों एवं स्टाफ की भर्ती की जाएगी। इसके लिए छह माह का लक्ष्य रखा गया है। खुद मशीनें खरीदने या किसी कंपनी से शेयर बेस पर मशीनें लगवाने का प्लान किया जा रहा है।

कोरोनेशन में लाइसेंस न मिलने से अटका संचालन

कोरोनेशन अस्पताल (जिला अस्पताल) में हार्ट यूनिट का संचालन एआरबी मुंबई से संचालन का लाइसेंस नहीं मिलने से यहां पर सर्जरी का काम अटक गया है। मेडिट्रीना अस्पताल के सीओओ प्रवीण तिवारी ने बताया कि फोर्टिस ने एनओसी दे दी है।

अन्य पेपर वर्क भी पूरा कर लिया गया है। कैथ लैब संचालन के लिए एआरबी मुंबई से लाइसेंस की प्रक्रिया में समय लग रहा है। एक से 15 मई तक सर्जरी एवं एंजीयोग्राफी शुरू की जाएगी। तब तक ओपीडी सुविधाएं दी जा रही है।

RNS/DHNN

Leave A Reply

Your email address will not be published.