कोरोना का असर।। उत्तराखंड में बढ़े गरीब-अंत्योदय परिवार, फ्री राशन लेने वालों की संख्या में भी इजाफा

देहरादून। कोरोनाकाल में उत्तराखंड में गरीब और अंत्योदय राशन कार्ड वाले परिवारों की संख्या बढ़ी है। कोरोना का सबसे ज्यादा असर कुमाऊं के नैनीताल और गढ़वाल के हरिद्वार जिले में देखने को मिला है। दो साल में नैनीताल में जहां 22146 सफेद राशन कार्डधारक बढ़े हैं, वहीं हरिद्वार में यह आंकड़ा 25149 रहा है।

इसके अलावा गरीबी रेखा से नीचे वाले अंत्योदय परिवार में भी नैनीताल जिले में 2337 बढ़े हैं। सफेद और अंत्योदय दोनों राशन कार्ड गरीबी रेखा से नीचे की श्रेणी में आते हैं। राज्य में राशन कार्डधारकों का आंकड़ा देखा जाए तो वर्ष 2019 में 1139170 प्राथमिक परिवार (सफेद राशनकार्ड धारक) थे, जो वर्ष 2022 में बढ़कर 1227654 हो गए हैं।

इसके अलावा गरीबी रेखी से नीचे 182379 अंत्योदय परिवार (लाल राशनकार्ड धारक) थे, जो अब बढ़कर 184173 हो गए हैं। पूर्ति विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार बीते दो सालों में राज्य में 88484 प्राथमिक परिवार और 1794 अंत्योदय परिवार बढ़े हैं।

RNS/DHNN

Leave A Reply

Your email address will not be published.