कस्तूरबा गांधी जयंती।। कन्या गुरुकुल में जयंती पर कस्तूरबा गांधी को किया याद

देहरादून। कस्तूरबा गांधी की जयंती पर कन्या गुरुकुल के प्राचीन भारतीय इतिहास,संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग की ओर से एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसका विषय आओ जानें कस्तूरबा को था।

इस कार्यक्रम में हिंद स्वराज मंच के बीजू नेगी ने कस्तूरबा गांधी के व्यक्तित्व के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वे केवल अपने बच्चों की मां नही थी वरन वो सेवाश्रम के हर व्यक्ति को अपनी ममता से सरोबर रखती थी।

इसमें कोई शंका नही रही कि वो अपने पति की छोटी सी छोटी ज़रूरतों का धयान तो रखती साथ ही आश्रमवासियों, अन्य लोगों मेहमानों का भी समान रूप से पूरा ध्यान रखती थी। परिसर की समन्वय प्रो रेणु शुक्ला ने उनके व्यक्तित्व को प्रेरणा दायक बताया।

उन्होंने सभी को उनसे प्रेरणा लेकर स्त्री चेतना को आगे बढ़ाने के लिए कहा। उन्होंने कस्तूरबा गांधी के सीखने की ललक की बात करते हुए कहा कि वो नई चीज़े सीखने के लिए फिर वो चाहे बैडमिंटन हो या फिर कैरम वो उत्साहपूर्वक सीखती थी।

समाजसेवी दीपा ने कहा कि बापू अगर सत्य थे तो वे अहिंसा की प्रतिमूर्ति थीं। इस दौरान प्रो. हेमलता,प्रो. निपुर,डा. हेमन ,डा. नीना,डा. बबिता,डा. ममता, डा. रेखा,डा. अंजुलता, कविता, दीपिका , डा. निशा,डा. प्राची और डा. सुनीति आदि उपस्थिति रहीं।

RNS/DHNN

Leave A Reply

Your email address will not be published.