उत्तराखंड।। बड़ी जीत हुई हासिल, कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग का शूटर देहरादून से हुआ गिरफ्तार

देहरादून : उत्तराखंड एसटीएफ  और पंजाब पुलिस ने एक संयुक्त ऑपरेशन चला कर   कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के शूटर को  गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।  

बताते चलें कि 5 अप्रैल 2022 को हरवीर सिंह पुत्र दलजीत सिंह निवासी गुण कलान, पटियाला, पंजाब द्वारा अपने छह साथियों के साथ मिलकर  तरकेन्द्र सिंह बिंद्रा नाम के एक लड़के की गोली मारकर हत्या कर दी थी जिस पर थाना अर्बन स्टेट, जनपद पटियाला ,पंजाब में मु. अ. सं.- 38/22 धारा 302 ,34 आईपीसी व 25 /27 आर्म्स एक्ट बनाम हरवीर आदि पंजीकृत किया गया।

घटना के बाद से ही सभी अभियुक्त गण फरार चल रहे थे जिनकी तलाश हेतू एसटीएफ पंजाब द्वारा 14 अप्रैल 2022 की शाम को  एसटीएफ देहरादून  से संपर्क किया एसटीएफ देहरादून द्वारा मामले की गंभीरता को समझते हुए अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया।

विगत तीन-चार दिन में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की तलाश हेतु सभी होटलों एवं हॉस्टल के बारे में जानकारी की गई तो जानकारी प्राप्त हुई की 2 दिन पूर्व ही मांडूवाला, प्रेम नगर में एक लड़का बाहर से आकर रुका है।

इस पर  एसटीएफ देहरादून एवं एसटीएफ पंजाब द्वारा मांडू वाला में दबिश दी गई तो उपरोक्त घटना में शामिल मुख्य आरोपी हरविंदर को गिरफ्तार किया गया जिसने पूछने पर बताया कि उसकी जुगनू निवासी पटियाला से रंजिश चल रही थी।

05 अप्रैल 2022 जुगनू ने  अपने अन्य साथियों को बुला लिया तो अभियुक्त ने भी  अपने 6-7 साथियों को बुला लिया और उन लोगों पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई थी जिसमें तरकेन्द्र सिंह बिंद्रा को गोली लग गई और उसकी मृत्यु हो गई। यह मुठभेड़ कुछ देर तक चलती रही।

यह  गैंगवार था जहाँ वर्चस्व के लिए गैंग लड़ रहे थे। घटना के बाद  सभी लोग चंडीगढ़ आ गए जहा से सभी लोग अलग-अलग निकल गए और बस से देहरादून आए और देहरादून से फिर एकांत जगह की तलाश करते हुए मांडू वाला में आकर रुक गए। अभियुक्त हरवीर गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गैंग का सदस्य है जो कि वर्तमान में तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद है हरवीर को एसटीएफ पंजाब के  सुपुर्द किया गया।

गौरतलब है कि जनवरी में पंजाब के पठानकोट बम ब्लास्ट के आतंकी साजिशकर्ता को संश्रय (शरण) देने के सम्बन्ध में ऊधम सिंह नगर के 04 आरोपियों को उत्तराखण्ड एसटीएफ ने किया गिरफ्तार। साथ ही इस साल जनवरी में पाकिस्तान बॉर्डर से 40 किलोमीटर डोगरा फरीदकोट (पंजाब) में उत्तराखंड एसटीएफ के द्वारा अरबों के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रोहित कुमार को  गिरफ्तार किया था।

विगत वर्ष 2021 में पंजाब प्रांत के वांछित गैंगस्टर संदीप सिंह उर्फ भला शेखू फतेह सिंह उर्फ युवराज अमनदीप सिंह और जगवंत सिंह के द्वारा जनपद उधम सिंह नगर के काशीपुर थाना क्षेत्र में शरण ली गई थी जिस पर पंजाब पुलिस व उत्तराखंड एसटीएफ द्वारा पुलिस मुठभेड़ मैं संयुक्त कार्रवाई कर चारों को काशीपुर स्थित एक फार्महाउस से ऑटोमैटिक हथियारों के साथ गिरफ्तार किया गया। इन सभी मामलों में पंजाब एसटीएफ और उत्तराखंड एसटीएफ ने एक दूसरे का सहयोग और साथ दिया।

प्रभारी एसटीएफ ने बताया कि उत्तराखंड स्पेशल टास्क फोर्स संगठित अपराध पर लगातार नजर रखे हुए है। हम लगातार पड़ोसी और अन्य राज्य पुलिस के संपर्क में हैं क्योंकि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए हमारा संयुक्त अभियान जारी है। हमने उत्तराखंड में पंजाब पुलिस के साथ संयुक्त अभियान चलाया था जिसमें गैंगस्टर , संगठित हत्याकांड वांछित अपराधियों को गिरफ्तार किया गया था, जबकि हमारी टीम को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पंजाब में भी समर्थन मिला था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.