आंधी, तूफान ने मचाया कोहराम।। बड़े-बड़े पेड़ हुए धराशाई; कई घरों, होटलों की छतें तूफान में उडी

उत्तरकाशी। यमुना घाटी क्षेत्र में बीते शनिवार देर शाम को आये भीषण आंधी और तूफान ने कोहराम मचा दिया, आंधी, तूफान इतना भयानक था, जिससे कि बड़े-बड़े पेड़ धराशाई हो गए और कई घरों, होटलों की छतें तूफान में उड़ गई। तूफान से गिरे पेड़ों ने कहीं सड़कों के किनारे खड़े वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया, तो कहीं लोगों के घरों को तहस-नहस कर दिया।

उत्तरकाशी जिले की बड़कोट तहसील अंतर्गत शनिवार देर शाम आये आंधी तूफ़ान के घाव रविवार को सुबह जगह-जगह दिखाई दिए। तूफान से यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर दोबाटा के पास खड़ी एक बस पर भारी भरकम पेड़ गिर गया जिससे बस पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी।

गनीमत रही कि बस में उस दौरान कोई सवार नहीं था। साथ ही किसानों के खेतों में लगे पोली हॉउस भी आंधी तूफ़ान से उखड़ गए और अंदर उगाई गयी बेमौसमी सब्जी की पैदावार भी नष्ट हो गयी। तूफ़ान इतना तेज था कि कई लोगो के घरों, रसोइयों और होटल के ऊपर टीन की छतें उखड़ कर आंधी तूफान में उड़ गई।

स्थानीय लोगों के अनुसार आंधी, तूफान इतना भयानक था कि आज तक उन्होंने इस तरह का आंधी तूफान उन्होंने नहीं देखा। वही स्थानीय प्रशासन द्वारा तहसील अंतर्गत आंधी तूफान से हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

वहीं दूसरी ओर पुरोला के विधायक दुर्गेश्वर लाल ने शनिबार को आये भूकम्प व तूफान से क्षेत्र में हुए नुकसान को लेकर जिलाधिकारी को पत्र लिखकर नुकसान से राहत हेतु क्षेत्र का आंकलन करवा शीघ्र कार्यवाही के निर्देश दिए।

RNS/DHNN

Leave A Reply

Your email address will not be published.